झारखंड के ब्‍यूरो कार्यालयों से हटा दिए जाएंगे कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटर

हिंदुस्‍तान प्रबंधन खर्च घटाने के नाम पर रोज-रोज नए फरमान जारी करता रहता है. नई खबर है कि झारखंड में अगले महीने से सभी ब्‍यूरो कार्यालयों से कंपोजिटरों को हटाने का आदेश दे दिया गया है. अमूमन हर अखबार के ब्‍यूरो कार्यालयों में रिपोर्टरों की खबरों को टाइप करने के लिए कंपोजिटर यानी कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटर रखे जाते हैं, पर हिंदुस्‍तान अब इनको हटाकर अपना खर्च कम करने जा रहा है.

हिंदुस्‍तान के तहसील कार्यालयों पर काम करने वाले रिपोर्टरों को पहले ही लैपटॉप लेने का फरमान जारी कर दिया गया था, ताकि ब्‍यूरो कार्यालयों में फैक्‍स आदि का खर्च कम हो. 22 जिलों वाले झारखंड में ज्‍यादातर तहसीलों के प्रतिनिधियों ने प्रबंधन के आदेश के बाद पहले ही लैपटॉप खरीद लिया था या उधार-नगद करके अपना काम चला रहे थे. तहसील प्रतिनिधियों द्वारा टाइप किया मटेरियल भेजे जाने के चलते ब्‍यूरो कार्यालयों पर भी काम कम हो गया है. बताया जा रहा है कि अब ऑपरेटर का काम खुद प्रतिनिधियों को करना होगा. वे अपनी रिपोर्ट खुद टाइप करेंगे, जिन रिपोर्टरों को टाइप करने नहीं आता उन्‍हें जल्‍द से जल्‍द यह काम सीख लेने का निर्देश भी दे दिया गया है.

दूसरी तरफ, झारखंड में हिंदुस्‍तान का कई जिलों में प्रसार भी लगातार गिरता जा रहा है. खबर है कि कोडरमा, हजारीबाग, पलामू समेत कुछ अन्‍य जिलों में अखबार का प्रसार संख्‍या लगातार गिरता जा रहा है. इसने भी प्रबंधन को चिंता में डाल रखा है, जिससे खर्च कम करने के उपाय किए जा रहे हैं. सूत्रों का कहना है कि मैनेजमेंट जल्‍द ही झारखंड में कुछ फेरबदल करने की योजना बना रहा है. जमशेदपुर यूनिट को लेकर कुछ ज्‍यादा ही चर्चाएं हैं. चर्चानुमा सूचना के अनुसार जमशेदपुर में बनारस से किसी वरिष्‍ठ के भेजे जाने की बात चल रही है. एक दो नामों पर कयास भी लगाया जा रहा है, पर किसे भेजा जाएगा अभी पुष्‍ट नहीं हो पा रहा है.

Comments on “झारखंड के ब्‍यूरो कार्यालयों से हटा दिए जाएंगे कम्‍प्‍यूटर ऑपरेटर

  • ashim kumar nag says:

    Aaj patrakarita ka star girta ja raha hai aur Iska ek hi uajah hai ki patrakarita me aise log jud rahe han jinhe sahi mayno me patrakarita ka gyan hi nahi hai. Kuch log to ugahi karne k liye patrkarita se jud rahe han. Jinki wajah se suchche aur achchhe star k ptrakaro ki koi kadra hi nahi rah gayi hai. Aise me lajmi hai ki news paper ho ya fir news channel unka patan hona hi hai.

    Reply
  • ye to hona hi tha, man-niya SS ji ke raaj mein yeh shuruaat amar ujala mein salon pehle ho chuki hai, lihaza ab hindustan mein iska hona koi hairani janak baat nahi !!!

    Reply
  • hindustan ka bokaro office anokha hai,office incharge Ramprewesh LIC ka ajent hai,is nate ramprewesh jile ke sabhi bharast padadhikari aor apradhi ka bima kara chuke hai, islea hindustan ke bokaro jile ke lia manage pratha chale hai,Ramprewesh ke is kartut se sabhi reporter paresan hai,news ko dabana inke pahala kam hai,islea is akhbar ka astar lagatar gir raha hai,main bhi reporter hu,Ramprewesh ke khilap prabhandan action kuion nahi le raha hai,

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *