आगरा में उपजा जिलाध्‍यक्ष एके ताऊ ने पत्रकार को पीटा!

: बेसिक शिक्षा कार्यालय के कर्मचारियों भी मारपीट में शामिल : पुलिस ने दर्ज किया एनसीआर : आगरा में जिला बेसिक शिक्षा कार्यालय में पूछताछ करने गए एक पत्रकार से कार्यालय के कर्मचारी एवं उपजा के जिलाध्‍यक्ष ने मारपीट की. अग्रभारत समाचार पत्र के पत्रकार बृजेश कुमार गौतम ने आरोप लगाया कि 15 फरवरी को वे जिला बेसिक शिक्षा कार्यालय में कुछ पूछताछ करने गए थे. कार्यालय में तैनात लिपिक अरुण कुमार, अरुण कुमार शर्मा, कप्‍यूटर आपरेटर अमित कुमार और उपजा के जिलाध्‍यक्ष अशोक कुमार अग्निहोत्री उर्फ एके ताऊ ने उनसे मारपीट की.

उन्‍होंने इसकी लिखित शिकायत शाहगंज थाने में की, लेकिन पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने के बजाय एनसीआर दर्ज कर लिया. बृजेश कुमार के अनुसार- वो बेसिक कार्यालय में पैसे लेकर ट्रांसफर किए जाने के मामले में पूछताछ करने गए थे. वे इस संदर्भ में जानकारी मांग रहे थे कि वहां तैनात बाबू अरुण कुमार ने कहा कि कितने बड़े पत्रकार हो, अभी तुमसे बड़े पत्रकार से बात कराता हूं. अरुण कुमार ने फोन मिलाकर अशोक कुमार उर्फ एके ताऊ को दे दिया. एके ताऊ ने कहा- मुझे नहीं जानते हो, मैंने कहा नहीं मैं आपके बारे में नहीं जानता हूं. इस पर उन्‍होंने मुझे भद्दी-भद्दी गालियां दीं. अशोक कुमार बेसिक कार्यालय में क्‍लर्क भी हैं और दैनिक आज के लिए काम करते हैं.

बृजेश ने कहा कि इसके बाद अशोक कुमार बेसिक कार्यालय पहुंच आए. इसके बाद चारों लोगों ने मिलकर मेरे साथ मारपीट की. मुझे जाति सूचक शब्‍द कहे, गालियां दीं, जान से मारने की धमकी दी. इसकी लिखित शिकायत मैंने शाहगंज पुलिस से की तो पुलिस ने एफआईआर दर्ज करने के बजाय दबाव में मामला एनसीआर में दर्ज कर लिया. अब पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है. मेरे पर भी दोनों तरफ से समझौता करने का दबाव बनाया जा रहा है. धमकी दी जा रही है कि अगर तुमने समझौता नहीं किया तो बेसिक कार्यालय के लोग तुम्‍हारे खिलाफ मारपीट और तमाम आरोप लगाकर हड़ताल पर चले जाएंगे. बृजेश ने बताया कि दबाव के चलते मेरे मामले की सुनवाई नहीं हो रही है. मैंने दूसरी बार अप्‍लीकेशन दिया है कि मामले को मारपीट और हरिजन उत्‍पीड़न एक्‍ट में मामला दर्ज किया जाए, परन्‍तु पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है. उन्‍होंने बताया कि एके ताऊ की धमकियों से मैं आतंकित हूं.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “आगरा में उपजा जिलाध्‍यक्ष एके ताऊ ने पत्रकार को पीटा!

  • मदन कुमार तिवारी says:

    कोर्ट में कंप्लेन दाखिल करो । वैसे मौका मिले तो साले ए के ताउ को पटक कर मारो । समसे अच्छा रास्ता यही रहेगा ।

    Reply
  • Shiv Kumar Gupta says:

    Mokaparsti Thik Nahi Hoti. Sale Shabdh Lekhne Bale Ke Pass Kya Aor Koi Sabdh Nahi Hai, Khudh Kis Mooh Se Comments Ka Hakdar Manenge, Senior- Junior Ka Samman Bana Rahe Is Main Sabhi Ki Bhalai Hai.

    Reply
  • matter kya hai, ye to dono party hi janati hogi, lekin mamla agar patrakaro ka hai to dono hi taraf se sanyam barta jana chahiye.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.