सीबीआई करेगी पत्रकार सुशील पाठक हत्‍याकांड की जांच

छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने दै‍निक भास्‍कर बिलासपुर के पत्रकार सुशील पाठक की हत्‍या की जांच सीबीआई से कराने की घोषणा की है. नेता प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे और विधायक धर्मजीत सिंह ने सीबीआई जांच की मांग की थी. दोनों नेताओं कहा था कि यह सुपारी किलिंग का मामला है. दोबारा इस तरह की घटना ना हो इसलिए यह मामला सीबीआई को देना चाहिए.

विपक्ष की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सीबीआई से जांच कराने में हमें कोई आपत्ति नहीं है. उन्‍होंने इस हत्‍याकांड की जांच सीबीआई को सौंपने का ऐलान करते हुए कहा कि वे इसके लिए पत्र लिखेंगे. गौरतलब है कि बिलासपुर में अज्ञात हमलावरों ने 20 दिसम्‍बर की रात गोली मारकर सुशील पाठक की हत्या कर दी थी. सुशील की हत्या उस समय की गई थी जब वे देर रात अपने कार्यालय से घर लौट रहे थे. घटना के तीन दिनों बाद 23 दिसंबर को पुलिस ने जमीन व्यवसाय से जुड़े बादल खान को इस मामले में गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस के मुताबिक बादल खान ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है लेकिन पुलिस बादल खान से हत्या में प्रयुक्त हथियार और सुशील पाठक का मोबाइल बरामद नहीं कर पाई है.

इसे लेकर पत्रकार तथा सामाजिक संगठनों ने विरोध भी जताया था. उन्‍होंने असली हत्‍यारों को गिरफ्तार करने की मांग की थी. जिसके बाद राज्य सरकार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए इसकी जांच के लिए रायपुर के क्राइम ब्राच के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को नियुक्त किया था, लेकिन पुलिस को अब तक कुछ खास नहीं कर पाई. इस घटना के लगभग एक महीने बाद छुरा में भी नई दुनिया से जुड़े पत्रकार उमेश राजपूत की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई थी. इस मामले में भी असली हत्‍यारे अभी पुलिस की पकड़ से दूर हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *