भस्मासुरों के भंवरजाल में फंसा सहारा परिवार

[caption id="attachment_18357" align="alignleft" width="77"]सुनील पांडेयसुनील पांडेय[/caption]मैं सहारा परिवार का सदस्य रहा हूं। मई 2003 में जुड़ा। मेहनत-ईमानदारी से काम करते हुए कई जिम्मेदारियां संभाली। क्षेत्रीय चैनल बिहार झारखंड के शुरुआती टीम में बतौर इनपुट हेड काम संभाला। तब बिहार-झारखंड में इस चैनल का क्रेज था। विश्वसनीयता, गंभीरता और खबरों में सबसे पहले का पर्याय बन चुका था सहारा समय बिहार-झारखंड।

श्रीपाल शक्तावत, सुनील पांडेय और आलोक कुमार की नई पारी

श्रीपाल शक्तावत ने सीएनईबी के साथ नई पारी की शुरुआत की है. उन्हें राजस्थान का ब्यूरो चीफ बनाया गया है. श्रीपाल इससे पहले वीओआई में राजस्थान हेड थे लेकिन काफी समय पहले उन्होंने इस्तीफा दे दिया था. सहारा के साथ भी काम कर चुके श्रीपाल अपनी ईमानदारी और पत्रकारिता के प्रति प्रतिबद्धता के लिए जाने जाते हैं.