भूमाफिया-ठेकादारों के पैसे से पत्रकारों ने मनाया जश्न

गोरखपुर प्रेस क्लब में नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को चुनाव अधिकारी राजन राय ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. अध्यक्ष अशोक अज्ञात, उपाध्यक्ष सुरेश राय, मंत्री विजय कुमार और कोषाध्यक्ष मार्कंडेय सहित सभी पदाधिकारियों व सदस्यों ने शपथ ली. समारोह के मुख्य अतिथि स्तंभकार कृष्णदेव कल्पित थे.

अध्यक्षता की विधानपरिषद अध्यक्ष गणेश शंकर पांडेय ने. इस अवसर पर चेतना के समूह संपादक आरसी गुप्ता, हिंदुस्तान के संपादक नागेंद्र यादव, राष्ट्रीय सहारा के संपादक मनोज तिवारी ने संबोधित किया. मंच पर आगरा के एक पत्रकार को बिठाने को लेकर काफी आलोचना हुई. संचालक सर्वेश दुबे द्वारा एक व्यक्ति को कई बार माला पहनाने पर हिंदुस्तान के स्थानीय संपादक नागेंद्र यादव ने इस प्रवृत्ति की आलोचना की.

रात 12 बजे रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन हुआ. पीने और खाने का दौर देर रात तक चला. इस दौरान हंगामा भी होता रहा. आज के अशोक सिंह और नई दुनिया के मारकंडेय के बीच हुए विवाद में बीच-बचाव का काम अरविंद राय ने किया. समारोह में बड़ी संख्या में भू-माफिया और ठेकेदार मौजूद थे. कुछ लोगों का कहना था कि इन्हीं भूमाफियाओं और ठेकेदारों के पैसे से आर्केस्ट्रा व भोजन की व्यवस्था की गई थी.

Comments on “भूमाफिया-ठेकादारों के पैसे से पत्रकारों ने मनाया जश्न

  • isme naya kya hai yashwant bhai…….jab bilder editar in chief ho sakte hai to kisi party ke organiser kyon nahi…

    Reply
  • Sanjay Bhati : Editar Supreme News says:

    Amitab jee ki bat sahi hai bildero ne noida me bhi akhbar nikalne suru kar diye hai .or ab apne ko choti ka patarkar batane wale inhi ke yaha kam karte dakhe jate hai . ashe logo ko nanga karte raho aapki is muhim me SUPREME NEWS PARIWAR hamesa aapke sath hai . Thank you Yaswant jee…..——Sanjay Bhati -mobil no -9811291332,9311808705

    Reply
  • ajai srivastava says:

    yaswant ji. jis repoter ki story ke aadhar par aapne ye parkashit kiya hai. aap unse yeh suchna mange ki ex president safi aajmi, aanad rai, arvind rai, arvind shukla, sarvesh dubey, salabh mani tripathi me se kisne sapath grahan ya sanskritik karyakarm ghar ke paise se karaya tha. 11 july ko aayojit samaroh me kai daru pi kar gire, kai ne apne sathi ko laat ghusa mara iska jikra nahi kiya jana sabit karta hai ki report intensaly beja gaya hai. patrakarita me yaswant bhai bhai imandari pahli sart hai.

    Reply
  • DHEERAJ SRIVASTAVA says:

    AJAY JI, AAP KO JANKARI HONI CHAHIYE KI ARVIND SHUKLA KE KARYAKAL ME KOI SANSKRITIK KARYAKRAM NAHI HUA THA AUR NA HI KOI DARU PEE KE GIRA HI THA
    DHEERAJ SIRVASTAV, MANTRI PRESS CLUB (2008-09)

    Reply
  • Ritesh Mishra says:

    Sawal Uthane ke liye ajai bhai ko dhanyvad. Shafi Aazmi ke na to shapath grahan samaroh me koi nach gana huaa aur na hi pure karykaal ke dauran. Shafi Bhai ne shuchita ki misal kayam ki thi, yaha tak ki pure karykaal ke dauran kisi officer ki telahi me press meet bhi nahi karaya tha.
    rahi baat ghar ke paise se karyakram karane ki to press club ke padadhikari apne bete ka mundan nahi karate ki ghar ka paisa lagayenge. press club ke sadasyon ke vaste karyakram karate hain, debate achchhe ya bure ka ho to behtar ho, ghar ke paise ka nahi.

    Reply
  • raj srivastava says:

    mai kisi ke paksh vipaksh me na kah kar itna hi kahna chahta hu ki 11 tarikh ki raat ko jo kuchh bhi hua vo nahi hona chahiye tha

    Reply
  • NAVEEN LAL SURI says:

    गोरखपुर प्रेस क्लब में नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के पद और गोपनीयता की शपथ कार्यक्रम की शाम रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन हुआ जो हमेशा होता है कोई नई बात नहीं है, लकिन पीने और खाने का दौर देर रात तक चला और इस दौरान हंगामा भी हुआ सुन कर ताजुब हुआ इसका मै विरोध करता हू और जहा तक अगर भू-माफिया और ठेकेदार की बात है तो गोरखपुर प्रेस क्लब की छवि धूमिल हुई है जो वर्तमान नवनिर्वाचित कार्यकारणी को नहीं करना चाहिए था ……………..??????

    Reply
  • NAVEEN LAL SURI says:

    गोरखपुर प्रेस क्लब में नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के पद और गोपनीयता की शपथ कार्यक्रम की शाम रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन हुआ जो हमेशा होता है कोई नई बात नहीं है, लकिन पीने और खाने का दौर देर रात तक चला और इस दौरान हंगामा भी हुआ सुन कर ताजुब हुआ इसका मै विरोध करता हू और जहा तक अगर भू-माफिया और ठेकेदार की बात है तो गोरखपुर प्रेस क्लब की छवि धूमिल हुई है जो वर्तमान नवनिर्वाचित कार्यकारणी के कुछ लोगो को नहीं करना चाहिए था ……………..?????
    नवीन लाल सूरी IBN7

    Reply
  • ek patrakar says:

    theek hai bhaiiiiiiiiiiiiiiiiii. matlab mauj se hai. paisa kale chor ka hoooooooooooo. isse kya lena dena………

    Reply
  • vinod kr gupta says:

    yashwant ji, apne ak aisi bahas cheri hai, jo puri tarah uchit hai.Press samaj ka AAINA hota hai.Is prakaran me jo sawal uthe, apni tippariyon me mananiya Patrakaron ne us mudde ko hi bhula diya.Charcha ke anusar shapath ke baad der rat tak sharab ke daur me Larkiyon ka dance karana,Hungama, Firing karna kis sanskritik karykram me aata hai?Ghar k paise koi nhi lagata,par mafiyaon ka…?Mans,Sharab aur LadyDancers ka patrakaita me kya kam? agar aisa hau, to ye SHARMNAK hai.

    Reply
  • Vivek Gupta says:

    गोरखपुर प्रेस क्लब में नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के पद और गोपनीयता की शपथ कार्यक्रम की शाम रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन हुआ पीने और खाने का दौर देर रात तक चला और इस दौरान हंगामा भी हुआ इसका मै विरोध करता हू और जहा तक अगर भू-माफिया और ठेकेदार की बात है तो गोरखपुर प्रेस क्लब की छवि धूमिल हुई है जो नहीं करना चाहिए

    Reply
  • DILIP SINGH says:

    JO BHI HUA ACHCHA HUA. SABHI PATRAKARO KE BHOJAN AUR MANORANJAN KI VYASTHA SARAHNIYA RAHI. ISKA ITNA VIRODH KYO? VIRODH KARNE VALE PAHLE APNE GIRAHBAN ME JHANKE. ISKE BAD KISI PE KAMENT KARE.

    Reply
  • Brijendra dubey says:

    jab arvind shukla ji ne press club ka charge liya tha….tab press club ke upar 2 lakh ka karz tha…aur unke jaate waqt press club 25 hazar ke fayde mai tha….pichle karyakarini ka kaam etihasik tha….kyonki us samay na to koi sanskritik karyakaram hua or nahi koi galat kaam…!!!

    Reply
  • Brijendra dubey says:

    :jab arvind shukla ji ne press club ka charge liya tha…tab press club par 2 lakh ka karz tha…aur unke jaate waqt press club 25 hazar ke fayde mai tha…pichle karyakarini ka kaam etihasik tha….kyunki us samay na to koi sanskritik karyakrm hua aur nahi koi galat kaam….!!!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *