नीरा राडिया उवाच…. do we have an alternative to PTI

इस नए टेप में नीरा राडिया अपने सहयोगी मनोज वारियर से बात कर रही है. टेप एक जून 2009 का है. इसमें अन्य कई बातों के अलावा वे देश की समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट आफ इंडिया उर्फ पीटीआई को ब्लैकलिस्टेड करने के बारे में बात कर रही है. साथ ही एक पत्र के मजमून पर बातचीत हो रही है जो रिलायंस ग्रुप के मनोज मोदी के लिए है और इस पत्र को अंततः मुकेश अंबानी के यहां पेश किया जाना है.

राडिया एक जगह कहती हैं- “I don’t want to go into this whole thing about journalism…gatekeepers”. पूरी बातचीत सुनने के लिए नीचे दिए गए आडियो पर क्लिक करें…

There seems to be an error with the player !

Comments on “नीरा राडिया उवाच…. do we have an alternative to PTI

  • संजय कुमार सिंह says:

    अभी तक अखबार वाले यही समझते थे कि वे जनसंपर्क एजेसियों की खबरें छाप कर उनपर अहसान करते हैं। पर यहां एक जनसंपर्क एजेंसी की मालकिन अपने क्लाइंट (टाटा और रिलायंस) से जानना चाह रही है कि हम पीटीआई को ब्लैकलिस्ट कर दें। यही है पेड न्यूज की परिणति। मीडिया वाले अब भी नहीं संभले तो पैसे ही कमाएंगे …

    Reply
  • Dr. Manish Kumar says:

    Uski . . . . ki. How dare she talk like this and the b. . . .ds tolerate her in this country . . . bloody they say they are patriots?

    Reply
  • Neeraj Bhushan says:

    अगर PTI को ब्लैकलिस्ट करने कि बात हो रही है तो यह भी तो पता चले कि वहाँ किस-किस को पैकेट पहुँचता रहा है.

    Reply
  • PTI Premeior news agency hai pure india me ghoom ghoom kar Part Time Correspondent k naam par apne logo ka shoshar kar rahi hai nischit he is baat ki jaanch honi chaheay ki packet kis kis ko pahuchta raha hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *