पत्रकार संगठनों ने मां के अपमान के खिलाफ आंदोलन की तैयारी शुरू की, सरकार को कड़ी चेतावनी

लखनऊ : न्यूज पोर्टल भड़ास4मीडिया के सम्पादक यशवन्त की मां एवं घर की महिलाओं को गाजीपुर पुलिस द्वारा थाने में रात भर बैठाये रखने और उनके साथ अभद्रता करने एवं कानपुर स्थित हिन्दुस्तान एवं हिन्दुस्तान टाइम्स कार्यालय पर पुलिस द्वारा किये गये हमले तथा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना बुखारी द्वारा पत्रकार वार्ता में एक पत्रकार पर किये गये हमले की जन जागरण मीडिया मंच सहित विभिन्न पत्रकार संगठनों ने कटु निन्दा करते हुये उत्तर प्रदेश सरकार एवं पुलिस के आला अधिकारियों एडीजी ला एंड आर्डर ब्रजलाल और होम सेक्रेट्री दीपक कुमार से जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की हैं. अधिकारियों ने जांच में दोषी पाए जाने वाले पुलिस कर्मियों को दंडित करने का आश्वासन राजधनी के पत्रकारों को दिया है. जनजागरण मीडिया मंच सहित राजधानी के विभिन्न पत्रकार संगठनों ने सभी मामलों में पुलिस के रवैये की तीखी आलोचना करते हुए इसे लोकतंत्र पर हमला करार दिया. जनजागरण मीडिया मंच के महासचिव रिजवान चंचल, अध्यक्ष हरिपाल सिंह, भारतीय पत्रकार महासंघ के अध्यक्ष डा. भगवान प्रसाद उपाध्याय सहित विभिन्न पत्रकार संगठनों के पत्रकारों ने चर्चित न्यूज पोर्टल भड़ास4मीडिया के सम्पादक यशवन्त के परिजनों के साथ हुये अमानवीय व्यवहार के मसले की कटु निंदा की. दोषियों को तत्काल दंडित करने की मांग करते हुए श्री चंचल ने पत्रकारों पर बढ़ते पुलिसिया उत्पीड़न पर गहरा आक्रोश व्यक्त करते हुये आंदोलन छेड़े जाने की भी चेतावनी दी है.

जन जागरण मीडिया मंच के महासचिव रिजवान चंचल ने कहा कि सबके सामने वास्तविकता को बिना भेदभाव के प्रस्तुत करना, उचित का स्वागत करना और उचित-अनुचित पर सवाल करना पत्रकारिता का दायित्व होता है. सामाजिक विकास के साथ ही समाज में जनसामान्य की समस्याओं को उजागर करने में पत्रकारिता की भूमिका महत्वपूर्ण होती है किन्तु  गाजीपुर के नंदगंज पुलिस ने एवं कानपुर की पुलिस ने जिस तरह का कृत्य किया है वह अति निन्दनीय है.

श्री चंचल ने कहा कि भड़ास4मीडिया के सम्पादक यशवंत की लोकप्रियता उनके विरोधियों के अब गले नहीं उतर पा रही है जिसके चलते उनके परिवारीजनों के साथ ही साजिश की जा रही है और इसमें पुलिस पूरी सहयोगी की भूमिका में है. श्री चंचल ने कहा कि इस क्षेत्र में काम करने वालों में मात्र स्वाभिमान ही सर्वोपर होता है और गाजीपुर की पुलिस ने बेवजह किसी सम्पादक की पारिवारिक महिलाओं को रात भर थाने में विठाकर कर पत्रकारों के स्वाभिमान पर चोट पहुंचाई है. इसके चलते राजधानी के ही नहीं बल्कि पत्रकारिता जगत से जुड़े आम पत्रकारों में आक्रोश ब्याप्त है. सरकार को तत्काल गाजीपुर जिले और जोन के पुलिस अधिकारियों के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही करनी चाहिये.

रेड फाइल पत्र के प्रबंध सम्पादक हरिपाल सिंह ने कानपुर पुलिस के रवैये की घोर निन्दा करते हुये कहा कि बुखारी को तो हासिम अंसारी द्वारा की जा रही आपसी बातचीत ने संभवतः पायदान पर ला खड़ा कर दिया है वे इसलिये बौखला गये किन्तु कानपुर व गाजीपुर की पुलिस ने किससे सुविधा ऐसी प्राप्त कर ली कि यशवंत के परिवार की महिलाओं को थाने तक ले आई. भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के संरक्षक रामप्रकाश वर्मा एवं रामसजीवन पाण्डे ने कहा कि कानपुर व गाजीपुर की पुलिस का वीभत्स चेहरा उजागर हो गया है. सरकार को पत्रकार का उत्पीड़न करने वाले पुलिस वालों के खिलाफ  तत्काल कड़ी कार्यवाई करनी चाहिये वर्ना पत्रकारों को आंदोलन छेड़ने के लिये अब मजबूर होना पड़ेगा. सरकार से कानपुर व गाजीपुर पुलिस के खिलाफ तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने की मांग करने वालों में मीडिया मंच के बीबी सिंह, मीना खान, राजेन्द्र पाडेय, राज श्रृषि, भारतीय ग्रामीण  पत्रकार संघ  के महासचिव कमलेश दिवेदी आदि प्रमुख थे. सभी ने संयुक्त हस्ताक्षर से मुख्यमंन्त्री को ज्ञापन प्रषित करने का निर्णय ले पत्रकारों एवं उनके परिवारीजनों का उत्पीड़न करने वाले पुलिस वालों के खिलाफ तत्काल कड़ी कार्यवाई न किये जाने पर द्वारा आंदोलन छेड़े जाने की चेतावनी दी है. प्रेस विज्ञप्ति

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “पत्रकार संगठनों ने मां के अपमान के खिलाफ आंदोलन की तैयारी शुरू की, सरकार को कड़ी चेतावनी

  • यशवंत भाई
    जांच के झांसे में मत आना, कानूनी कारवाई की तयारी करो ,
    ये मायातांत्रिक पुलिस है… जो अपने पुरखे और प्रेरणा-श्रोत रावण के चरित्र और माया-वी शक्तियों के अधीन, उसी की भांति दंभ में ही जीती और आचरण करती है.
    हर साल की तरह दस्सहरा पे तो प्रतीकात्मक दहन हो चुका है, अब बारी है रावण के इन वर्दीधारी दूतों को उनकी सीमाए बताने की.
    लोकतंत्र के चौथे स्तंभ को देख कर अब हर खजुहा कुत्ता अगर टांग उठाने का साहस करने लगे तो पहरुओ को समझना चाहिए की चौकीदारी में ढील ज्यादा हो रही है .
    इस घृणित कृत्य के विरुद्ध व कानून राज के नपुंसक व्यवस्थापको को सद्-बुधि व सन्मार्ग दिखाने हेतु सूबे की राजधानी लखनऊ में candle march का आयोजन कर रहे है. यशवंत भाई अगर आप स्वयं और आप के माध्यम से और ज्यादा से ज्यादा लोग इसमें शामिल हो सके तो इस एकजुटता से पत्रकारों सहित ऐसे अन्य पीडितो को जूझने का पर्याप्त संबल मिल सकेगा.
    शुभेछु आपका —
    —विनीत–
    winit@in.com 9450449019
    newszone broadcom p ltd

    Reply
  • ashutosh bajpai says:

    yashwant ji, i am with you police aur sarkar nikkammi hai mann ka apman bardasht nahi hoga, is boodhi haddion main abhi bahut dum hai
    ashutosh

    Reply
  • akash rai journalist says:

    patkarita jagat mai akele yesvant ji hi nahi hai ,har kahi har rooj yesvant ji ki tarah
    kalamkaar gunde, mavaliyo. or police ke hatho apmanit hota raha hai , patkaro ke liye koi achaar sahita nahi . police bala marta hai to shaheed kahlata hai uske pariwar ko madal muavja or nokri se sammanit kiya jata hai , or patkaar badmaas ke hatho mara jata hai to use dalaal jisi …… upmao se navaja jata hai , vichaar kare agar patkaar na hote to ye neta or afsar desh ko girvi rakh dete.. yeshvant ji ke satth jo hua uski jiti bhi ninda ki jaye kam hai ,sara media yesvant ji ko insaaf dilakar he chen se baithega. :'(

    Reply
  • prayag pande Nainital says:

    yashawant ji ki mata shree or patrakaron ke utapidhan ke dusare sabhi mamaloin main agar sabhi patrakar union mil-jul kar koe bara aandolan khada karana chahate hain to yah kadam svagat yogy hai.es mamale main UTTARAKHAND SHARMAJEEVI PATARAKAR UNION puri siddat se aapake sath khadi hai..uttarakhand sharamjeevi patarakar union se jude saekadon sakriy or jujharu patarakar shathi es muhim main aapake sath hain ,puri eamandari ke sath. PRAYAG PANDE .Mahasachiv.uttarakhand sharamjeevi patarakar union

    Reply
  • Ravi Kumar Bishnoi says:

    yashwant bhai,
    mata ji ke utpidan ki khabar padhkar bahut afsos hua yeh loktantra ka chautha istambh kehlane walo ke maulik adhikaro ka hanan evam media se jude logon ki awaz dabane ka prayas hai , mera manna hai ki is mamle mein samacharpatra jagat se jude sabhi log apke sath hai, is mudde par har istar par nyayalya ke madat li jani chahiye aur pure desh mein is vishya par vaicharik andolan cheda jaye tatha har jile se aik gyapan rashtrapati aur pradhan mantri ji ko is utpidan ke virudh sabhi patrakar aur akhbar maliko ke sangathno ko jila prashasan ke madhyam se bheja jaye,jaswant ji bhartiye bhashai samchar patra sangthan ( ILNA), samajik sangthan (RKV Foundation) wai saptahik samachar patra sampadak association wai sandhye dainik sampadak parishad aur kesar khushbu times pariwar puri taur par apke sath hai, aur jahan bhi aur jab ap chahenge hum is ladai mein apke kandhe se kandha milkar apke sath hai,avem somwar ko hamare dwara jiladhikari meerut ke madhyam se rashtra pati ji ,pradhan mantri ji avem kendriye grah mantri tatha uttar pradesh ki cm .Sushri Mayawati ji,ve pradesh ke rajyapal ji ko 1 gyapan bhejkar mata ji ke mamle mein doshi adhikariyon ke virudh karwahi ki mang ki jayegi,aur agar awashyakta padi to is mamle mein andolan bhi kiya jayega…..

    Ravi Kumar Bishnoi (NATIONAL GEN. SECREATARY BHARTIYE BHASHAI SAMACHAR PATRA SANGTHAN (ILNA).

    Reply
  • ravi tembhare says:

    saasan prasaasan humesa se patrakaro ki upekha karta aaya hai, kyoki ek patrakar apni naitik jimmedari samajta hai kitu ye chair me baitey log jinone apna zameer tak beech diya hai abb agar patrakar jo apne naitik mulyo pe chalta hai unhe raas nahi aata, kisi na kisi bahane se humesa press walo ko humilate karne ki nakamiyab kosish karte hai parntu hum logo ko ek jut hokar apni kalam ki takat dikhana hai.

    Reply
  • pappu mishra says:

    yasvant bhai,mata ji khabar padh kar bahut dukh huaa aur apne aap par afsos huaa ham logo jab apni sagi maa ki surachha nahi kar pa rahe to bhart maa ki rachha kya khak karenge,aapke sath har kadam aapka chhota bhai…..pappu mishra*sampadak -dainik backup $faundar president netional jarnlist asosition varansi-09532922124

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *