घोटालों का पर्दाफाश करने वाला पत्रकार ढाई हजार का इनामी बदमाश घोषित

: उत्तराखंड में उत्पीड़न की इंतहा : उमेश के बहाने परिजनों को प्रताड़ना : उमेश की मां ने निशंक को हिजड़ा कहा : अजब समय है. भ्रष्टाचारी मलाई खा रहे हैं और भ्रष्टाचार से लड़ने वाले इनामी बदमाश घोषित किए जा रहे हैं. भट्ठा पारसौल में किसान आंदोलन को लीड करने वाले तेवतिया को माया सरकार ने पचास हजार का इनामी बदमाश घोषित कर दिया.

इसकी पूरे देश में थू थू हुई. पर आजकल सत्ता की ताकत मिलने के बाद नेता पगला जाते हैं, सो, यूपी सरकार अपने फैसले से पीछे नहीं हटी. जिसे शख्स को उसकी हिम्मत, संगठन क्षमता और बहादुरी के लिए सम्मानित किया जाना चाहिए, उसे इनामी बदमाश घोषित कर दिया गया. यही परिघटना उत्तराखंड में दुहराई गई है. निशंक सरकार के घपलों-घोटालों को उजागर करने वाले और सरकार के कारनामों की समुचित जांच के लिए न्यायालयों के दरवाजे खटखटाने वाले पत्रकार व एनएनआई के संस्थापक उमेश कुमार को अब आफिसियली अपराधी घोषित कर दिया गया है. उन पर ढाई हजार रुपये का इनाम घोषित हो चुका है. देहरादून के एसएसपी ने उमेश पर इनाम की घोषणा कल की.

इसके पहले उमेश के मकान-निर्माण आदि तोड़े जा चुके हैं, संपत्ति कुर्क की जा चुकी है, फर्जी मुकदमें दर्ज किए जा चुके हैं, गिरफ्तारी के लिए उनकी गाड़ी को पुलिस वाले टक्कर मार चुके हैं, नोएडा स्थित मकान पर उत्तराखंड पुलिस असफल धावा बोल चुकी है… और अब उमेश की गिरफ्तारी को नाक का सवाल बना चुकी उत्तराखंड सरकार ने उमेश के सिर पर ढाई हजार रुपये का इनाम रख दिया है. उत्तराखंड के गैर-भाजपाई नताओं ने उमेश के लगातार उत्पीड़न की निंदा की है. उत्तराखंड विधानसभा में विपक्ष के नेता हरक सिंह रावत ने कल प्रेस कॉंफ़्रेंस कर कहा कि प्रदेश की बीजेपी सरकार तानाशाह बनकर पत्रकारों पर ज़ुल्म कर रही है. प्रदेश कांग्रेस अब उसे सहन नहीं करेगी. हरक सिंह ने कहा कि अगर पत्रकार उमेश के खुलासों से निशंक को परेशानी है, तो वो उमेश से आमने-सामने लड़़े, परिवार को परेशान करना मुख्यमंत्री की बुजदिली साबित करता है. हरक ने कहा कि प्रदेश सरकार के घोटालों का खुलासा करने वाले उमेश के उत्पीड़न की हम निंदा करते हैं और उमेश का हर स्तर पर सहयोग किया जाएगा.

हरक ने सवाल उठाया कि प्रदेश की बीजेपी सरकार का सच देवभूमि के जनता के सामने रखने से पहले उमेश अच्छे पत्रकार थे, तो फिर अचानक से अपराधी कैसे बन गये. सबसे पहले उमेश ने ही 56 हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट घोटालों की खबर चलाई थी. उसके बाद ही उत्तराखंड की बीजेपी शासित सरकार और मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल की तरफ से प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से उमेश को धमकियां आने लगीं. हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के बाद स्टर्डिया घोटाला, काशीपुर गैस एनर्जी घोटाला और नैनीताल में जनहित याचिका देने के बाद तो उमेश कुमार के परिवार पर भी सरकारी शिकंजा करने लगा है. उनकी पत्नी पर झूठे मुकदमे लगाये गये. भांजे को बे-वज़ह परेशान किया गया. इसी वज़ह से उनका चार साल का बेटा अपने जीवन का पहला पेपर तक नहीं दे पाया. अगर मुख्यमत्रीं को लड़ना है तो सीधे उमेश से शेर की तरह लड़ें, परिवार पर पीछे से हमला तो कायरों और गीदड़ों का काम होता है.

उधर, कल उमेश कुमार की मां ने विपक्ष के नेता हरक सिंह रावत के साथ प्रेस कांफ्रेंस कर राज्य सरकार द्वारा अपने परिवार के उत्पीड़न की दास्तान सुनाई. उन्होंने बिलखते हुए पत्रकारों से कहा कि अगर निशंक को निपटना है तो उमेश से लड़ें, हिजड़ों की तरह वे परिवार को क्यों परेशान कर रहे हैं. मां ने कहा कि अगर उत्पीड़न बंद न हुआ तो वे मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह कर लेंगी. देहरादून में उमेश की मां और विपक्ष के नेता हरक सिंह रावत द्वारा प्रेस कांफ्रेंस में कही गई बातों को अखबारों ने प्रमुखता से प्रकाशित किया, जिसमें से दो सांध्य अखबारों की कवरेज इस प्रकार है….

Comments on “घोटालों का पर्दाफाश करने वाला पत्रकार ढाई हजार का इनामी बदमाश घोषित

  • ADIL SAIFI says:

    yashvant bhai yai to had hogye ke umesh bhai ke sath jo zulm ho raha hai aur waha par patrkar hath pe hath rakh kar bathe hai waha ke patrkaro ko prashan ke sabhi press confrence ka bahishkar kar dena chaheye aaj umesh bhai ke sath hai to kal tumhare sath bhi yahi hoga agar C.M sahab apney satta ki taqat dekha sakte hai to patrkaro ko bhi apni kalam ka use karna chaheye

    Reply
  • Mayank Chauhan says:

    Isse to yeh saabit ho gaya ki Nishank Sarkaar ne ghotale kiye or ab unko dabaane ki koshish me nakaam hone ke baad ek patrkaar ko pareshaan kar rahe hain …..Hum as a youth of the country protest this by wearing black shirts ………..

    Reply
  • ise kehte hain julm ki intaha. nisank ko janta 2012 esa jawab to degi hi par un patrakaron pe taras aa raha hai jo sANgathano ki bat kehte hain magra patrakar ke utpiran pe khamos rehte hain

    Reply
  • faisal khan says:

    umesh bhai ke sath nishank jo bhi kar rahe hain yaqeen maniye uska jawab bhi jaldi hi unko mil jayeha.jis tarah se umesh ke ghar ki kurki ki gayi hai aur ghar walon ko be ghar kar diya gaya hai aik din aisa bhi ayega ki kiye gaye ghotalon ki wajah se nishank bhi isi tarah se ghar chhodhkar bhage phirenge unke ghar wale jab dhakke khate phirenge to usko maloom hoga ki kisi ko satana kaisa hota hai aur nishank ji patrkaron ki qalam kisi talwar se kam nahi hoti is tarah se kisi begunah ko satane ki badi qeemat chukani padegi nishank ko.umesh ji se yahi kehna hai ki upar wala insan ko har tarah se azmata hai aur ye waqt unke liye azmayish ka hai is waqt mai khare utar gaye to phir kabhi kisi ka dar nahi satayega.phir nishank hi umesh se poochhega ki bhai mujhe maaf kar de mere se ghalti ho gayi thi.inshallah jaldi hi vo waqt ane wala hai ki utrakhadh sr BJP ki sarkar aise ghayab hogi jaise ghade ke sir se seeng phir nishank ko kon bachayega.wahan ke dalal patrkar ya phir BJP neta,abhi se apna anjam sochna shru kar den nishank.waqt jaldi hi badlega,,m faisal khan(saharanpur)

    Reply
  • rahul kumar says:

    mai ak baat janta hu wo hai sach ka samnaa karnaa ager koi ghotlaa hua hai to usay news mai likhoo bhai akhir press ko court mai janay ki kya jaruraat hai bina sach kai kisi ki bhi kabar chaap dena yahay to sacchi patkritaa ka hissa nahi umesh j kumar nai puri patkaritaa ko badnam kar diya hai aur unki uttarkhand kai patkroo mai kya izjaat hai sab jantay hai ghar ki kurki sai laykar 2500 ka innami sabat ho kar patkaritaa ko badnam mat honay do

    Reply
  • nisank pagal ho gaya hai kya jo is tarah ki harkate kar raha hai ye puri tarah se kanun ka durupayog kar raha hai agar usako apane ghotalo ke lkhulashe se itani problem hai to to usane ghotale hi kyoun kiye

    Reply
  • ye desh me kya ho raha hai nishank ko ye kya ho gaya hai ..umesh ji ne jo kiya hai wo achha kiya hai desh ka or desh ke longo ka paisa khane wale is chor mukhyamantri ko to bjp ke dwara turant nikal dena chahiye or supreem kort ko ispar sangyan lete huye is par turant karywahi karni chahiye .. nahi to ye pure uttara khand ko kha jayega

    Reply
  • एक तरफ जहाँ बीजेपी भ्रष्टाचार हटाने के बड़े बड़े दावे कर रही है वही दूसरी तरफ ये निशंक उत्तराखंड में सरेआम जनता का पैसा लूट रहा है और देवभूमि का अपमान कर रहा है एक पत्रकार पर इस का दमन पहली बार देखा है जिस तरह से निशंक ये कर रहा है उसको तो बीजेपी को हटा देना चाहिए एक पत्रकार को उसने अपराधी की तरह इनाम रख दिया है आखिर ये क्या है ये किसका शासन है पूरी तरह से जंगल राज्य फैला रक्खा है

    Reply
  • faisal khan says:

    rahul ji agar aap patrkar ho to phir mujhe apke patrkar hone par sharm aati hai are bhai aap ye batao ki man liya umesh ji ghalat hain magar baat yahan par filhal ye hai ki unhone utrakhand sarkar ke ghotale ujagar kiye hain to bhai ghalat kiya hai kiya.to bhai agar umesh ji ne kuchh ghalat kiya hai to uski saza unko mile na ki unki biwi bachche ya mata ko jinko is gadhe nishank ne ghar se be ghar kar rakha hai aur bhai kabhi allah na kare ye waqt aap ke sath aye tab pata chalega apko ki jab ghar walon ke sath aisa hota hai ti kiya guzarti hai,aur bhai nishank ka to ab bhagwan hi malik hai iska vo haal hoga ki dhobi ka kutta ghar ka na ghat ka,aur rahi baat utrakhand ke to bhai ye to dalle hain patrkar nahi.inko to patrkar kehna sharm ki baat hai,,m faisal khan (saharanpur)

    Reply
  • Uttarakhand Ke Mahabharasht Mukhyamantri Nishank Ke Is Kritya Ki Jitni Ninda Ki Jaaye Kam Hai… Jaha Ek Taraf Delhi Ke Ram Leela Maidan Me Loktantra Ka Gala Ghonta Gaya… Wahi U.K Me To Patrakar Umesh Ji Par Such Dikhane Ke Liye Itni Kathore Karrvai Kar Loktantra Ki Hatya Kar Di Gayi Hai… Mera Uttrakhand Ke Sabhi Patrakaro Se Vinamra Nivedan Hai Ki Umesh Ji Ka Is Ladai Me Poori Tarah Se Sahyog Karein… Ye Mat Bhooliye ki Jo Uttarakhand Me Umesh Ji Ka Aaj Hai Vo Aapka Kal Ho Sakta Hai…………………………………………………….

    Reply
  • m Danish Khan says:

    Jab Diya Bujhne Wala Hota Hai. To Bahut Jor Se Jalta Hai.
    Yeh Ek Signal Hota Hai. Ki Ab Diya Bujhne Wala Hai
    Nishank Ka Bhi Yahi Haal Hona hai
    Ham Umesh Ji Ke Sath Hai Aur Agar Umesh Ji Ko Ham Jaise Sathiyo Ki Jarurat Pade To Hamse Jarur Sampark Kre 8859065088

    Reply
  • Anuj Singhal says:

    agar Nishank Ko Ravan se compare kiya jaye to galath nahee hoga. Iska dimag kharab ho gya hai aur ant shant harkten kiya ja raha haai. yeh rajneeti main to kya utrakahand main rahne layak nahi hai. janta ko loot raha hai, rajya ko loot raha hai. gundagardi macha rakhi hai. patrakaron ko bhi nahi baksha. chori khud karta hai aur ujagar karne wale partakaron ko jail bhijwata hai ya unke gharwalon ka utpeedan kar raha hai. isko jitni gali di jaye kam hai. disgusting person. bloody bull shit

    Reply
  • alok chaudhari says:

    ab baba ram dev kyon chup hai ab kyon nahi bolta wo nishank ke baare me …………..isse saaf pata chalta hai ki wo bjp ka banda hai aur khali bjp ko fayada pahunchana chahta hai.

    Reply
  • sanjeev kumar says:

    मैं आजतक बीजेपी को स्पोर्ट करता था लेकिन आज उसके एक मुख्यमंत्री की इस काली करतूत से म़झे बहुत बड़ा धक्का लगा है। एक पत्रकार से मुख्यमंत्री बना निशंक इस हद तक गिर सकता है मैं तो ये सोच भी नहीं सकता। इस खबर को पढ़ने के बाद मेरे दिल उस मुख्यमंत्री को गाली देने को कर रहा है। ये मुख्यमंत्री का काम नहीं की वह अपने नीजि स्वार्थ के कारण किसी का घर बरबाद कर दे, दूसरों पर आरोप लगाते हो और अपने गिरेबा में झांकते नहीं हो। जो पत्रकार तुम्हारे घोटालो की पोल खौल दे तो क्या तुम उसके पीछे इस तरह से पड़ जाओगे, इतनी नीचता पर उतर आओगे की उससे बच्चे, माता,बीवी को बैवजाहा परेशान करो उनके खिलाफ फर्जी मुकदमे दर्ज करवा दो ये लोकतंत्र की पहचान नहीं है ये तो तानाशाहों की पहचान है। मेरे समझ में ये नहीं आता की बीजेपी के बड़े नेता इतना सब होंने के बाद भी चुप क्यों बैठे हैं क्या वो भी इस भ्रष्ट मुख्यमंत्री के भ्रष्टाचार में बराबार के भागीदार हैं, उनकी चुप्पी तो यही इशारा कर रही है। उत्तराखंण्ड़ निशंक के बाप की जागीर नहीं है की वह जो चाहे जिसके खिलाफ चाहे कर लेगा। उसे जनता ने कुर्सी पर बैठाया है वहीं बहुत जल्द उसे उखाड़ फैंकेगी। ये मैं किसी दुवेश भावना से नहीं कह रहा हूं बल्की इस खबर को पढ़ने के बाद मैंरे मन में अपने आप ये खयाल आया है। इसकी जितनी निंदा की जाए वह भी कम है। निशंक जी तुम तो पत्रकारों व बीजेपी के नाम पर कलंक हो,

    Reply
  • Rafiq Ahmad says:

    Umesh ji ke saath jo hua bahut bura hua. Allah kare ki Is Nishank ke keede padein. yeh sach mein hizda hi ha jo aisi kartoot kar raha hai. gaddi kya mil gayi apne apko raja samajh baita. ise noble prize milna chaiye ghotalon ka jo isne utrakhand mein kiye hain. maha bhrasht aadmi sorry hizda. iski mitti paleed hogi in chunav mein. uske baad isko koi nhai pochega. is par thookna apne thook koganda karna hai.

    Reply
  • nishank ka mukhya mantri k roop me ye aakhri varsh hai… iske baad vidhan sabha kya gram padhan ka chunav bhii yah nahi jeet payega……sharm karo uttrakhand k patrakaro jo nishank k khilaf nahi likh paate ho…..

    Reply
  • bhai m sochta hu dev bhumi m y ghatna bahut hi sharmnaak h .yaha k log bahut hi sidhe sadeh h but y rajneeti m aaye kuch logo ne apne baap ki sarker samj rakhi h. jo ki bahut hi galat h…….in ko bhi tihad m dal do phir waha bumb blust kar do …. na rahega bass na bajegae basuri….

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *