पैसे लेकर खबर छापने पर दो अखबारों की कंप्लेन

समाजवादी जन परिषद, उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष, चिंतक और वरिष्ठ ब्लागर अफलातून ने भारत के चुनाव आयुक्त को एक पत्र लिखकर दो अखबारों की शिकायत की है। पत्र में पूर्वी उत्तर प्रदेश में दो प्रमुख अखबारों दैनिक हिंदुस्तान और दैनिक जागरण के प्रबंधन पर प्रत्याशियों से रुपये लेकर तस्वीरें-खबरें छापने का आरोप लगाया है। भड़ास4मीडिया के पास मौजूद इस पत्र में कहा गया है कि ये दोनों अखबार लोकसभा चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों से दस से बीस लाख रुपये लेकर उनके चित्र व खबरें विज्ञापन की बजाय खबर के रूप में प्रकाशित कर रहे हैं। श्री अफलातून ने आगे लिखा है कि अखबारों द्वारा ऐसा करना जनता के विवेकपूर्ण तरीके से सूचना पाने के हक को प्रभावित कर रहा है तथा जो प्रत्याशी अखबारों को यह अवैध धन राशि नहीं दे रहे हैं, उनके विरुद्ध भी है।

समाजवादी जन परिषद की तरफ से अफलातून ने चुनाव आयोग से मांग की कि इन प्रमुख जन संचार माध्यमों की पक्षपातपूर्ण तथा अवैध भूमिका के बारे में आयोग हस्तक्षेप कर उचित निर्देश जारी करे। अफलातून ने इस बाबत दैनिक हिंदुस्तान की प्रमुख संपादक मृणाल पांडेय को पत्र भेजा है और इस पत्र की एक प्रति भारतीय प्रेष परिषद के पास भी रवाना कर दिया है।

अफलातून ने समाजवादी जन परिषद के ब्लाग पर अखबारों द्वारा प्रत्याशियों से पैसे लेने की घटना का विस्तार से वर्णन किया है। उसे पढ़ने के लिए क्लिक करें- चुनाव में अखबारों की गलीज भूमिका

अफलातून ने चुनाव आयोग और दैनिक हिंदुस्तान के संपादक को जो पत्र भेजा है, वो इस प्रकार है— 


चुनाव आयोग को अफलातून द्वारा भेजे गए पत्र का विवरण…


From: Aflatoon अफ़लातून <[email protected]>

Date: 2009/4/5, Subject: In Devanagri (UTF8)

To: [email protected], [email protected]

प्रति,

उप चुनाव आयुक्त ,

भारत का निर्वाचन आयोग,

निर्वाचन सदन , नई दिल्ली

सन्दर्भ : मौजूदा आम चुनाव के सन्दर्भ में ।

महाशय ,

1. सर्वप्रथम मैं अपने दल की प्रान्तीय इकाई की तरफ़ से आयोग की प्रशंसा करना चाहता हूँ कि पूर्ण मतदाता सूची इन्टरनेट पर प्रस्तुत करना लोकतंत्र को मजबूत करने की दिशा में लिया गया कदम है। आयोग इसके लिए बधाई का पात्र है। इस तथ्य को इस दल ने प्रचारित किया है , इसका सकारात्मक फीडबैक से आयोग अवगत हो। 

जिन मतदाताओं के गत एक वर्ष में फोटो पहचान पत्र बने हैं तथा जिनका नम्बर इन्टरनेट पर आ चुका है उसका वितरण अभी तक नहीं हुआ । उदाहरण के लिए वाराणसी संसदीय क्षेत्र के कैन्टोन्मेंट विधान सभा क्षेत्र में तैयार फोटो पहचान पत्र लेखपालों को दे दिये गये हैं लेकिन उनके द्वारा अब तक बाटे नहीं गये हैं।

2. पूर्वी उत्तर प्रदेश सभी लोक सभा क्षेत्रों के प्रमुख उम्मीदवारों से प्रमुख दैनिक – हिन्दुस्तान तथा दैनिक जागरण द्वारा अवैध तरीके से (१० से २० लाख रुपये) धन ले कर उनके चित्र तथा खबरें विज्ञापन की जगह ’खबर’ के रूप में छापे जा रहे हैं। यह जनता के विवेकपूर्ण तरीके सूचना पाने के हक प्रभावित कर रहा है तथा जो प्रत्याशी अखबारों को यह अवैध धन राशि नहीं दे रहे हैं उनके विरुद्ध है । इस सन्दर्भ में हमारे दल ने अपना निवेदन यहाँ प्रकट किया है।

आम चुनाव के दौरान इन प्रमुख जन संचार माध्यमों की पक्षपातपूर्ण तथा अवैध भूमिका के बारे में आयोग को हस्तक्षेप कर उचित निर्देश जारी करने चाहिए। आप से सविनय निवेदन है कि आयोग के समक्ष  इन दो गंभीर मसलों को प्रस्तुत किया जाए तथा लोकतंत्र के हक  में आयोग हस्तक्षेप करे।

विनीत,

अफ़लातून

Aflatoon,  State President, Samajwadi Janparishad (U.P.),

5, Readers Flats, Jodhpur Colony, Banaras Hindu University, Varanasi, Uttar Pradesh


दैनिक हिंदुस्तान की प्रमुख संपादक मृणाल पांडेय को अफलातून द्वारा भेजा गया पत्र-


प्रेषक: Aflatoon अफ़लातून <[email protected]>

दिनांक: ५ अप्रैल २००९ १५:४१, विषय: चुनाव -रिर्पोर्टिंग में अलोक्तांत्रिक -भ्रष्ट आचरण की बाबत

प्रति: [email protected]

श्रीमती मृणाल पाण्डे ,

ग्रुप सम्पादक, हिन्दुस्तान टाइम्स

एवं मुख्य सम्पादक,’हिन्दुस्तान’

कस्तूरबा गांधी मार्ग, नई दिल्ली .

आदरणीय श्रीमती मृणाल पाण्डेजी ,

लोकसभा के लिए हो रहे मौजूदा आम चुनाव में आपके दैनिक पत्र – हिन्दुस्तान द्वारा प्रेस परिषद द्वारा जारी ‘चुनाव से सम्बन्धित रिपोर्टिंग के लिए मीडिया के लिए दिशा निर्देश’ का खुला उल्लंघन किया जा रहा है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में लोक सभा निर्वाचन में खड़े कई उम्मीदवारों से अखबार के प्रबन्धन द्वारा दस से बीस लाख रुपये लेकर उक्त उम्मीदवारों की विज्ञापननुमा खबरों को समाचार के रूप में छापा जा रहा है। लाजमी तौर पर जो उम्मीदवार इतनी धन राशि नहीं दे रहे हैं वे आपकी इस ’विशिष्ट रिपोर्टिंग’ से वंचित हो जा रहे हैं। इस प्रकार जनता द्वारा निष्पक्ष तरीके से मताधिकार के प्रयोग करने के विवेक पर आपके दैनिक के आचरण से प्रतिकूल असर पड़ रहा है।

आप से सविनय निवेदन है कि प्रेस परिषद द्वारा चुनाव रिपोर्टिंग के लिए जारी दिशा निर्देशों के खुले उल्लंघन को रोकने के लिए उचित कदम उठाये तथा मुझे सूचित करें।

हिन्दुस्तान अखबार द्वारा उपर्युक्त अलोकतांत्रिक कार्रवाई जारी रहने की स्थिति में हम न्याय प्राप्ति के अन्य दरवाजे खटखटाने के लिए स्वतंत्र होंगे। आप से सकारात्मक कार्रवाई की अपेक्षा के साथ –

विनीत,

अफ़लातून

राज्य अध्यक्ष , समाजवादी जनपरिषद – उत्तर प्रदेश.

प्रतिलिपि सूचनार्थ – सदस्यगण, भारत का प्रेस परिषद.

सम्पर्क पता : Aflatoon  अफ़लातून, State President, Samajwadi Janparishad (U.P.),

5, Readers Flats, Jodhpur Colony, Banaras Hindu University, Varanasi, Uttar Pradesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *