ये हैं अमर सिंह के छह टेप… प्रभु चावला, जेपी गौड़, जया प्रदा आदि से बातचीत के टेप

सुप्रीम कोर्ट ने जब अमर सिंह के टेप से रोक हटा लिया है तो फिर आइए सभी सुन लेते हैं कि इन टेपों में क्या राज और रहस्य है और किनसे किनसे क्या क्या बातचीत अमर सिंह कर रहे हैं. फिलहाल यहां छह टेप जारी किए जा रहे हैं. ये सभी एमपी3 फार्मेट में हैं. आडियो प्लेयर पर क्लिक करें और आडियो प्लेयर में बने साउंड के निशान को फुल पर ले जाएं. फिर बातचीत सुनें. इन टेपों में सबसे पहले अतुल गुप्ता, दूसरे नंबर पर जेपी इंडस्ट्रीज वाले जेपी गौड़ से बातचीत है. चौथे नंबर वाले टेप में प्रभु चावला से अमर सिंह की बातचीत है.

1– इस पहले टेप में यूपी के वरिष्ठ आईएएस अफसर अतुल गुप्ता को अमर सिंह एक उद्यमी को लाभ पहुंचाने के लिए कह रहे हैं और गुप्ता जी सर सर करते हुए अंततः अमर सिंह के कहे अनुसार सब कुछ करने कराने को तैयार हो जाते हैं… सुनिए.. कैसे नेता और अफसर मिलकर बड़े लोगों के लिए नियम कानून बदल डालने को तैयार हो जाते हैं….

There seems to be an error with the player !

2–इस दूसरे टेप में जेपी इंडस्ट्री वाले जेपी गौड़ को अमर सिंह पटा रहे हैं और जेपी गौड़ लाभ पाने के लिए लार टपकाते हुए अमर सिंह को तेल लगा रहे हैं… अमर सिंह कैसे शिकार पटाते थे, उसका ये नमूना है…

There seems to be an error with the player !

3–इस तीसरे टेप में अमर सिंह किसी दीपक से कह रहे हैं कि वे देवेंदर तक 96.5 लाख रुपये पहुंचा दें… क्या है माजरा, जानने के लिए नीचे दिए गए इस आडियो प्लेयर को क्लिक करके सुनें…

There seems to be an error with the player !

4–अमर सिंह के आगे प्रभु चावला किस तरह गिड़गिड़ा रहे हैं, हाथ जोड़कर माफी मांग रहे हैं… आजतक के सर्वेसर्वा न होने की मजबूरी गिना रहे हैं… उफ्फ… ये टेप सुनेंगे तो आपको न सिर्फ प्रभु चावला बल्कि मीडिया में बैठे ज्यादातर संपादकों के खोखलेपन का एहसास हो जाएगा…इस टेप को जरूर सुनें और पूरा सुनें…

There seems to be an error with the player !

5–अमर सिंह की जया से बातचीत. अमर सिंह और जया के बीच कितने करीबी रिश्ते रहे हैं और कैसे अमर अपनी सभी भावनाओं का इजहार जया के सामने कर दिया करते थे, जया को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें सब कुछ सुनाते सिखाते और समझाते रहते थे, ये इस टेप से जाहिर है….

There seems to be an error with the player !

6–अमर सिंह दीवाली के आसपास घर आए गिफ्ट को छोड़ते नहीं है. वे खुद कह रहे हैं इस टेप में. उनके यहां कोई आया और स्विफ्ट कार देने की जिद करने लगा लेकिन अमर सिंह को डर इस बात का है कि कहीं उनके नाम स्विफ्ट गिफ्ट हो जाए तो कल को इसका खुलासा होने पर बवाल न मच जाए, सो, वे अपने एक करीबी से इस तोहफे को कुबूल करने के तौर-तरीके के बारे में चर्चा कर रहे हैं…

There seems to be an error with the player !


इसके आगे के टेप सुनने के लिए इन लिंक्स पर क्लिक करें…

अमर टेप कथा भाग 2

अमर टेप कथा भाग 3

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “ये हैं अमर सिंह के छह टेप… प्रभु चावला, जेपी गौड़, जया प्रदा आदि से बातचीत के टेप

  • anil pande says:

    Tape Me SAHI KAHA Amar Singh Ne Prabhu Chawla Se- “Aap To Jante Hain Ham Harami Aadmi Hain.”

    Is Harami, NATWARLAL Ko Pura Desh Jhel Raha Hai.

    Thuk Dena Chahiye Ispar

    Reply
  • satish chandra says:

    Is it not surprising that these type of people can be so much powerful and sitting in Rajya Sabha he will be part and parcel of the system which makes the laws for the country by which countryn is governed? Joote marne chahiye aise logon ko.

    Reply
  • Amar Singh is not only one. There are hundreds of Amar Singhs and some of them much more notoriously powerful. “Politics is the last refuge of scoundrels” was wisely said. The more sweet they talk, more harmful are they. Time has come that we fully support Baba Ramdev with all our might and main in dismantling the stinking system, which is amassing wealth in foreign banks by looting the nation and compelling the Aam Admi to suffer all agonies and ignonimities and still posing to be holy cow.

    Reply
  • meharban ali says:

    Arey bhai ek amar singh hi kya ?in parliament ke members ke agar sab ke telephone checck kiye jayen to siwaye apne apne doston aur ristedaron ke liye jugaad lagaate paye jayenge. janta ne inhe bheja tha desh ko janta ki bhalai ke liy chalane ke liye .magar ye log janta ko bhool gaye aur inhon ne desh ko chalaya apne bhale ke liye . ye log bade khayanatdaar hain . inhen janta kyon chunti hai ?

    Reply
  • farid bharti says:

    jab ek he ullu kafi hai barbad-e-ghulistan karne ko,
    har shaq pe ullu baithe hain anjam e ghlistan kya hoga..

    jis dour main yeh sheir kaha gaya tha us dour main chand log he beiman hua karte they, aur shayar ko fikr thy desh ke magar is desh ki janta yani humne bhee shair ko sirf wah wahi de kar kinare kar diya, kash use waqt hum sambhal jate to desh main lakhon be gunah be mout na marte, khair ab bhe waqt hai humko mil kar kuch aisa karna hai jo is desh ko aage tabahi se bacha sake… s.m.farid bharti Editor mgm news 09808123436

    Reply
  • aise kamino ka sareaam kapade utar kar pure bajar me ghumana chahiye… aur hame aise kamino ko to chunaav jitana hi naahi chahiye aur unhe bhi ye jis party me …
    Desh se sabase bade chor…….

    Isi liye hame anna hazare chahiye…
    Go ahead hum apke sath hai….

    Reply
  • humara neta chor to hai hi !!!

    media !!!!

    I am shocked, Prabhu chawala ki language sun ke ki, What he said about Soniya Gandhi……….

    Reply
  • जेपी गौड़ से बातचीत जो हुई है, उसको यहां पढ़ सकते हैं…

    अमर- हैलो
    जेपी गौड़- नमस्कार। जयप्रकाश बोल रहा हूं.
    अमर- नमस्कार जी, दीपावली की बड़ी शुभकामनाएं.
    जेपी गौड़- आपको भी बहुत हों.
    अमर- और बहुत प्रणाम आपको.
    जेपी गौड़- अरे आपको भी.
    अमर- चुर्क की सीमेन्ट फैक्टरी लेना चाहते हैं?
    जेपी गौड़- ऐं
    अमर- मिर्जापुर के चुर्क की सीमेन्ट फैक्टरी लेंगे आप?
    जेपी गौड़- हां बिल्कुल। वो बिड है पंद्रह तारीख।
    अमर- हां जी।
    जेपी गौड़- वो बिड है पंद्रह तारीख को।
    अमर- हां बिड है
    जेपी गौड़- अवश्य लेंगे साहब।
    अमर- अच्छा।
    जेपी गौड़- वो ऐसा है रीवां के अंदर फंसे हुए हैं तो हमें ये शूट करेगा.
    अमर- अच्छा, शूट करेगा।
    जेपी गौड़- हां। साइडी मिलती हैं न उसमें. रेलवे की साइडें मिल जाती हैं. रीवां में साइडे नहीं हैं हमारे पास.
    अमर- हां हां।
    जेपी गौड़- तो वो डिसअडवान्टेज हमेशा रहता है.
    अमर- आपकी कम्पटीशन लाफार्ज से है.
    जेपी गौड़- हां लाफार्ज से है.
    अमर- और बिड़ला से है.
    जेपी गौड़- हां, बिड़ला से है और एक डालमिया से है.
    अमर- देखिए आपने तो बताया नहीं लेकिन हम आपका कितना ख्याल रखते हैं।
    जेपी गौड़- हां ख्याल तो रखते हैं. बिल्कुल। अब कब मिलें?
    अमर- आप ही नहीं मिलते।
    जेपी गौड़- नहीं आप बिहार में बिजी थे इसलिए फोन नहीं किया। तीन तारीख को मैं रहूंगा दिल्ली में।
    अमर- तीन तारीख को तो आपके गुरूनानक भी आ रहे हैं दिल्ली में।
    जेपी गौड़- (हंसते हुए) सुनिये हमारे नानक यहां बैठे हुए हैं. जो बोल रहे हैं. समझे साहब।
    अमर- आइये स्वागत है. तीन तारीख को मिलते हैं. हम भी रहेगे.

    Reply
  • Ashok Bansal says:

    Amar Singh is in trap.but what about others?
    We know others who are following Amar Singh.Whats the remedy?
    Bhadas me debate invite karen.

    Reply
  • Mohd. Neyaz says:

    Na Samjhoge To Mit Jaoge Aye Hindustan Walo
    Tumhari Dastan Bhi Na Rahegi Dastano Mein
    Dost ye Sirf Sher nahi Hai Balki Har Hindustani Ko Samajhne Ka Waqt Hai
    Aur Amar Singh Jaise Na Jane Kitne Neta Is Desh Mein Hai Jo apne Bhale
    Ke Liye Is Desh ki Janta Ke Vishwas Ke Saath khilwar Karte Hain public Ke Bich Mein Inka Chehra Kuchh Aur Hota Hai Aur Pichhe inka Chehra Kuchh Aur Hota Hai Yeh Sirf Ghotalebaz Hi nahi Balki Ladkibaz Bhi Hai Yeh Log Janta Ke Paise ko aise Gaman Kar Jate Hai Jaise Inke Baap Ki Jaagir Hai Aise dogle Netaon Ko Janta Ko kicked On Ass & Out

    Reply
  • mukul saurabh tripathi says:

    amar singh ko sanrakshan kaun log kar rahe hai?agar sarkar me dam hai to rashtradrohi sabhi netao ke tape sarwjanik kare,
    abhi dekhna sarkar isme bhi inka bachaw karegi,desh ka yuvraj desh ko dhokha dega,

    Reply
  • Dr. Naveen says:

    Ye koi ashcharya ki baat nahi hai dalalo se puura parliament bhara pada hai aur desh bhi wahi chala rahe hai agar koi world bank ka dalal hai to koi jp gaur ka. lekin hum kisko sunaye. yaha to aam admin kewal sun sakta hai dekh sakta hai aur kuch nahi kar sakta. wo petrol hike se lade ya desh ki dalalo ki hike se. yaha passport banwane se le kar desh chalane ko dala hi nazar aate hai . akhir kare to kya kare

    Reply
  • bharat yadav says:

    agar ye privet batin hay to aap public mey isco kaisy la saktay ha……na to media law ka palan karta hay na leaders…agar media law ka palankaray to…bahut kuch prtibandhit ho jayga……..

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *