दिनेश दीनू पीपुल्स समाचार के साथ नहीं रहे

इंदौर एडिशन की लांचिंग 19 सितंबर को : सेलरी कम किए जाने की चर्चाओं को पीपुल्स ग्रुप ने अफवाह करार दिया : पीपुल्स समाचार से कई खबरें हैं लेकिन सबसे बड़ी खबर दिनेश दीनू के जाने की है। इंदौर में संस्करण लांच होने से पहले ही यहां के संपादक दिनेश दीनू ने इस्तीफा दे दिया है। सूत्रों का कहना है कि उनका तबादला भोपाल किया गया था लेकिन उन्होंने संस्थान छोड़ने का फैसला ले लिया। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि उन्हें कार्यमुक्त कर दिया गया है। दिनेश दीनू अब कहां जा रहे हैं, यह पता नहीं चल पाया है। पीपुल्स समाचार के लांच होने वाले इंदौर एडिशन का काम अब विकास मिश्रा देखने लगे हैं जो दैनिक भास्कर, जबलपुर से इस्तीफा देकर आए हैं। याद हो कि भड़ास4मीडिया ने पहले ही इंदौर एडिशन में तीन-तीन संपादक होने की खबर प्रकाशित की थी। एक अन्य जानकारी के मुताबिक इंदौर संस्करण की लांचिंग 19 सितंबर को किए जाने की तैयारी चल रही है। इस मौके पर एक बड़ा समारोह आयोजित किया जाएगा। मुंबई से कई महत्वपूर्ण अतिथि इस समारोह में शामिल होने के लिए बुलाए जा रहे हैं।

पीपुल्स समाचार, इंदौर में तीन-तीन संपादक

दिनेश दीनू, विकास मिश्रा के बाद अब पीयूष भट्ट ने ज्वाइन किया : राज एक्सप्रेस, जबलपुर के एक्जीक्यूटिव एडिटर पीयूष भट्ट ने पाला बदल लिया है। उन्होंने पीपुल्स समाचार, इंदौर में न्यूज एडिटर के रूप में ज्वाइन किया है। इस तरह पीपुल्स समाचार, इंदौर में अब तीन-तीन संपादक हो गए हैं। दिनेश दीनू सबसे वरिष्ठ संपादक माने जाते हैं। विकास मिश्रा दैनिक भास्कर, जबलपुर के कार्यकारी संपादक थे।

विकास मिश्रा ने भास्कर छोड़ा, पीपुल्स के हुए

अनुज, दानिश, प्रवीण, सुनील, ईश्वर की नई पारी : दैनिक भास्कर, जबलपुर के कार्यकारी संपादक विकास मिश्रा ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने 16 जुलाई को प्रबंधन को त्यागपत्र भेज दिया। पता चला है कि उन्होंने नई पारी पीपुल्स ग्रुप के अखबार पीपुल्स समाचार के नए लांच होने वाले इंदौर एडिशन के साथ शुरू की है। विकास ने ज्वाइंट एडिटर के पद पर ज्वाइन किया है। विकास नई दुनिया, दैनिक जागरण, राज एक्सप्रेस, पाटलीपुत्र टाइम्स जैसे अखबारों में काम कर चुके हैं और कई किताबें भी लिख चुके हैं। इंदौर विकास का घर है, इसलिए उन्होंने घर वापसी के मौके को छोड़ना उचित नहीं समझा। भास्कर से इस्तीफे के पीछे वजह पूछे जाने पर विकास मिश्रा ने बी4एम को बताया कि पीपुल्स ग्रुप बड़ा ग्रुप है और पीपुल्स समाचार मध्य प्रदेश का इमर्जिंग अखबार है। नया अखबार लांच कर स्थापित करना चुनौती भरा काम होता है, इसलिए उन्होंने भास्कर छोड़ा। इस्तीफे के पीछे और कोई वजह नहीं है। इसी बहाने मुझे अपने गृह नगर जाने का मौका मिल रहा है, यह भी एक कारण है।