मनोज मनु आपने हमें बेवकूफ क्‍यों बनाया!

[caption id="attachment_19312" align="alignleft" width="94"]उमेश उमेश[/caption]यशवंतजी, सितम्‍बर-अक्‍टूबर 2010 में सहारा एमपी-सीजी ने सागर, मध्‍य प्रदेश में रिपोर्टर नियुक्‍त करने के लिए चैनल में विज्ञापन निकाला, सागर से 22 लोगों ने रिज्‍यूम भेजे, जिसमें से दो लोगों को दिल्‍ली बुलाया. एक मुझे और एक प्रिंट के पत्रकार को. दोनों का इंटरव्यू चैनल हेड मनोज मनु ने लिया, लेकिन आज तक उन्‍होंने हम दोनों में से किसी को नहीं लिया. कई बार फोन पर सम्‍पर्क किया तो जवाब‍ मिलता कि मामला ठंडे बस्‍ते में चला गया है.