हृषिकेश सुलभ ने प्रेस फोटोग्राफर का कॉलर पकड़ा, धक्‍का-मुक्‍की की

प्रसिद्ध व वरिष्ठ रंगकर्मी हृषिकेश सुलभ ने कल शाम पटना के कालिदास रंगालय में नाटक के दौरान फोटो खींच रहे एक अखबार के फोटोग्राफर को कॉलर पकड़ कर धक्का-मुक्की की और धमकी भी दी कि ''जाओ बता दो अपने संपादक को''। मौका था स्व. शशिभूषण वर्मा की स्मृति में चल रहे नाट्योस्तव का। ''जनपथ किसका'' नामक नाटक चल रहा था।

आयोजकों की ओर से मीडिया के पत्रकार और फोटोग्राफर कवरेज के लिए आमंत्रित थे। चल रहे नाटक के दौरान फोटोग्राफर कुछ दृश्यों की तस्वीरें लेने लगा। शायद इससे हृषिकेश सुलभ को नाटक के रसास्वादन में विघ्न पड़ने लगा और उन्होंने उठकर उस फोटोग्राफर का कॉलर पकड़ा। फिर उससे धक्का-मुक्की करते रहे और धमकी देते रहे कि जाओ अपने संपादक को बता देना।

फोटोग्राफर ने अखबार को अभी नया-नया ज्वाइन किया है। उसे मिल जाते हैं गिनती के चंद रुपए। अन्य फोटोग्राफर जहां बाइक से चलते हैं वहीं वह फोटोग्राफर साइकिल से चलता है। नाटक के दौरान ही उसकी साइकिल भी चोरी हो गई और उसके पास इतने भी रुपए नहीं कि साइकिल ले सके। लिहाजा अखबार के अन्य फोटोग्राफर चंदा करके उसके लिए साइकिल खरीदने की सोच रहे हैं। खैर हृषिकेश सुलभ के नाटक रसास्वादन में कोई विघ्न नहीं आना चाहिए।


Related News- Hrishikesh Sulabh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *