रेडियो जर्नलिस्‍ट की गोली मारकर हत्‍या

 

मोगादिशू (सोमालिया)। अल कायदा से संबंध रखने वाले शेहबाब विद्रोहियों पर मजाकिया अंदाज में निशाना साधने वाले मशहूर रेडियो पत्रकार, कामेडियन और म्यूजिशियन की हत्या कर दी गई है। सोमालिया की राजधानी मोगादिशू में मशहूर कम्पोजर वारसेम शिरे अवाले पर सोमवार देर रात दो बंदूकधारियों ने हमला किया। इसके बाद उन्हें वहीं वाबेरी जिले के ही अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। 
 
मंगलवार को स्थानीय पुलिस ने यह जानकारी दी। अवाले पूर्व में सोमालिया नैशनल आर्मी के बैंड में भी काम कर चुके थे। इसके बाद वह रेडियो कुलमिए के साथ बतौर ड्रामा प्रड्यूसर और कमीडियन के रूप में काम कर रहे थे। पुलिस चीफ अहमद हसन मालीन ने बताया कि बंदूकधारियों ने उनकी हत्या कर दी है और मामले की जांच की जा रही है। मालीन ने कहा कि हम न्याय तक पहुंचेंगे। 
 
रेडियो कुलमिए में कमीडियन अवाले के साथी रह चुके अब्दी मोहम्मद हाजी ने बताया कि दो बंदूकधारियों ने अवाले पर उनके घर के पास ही पिस्टल से हमला किया। वारसेम शिरे अवाले की मौत को सोमालिया में मीडिया कर्मियों पर हो रहे हमले की कड़ी से ही जोड़कर देखा जा रहा है। बीते अगस्त महीने में ही रेडियो कुल्मिए में काम करने वाले कॉमेडियन अब्दी जेलानी मलाक मार्शल की भी हत्या कर दी गई थी। 
 
युद्ध से प्रभावित सोमालिया में साल 2009 में 9 पत्रकारों की हत्या की गई थी जबकि इस साल 17 रिपोर्टर्स मारे जा चुके हैं। प्रेस अधिकारों के लिए काम करने वाले संस्था ने साल 2012 को ' डेडलिएस्ट ईयर ' कहा है। पत्रकारों की कुछ मौत के पीछे शेहबाब विद्रोहियों का हाथ होना बताया जा रहा है लेकिन ऐसा भी माना जा रहा है कि देश में शक्ति संचालन के विभिन्न गुटों का भी हाथ इसमें हो सकता है। (एजेंसी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *