जयकृष्ण, लीला और शेखर को मिलेगा एवार्ड

: राष्ट्रीय पत्रकारिता कल्याण न्यास के वर्ष 2010 के पुरस्कारों की घोषणा : राष्ट्रीय पत्रकारिता कल्याण न्यास की ओर से प्रतिवर्ष दिए जाने वाले पुरस्कारों में वर्ष 2010 के लिए मध्य प्रदेश, इंदौर के दैनिक स्वदेश के पूर्व संपादक श्री जयकृष्ण गौड, महिला पत्रकारिता पुरस्कार के लिए दैनिक जन्मभूमि, केरल की प्रधान संपादिका श्रीमती लीला मेनन और छायाचित्र पत्रकारिता पुरस्कार के लिए इंडियन एक्सप्रेस, नागपुर के श्री शेखर सोनी का चयन किया गया है। यह पुरस्कार 27 अगस्त 2010 को मध्य प्रदेश के इंदौर में प्रदान किए जाएंगे।

पत्रकारिता में राष्ट्रीय विचारधारा को मुखरित करने वाले स्व. श्री ना.बा उपाख्य बापूराव लेले जी के नाम से जो पुरस्कार दिया जाता है उसके लिए दैनिक स्वदेश के पूर्व प्रधान संपादक श्री जयकृष्ण गौड जी का चयन किया गया है। पुरस्कार के रूप में रुपये ५१,०००/- की नकद राशि, स्मृति चिन्ह, शाल, श्रीफल एवं सम्मान पत्र दिया जाएगा। वर्ष २००३ में यह पुरस्कार पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी के करकमलों द्वारा श्री नारायण राव तर्टे जी तथा श्री राम शंकर अग्निहोत्री जी को दिया गया था। २००४ में गुजरात के विख्यात पत्रकार श्री बच्चूभाई ठाकर जी को इस सम्मान से पुरस्कृत किया गया एवं देहरादून से प्रकाशित ब्रेललिपि पत्रिका ‘ब्रेल पथ’ को भी विशेष पुरस्कार दिया गया।

वर्ष २००५ में बांग्ला पत्रकार असीम कुमार मित्र को, वर्ष २००६ में वरिष्ठ पत्रकार श्री चं.प. भिशीकर को, वर्ष २००७ में महाराष्ट्र के तरुण भारत के पूर्व संपादक श्री दि.भा. उपाख्य मामा घूमरे जी को, वर्ष २००८ में झारखंड के ‘रांची एक्सप्रेस’ दैनिक के मुख्य संपादक श्री बलबीर दत्त को और वर्ष २००९ में कर्नाटक से प्रकाशित ‘होशदिगंता’ के मुख्य संपादक श्री दु.गु. लक्ष्मण जी को इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

हिन्दुस्तान समाचार बहुभाषी संवाद समिति के संस्थापक एवं विख्यात छायाचित्र पत्रकार स्व. श्री शिवराम शंकर उपाख्य दादा साहब आपटे जी की स्मृति में दिए जाने वाले छायाचित्र पुरस्कार के रूप में रुपये २१,०००/- की नकद राशि, स्मृति चिन्ह, शाल, श्रीफल एवं सम्मान पत्र दिया जाता है। इस पुरस्कार का प्रारंभ २००५ में हुआ तथा इसी वर्ष यह पुरस्कार मुम्बई के श्री मोहन बने जी को दिया गया। २००६ में इस पुरस्कार से श्री जयंत हरकरे जी को तथा २००७ में पांचजन्य के छायाचित्र पत्रकार श्री हेमराज गुप्ता जी, २००८ में आर्गनाइजर के छायाचित्र पत्रकार श्री खड्ग qसह कैरा जी और २००९ में बिजनेस स्टैंडर्ड के श्री प्रकाश जाधव जी को सम्मानित किया गया। वर्ष २०१० में इस पुरस्कार के लिए इंडियन एक्सप्रेस, नागपुर के छायाचित्र पत्रकार श्री शेखर सोनी जी का चयन किया गया है।

स्व. श्रीमती आशारानी वोरा स्मृति राष्ट्रीय महिला पत्रकारिता पुरस्कार की स्थापना वर्ष २००५ में हुई थी। रुपये २१,०००/- की सम्मान राशि स्मृति चिन्ह, शाल, श्रीफल एवं सम्मान पत्र के रूप में दिए जाने वाले इस पुरस्कार के लिए वर्ष २००५ में महाराष्ट्र टाइम्स दैनिक की पत्रकार श्रीमती नीला वसंत उपाध्ये जी को, वर्ष २००६ में दैनिक लोकसत्ता की पत्रकार शुभांगी चौकर जी को एवं वर्ष २००७ में विख्यात लेखिका श्रीमती शोभा भागवत को, २००८ में विख्यात महिला पत्रकार सुनीला सोवनी जी को और २००९ में नवभारत टाइम्स दिल्ली की श्रीमती मंजिरी चतुर्वेदी जी को सम्मानित किया गया। इस वर्ष इस पुरस्कार के लिए दैनिक जन्मभूमि, केरल की प्रधान संपादिका श्रीमती लीला मेनन जी का चयन हुआ है।

Comments on “जयकृष्ण, लीला और शेखर को मिलेगा एवार्ड

  • yashwant bhai ye Award hamesha sampadko ko hi kiyon miltain hain kisi stringer ko kiyon nahi miltain kiyonki award ke roop main milne wali money stringer ke liye jayada imprtant rakhti hai.. khaskaar jab wo stringer dainik jagran, hindustaan or nai duniya ya phir jansatta jaise akhbaar kaa ho kiyonki yahaan log kai kai saal se stringer hain,,,, aap samjh rahe hain na mere kahena kaa matlab

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *