सहारा ने नीतीश को फिर बिहार का सीएम बनाया

: बिहार चुनाव पर सहारा के सर्वेक्षण के नतीजे : नई दिल्ली : सहारा के बिहार चुनाव सर्वेक्षण में नीतीश फिर सीएम बन रहे हैं. 21,357 लोगों के बीच हुए सर्वे में सवाल पूछा गया कि आपकी नजर में कौन बिहार का सीएम बनने लायक है. इसमें 14,007 लोग जिन्हें 65.58 फीसदी कहा जाएगा, ने जवाब दिया कि  नीतीश कुमार. 3732 लोगों ने (17.47%) लालू का नाम लिया.

1383 (6.47%) लोगों ने रामविलास पासवान को मुख्यमंत्री बनने लायक बताया. सुशील मोदी का नाम 1489 (6.97%) लोगों ने लिया और राबड़ी देवी के पक्षधर केवल 746  (3.49%) लोग मिले. सहारा न्यूज नेटवर्क ने बिहार विधानसभा चुनाव, 2010 के लिए देश का अब तक का सबसे बड़ा चुनाव सर्वेक्षण किया है जिसके नतीजे शनिवार को जारी किए गए. नतीजों का पूरा विवरण सवाल, विकल्प, सैंपल साइज, फीसदी के साथ संलग्न हैं. सर्वेक्षण की प्रक्रिया में बिहार के प्रत्येक जिले और उस जिले की हरेक विधानसभा सीट शामिल है.

3 सितंबर, 2010 से 5 अक्टूबर, 2010 के दौरान सहारा इंडिया मीडिया नेटवर्क के जरिए यह सर्वेक्षण किया गया. सर्वेक्षण के लिए सहारा इंडिया मीडिया के हिन्दी व ऊर्दू अखबारों में सर्वेक्षण के 20 सवाल छापे गए और उसे निःशुल्क भेजने की सुविधा मुहैया कराई गई. इसके अलावा नेटवर्क ने सवालों की किताब छापकर गांव-गांव में अपने नेटवर्क का इस्तेमाल करके जवाब जुटाए. हमारे पास जवाब भेजने की अंतिम तारीख 5 अक्टूबर, 2010 तक 23,431 फॉर्म लौटे जिनमें दर्ज जवाबों का निचोड़ नीचे है. प्रेस विज्ञप्ति

आपकी सरकारः बिहार चुनाव सर्वेक्षण, 2010

सैंपल साइज- 23,431

प्रत्येक सवाल के ठीक आगे उस सवाल के लिए मिले जवाबों की संख्या है

1. जनता की उम्मीद पर सरकार कितनी खरी उतरी. 22,703

a बहुत अच्छा     4804/ 21.16%
b अच्छा 6360/ 28.01%
c औसत 5330/ 23.47%
d औसत से कम 3680/ 16.20%
e बिल्कुल नहीं 2529/ 11.13%

 

2. आपके घर या इलाके में बिजली की स्थिति कैसी है. 22,919

a बहुत अच्छी     1665/ 7.26%
b अच्छी 4297/ 18.74%
c औसत 6325/ 27.59%
d औसत से कम 6573/ 28.67%
e बेहद खराब 4059/ 17.71%

 

3. आपके आसपास और इलाके की सड़कें कैसी हैं. 22,814

a बहुत अच्छी     2807/ 12.30%
b अच्छी 6660/ 29.19%
c औसत 6238/ 27.34%
d औसत से कम 4653/ 20.39%
e बिल्कुल खराब 2456/ 10.76%

 

4. आप जो पानी पीते हैं या आपके घर में जो पानी आता है उससे आप बीमार तो नहीं होते, स्वास्थ्य के लिहाज से कैसा होता है पीने का पानी. 22,338

a बहुत अच्छा     2572/ 11.51%
b अच्छा 6126/ 27.42%
c औसत 5776/ 25.85%
d औसत से कम 5019/ 22.46%
e बिल्कुल खराब 2845/ 12.73%

 

5. बिहार में शिक्षा का स्तर कैसा है. 23,431

a बहुत अच्छा 2274/ 9.70%
b अच्छा 6636/ 28.32%
c औसत 6154/ 26.26%
d औसत से कम 5398/ 23.03%
e बेहद खराब 2969/ 12.67%

 

6. प्राथमिक, मध्य और उच्च विद्यालय में शिक्षक क्या बच्चों को ठीक से पढ़ा पाते हैं. स्कूल-कॉलेज में पढ़ाई का स्तर कैसा है. 22,201

a बहुत अच्छा     1713/ 7.71%
b अच्छा 4453/ 20.05%
c औसत 6017/ 27.10%
d औसत से कम 6258/ 28.18%
e बेहद खराब 3760/ 16.93%

 

7. सरकारी अस्पतालों में डॉक्टर, नर्स, दवा और इलाज की सुविधा कैसी है. 22,421

a बहुत अच्छी     2275/ 10.14%
b अच्छी 5439/ 24.25%
c औसत 6241/ 27.83%
d औसत से कम 5568/ 24.83%
e बेहद खराब 2898/ 12.92%

 

8. क्या आप बिहार में या बिहार की सड़कों पर सुरक्षित महसूस करते हैं. हत्या, डकैती, लूट, बलात्कार, चोरी और दबंगों पर कानून की पकड़ कैसी है. 22,870

a बहुत अच्छी     2989/ 13.06%
b अच्छी 5665/ 24.77%
c औसत 6411/ 28.03%
d औसत से कम 4588/ 20.06%
e बिल्कुल नहीं 3217/ 14.06%

 

9. आपके क्षेत्र में थाने और पुलिसकर्मियों का जनता के प्रति रवैया कैसा है. 22,326

a बहुत अच्छा        1754/ 7.85%
b अच्छा            4994/ 22.36%
c औसत            6400/ 28.66%
d औसत से कम        5333/ 23.88%
e बेहद खराब        3845/ 17.22%

 

10. आपके इलाके में सरकार की विकास योजनाओं का क्या हाल है. 22,439

a बहुत अच्छा     2385/ 10.62%
b अच्छा 5555/ 24.75%
c औसत 6294/ 28.04%
d औसत से कम 5217/ 23.24%
e बेहद खराब 2988/ 13.31%

 

11. प्रशासनिक तंत्र से आपको कितना फायदा हुआ. डीएम, एसपी, बीडोओ ने मदद की है. 21,896

a बहुत अच्छी     1767/ 8.06%
b अच्छी 4476/ 20.44%
c औसत 5876/ 26.83%
d औसत से कम 4427/ 20.21%
e बिल्कुल नहीं 5350/ 24.43%

 

12. आपके क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों का रोल कैसा रहा है. 22,536

a बहुत अच्छा 1876/ 8.32%
b अच्छा 4294/ 19.05%
c औसत 6285/ 27.88%
d औसत से कम 5176/ 22.96%
e बेहद खराब 4905/ 21.76%

 

13. पिछले 5 साल में आपकी जिंदगी पर कैसा असर पड़ा है. 21,837

a बहुत अच्छा     2654/ 12.15%
b अच्छा 6121/ 28.03%
c औसत 5963/ 27.30%
d औसत से कम 3964/ 18.15%
e बिल्कुल नहीं 3135/ 14.35%

 

14. बिहार में राजनीति के अपराधीकरण में कितनी कमी आई है. 22,824

a बहुत अच्छी     3429/ 15.02%
b अच्छी 5090/ 22.30%
c औसत 6844/ 29.98%
d औसत से कम 4572/ 20.03%
e बिल्कुल नहीं 2889/ 12.65%

 

15. सरकार वायदा निभाने में कितनी कारगर है. 22,000

a बहुत अच्छा     2109/ 9.58%
b अच्छा 4714/ 21.42%
c औसत 6548/ 29.76%
d औसत से कम 5212/ 23.69%
e बिल्कुल नहीं 3417/ 15.53%

 

16. शहर की अपेक्षा गांवों में विकास कितना हुआ है. 21,939

a बहुत ज्यादा 2635/ 12.01%
b ज्यादा 5656/ 25.78%
c औसत 5829/ 26.56%
d औसत से कम 4924/ 22.44%
e बिल्कुल नहीं 2895/ 13.19%

 

17. नेताओं का चरित्र चुनाव में आपके लिए कितना मायने रखता है. 22,217

a बहुत ज्यादा     6169/ 27.76%
b ज्यादा 5259/ 23.67%
c औसत 4384/ 19.73%
d औसत से कम 3383/ 15.22%
e बिल्कुल नहीं 3022/ 13.60%

 

18. अपराधी छवि वाले उम्मीदवारों की वजह से आपके वोट देने के फैसले पर कितना असर पड़ता है. 21,384

a बहुत ज्यादा 3574/ 16.71%
b ज्यादा 4069/ 19.02%
c औसत 4727/ 22.10%
d औसत से कम 4194/ 19.61%
e बिल्कुल नहीं 4820/ 22.54%

 

19. वर्तमान सरकार को आप दस में से कितना अंक देना पसंद करते हैं. 21,582

a दस 3862/ 17.89%
b आठ 5678/ 26.30%
c छह 5623/ 26.05%
d चार से कम 4213/ 19.52%
e बिल्कुल नहीं 2206/ 10.22%

 

20. आपकी नजर में कौन बिहार का मुख्यमंत्री बनने के लायक है. 21,357

a नीतीश कुमार 14,007/ 65.58%
b लालू यादव 3732/ 17.47%
c रामविलास पासवान 1383/ 6.47%
d सुशील मोदी 1489/ 6.97%
e राबड़ी देवी 746/ 3.49%

Comments on “सहारा ने नीतीश को फिर बिहार का सीएम बनाया

  • Girish Mishra says:

    There can be several objections from a statistician’s point of view. Obviously, this is a purposive sampling because its purpose appears to be decided before hand. Second, the basis on which the size of the sample has been decided is not clear. Third, the composition of the sample is not known. Does it fairly represent the entire state, all regions, all income groups, all communities? No answer. A sample cannot give reliable results if it is not chosen on the random basis and investigators and other people involved in the work are not above board.
    Not much is known about all these aspects. Thus it appears the aim is to earn money by involving oneself in propaganda business for someone.

    Reply
  • Priya Girish, lekh ke prarambha mein hi aap ki sabhi shankaoon laghu tatha deergha ka nivaran kar diya gaya hai. Kripya lekh punah padhen.

    Reply
  • Girish Mishra says:

    Please ponder over the points raised by me. They are not answered. If you are not convinced, then ask some statistician from some university or government departments such as NSS, CSO, etc.

    Reply
  • SHYAM TYAGI says:

    [i][b]Nice servay…………….Sahara Walo Se Pucho Ki Kitna Paisa Liya Hai Unhone Is Servay Ke liye Nitish Kumar se……………..[/b][/i]

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *