जम्मू से इंडियन एक्सप्रेस का प्रकाशन बंद

आरई अरुण शर्मा बना दिए गए ब्यूरो चीफ : सीनियर रिपोर्टर सरोज राजदान ने दिया इस्तीफा : कई मीडियाकर्मी बेरोजगार : कइयों का कांट्रैक्ट खत्म : देश में मीडिया मतलब इंडियन एक्सप्रेस. अखबार मतलब इंडियन एक्सप्रेस. इसी नामी-गिरामी और फायरब्रांड अखबार इंडियन एक्सप्रेस के जम्मू एडिशन को बंद कर दिए जाने की दुखद खबर आ रही है. इंडियन एक्सप्रेस प्रबंधन ने जम्मू एडिशन बंद करने का फैसला लेने के बाद कश्मीर के पाठकों तक चंडीगढ़ एडिशन का अखबार भिजवाना शुरू करा दिया है. इंडियन एक्सप्रेस, जम्मू-कश्मीर के स्थानीय संपादक अरुण शर्मा के बारे में सूचना है कि एडिशन बंद किए जाने के बाद प्रबंधन ने उन्हें जम्मू में ही इंडियन एक्सप्रेस के ब्यूरो का ब्यूरो चीफ बना दिया है. एक तरह से यह डिमोशन है लेकिन जब एडिशन ही नहीं रहा तो आरई का पद कैसे रह सकता है. ऐसे में आरई को ब्यूरो चीफ बनाकर एडजस्ट करना ही एकमात्र रास्ता था. 

आरई तो ब्यूरो चीफ बनाकर एडजस्ट कर लिए गए लेकिन सीनियर रिपोर्टर सरोज राजदान ने एडिशन बंद किए जाने के दुखद घटनाक्रम के बाद अपना इस्तीफा भेज दिया. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बाकी स्टाफ का जम्मू से तबादला किया जा रहा है और जो लोग कांट्रैक्ट पर थे, उनकी छुट्टी की जा रही है. फोटोग्राफर के रूप में इंडियन एक्सप्रेस, जम्मू के लिए कार्यरत अमरजीत सिंह का कांट्रैक्ट प्रबंधन ने खत्म कर दिया है. इंडियन एक्सप्रेस जैसे बड़े अखबार ने जम्मू से अपना कामकाज समेट लिया है तो इसका असर घाटी की पत्रकारिता पर पड़ना तय है. संवेदनशील लोग एक्सप्रेस समूह के इस फैसले से दुखी हैं. मीडियाकर्मी भी मायूस हैं.

उल्लेखनीय है कि जम्मू में इंडियन एक्सप्रेस ने 1997 में अपना एडिशन शुरू किया था. मुख्य अखबार के साथ आठ पेज का जेके न्यूजलाइन नामक लोकल पुलआउट भी निकलता था. एक साल बाद 1998 में इंडियन एक्सप्रेस ने स्थानीय अखबार हिमालयन मेल के साथ एक समझौता किया. इसके बाद एक्सप्रेस ने अपने लोकल पुलआउट को बंद कर समझौते के अनुसार मुख्य अखबार के साथ हिमालयन मेल देना शुरू कर दिया. 13 वर्षों बाद यह समझौता भी टूट गया. समझौता तोड़ने के बाद इंडियन एक्सप्रेस प्रबंधन ने जम्मू से अखबार के प्रकाशन को भी बंद करने का फैसला कर लिया.

अगर आपके पास भी मीडिया से जुड़ी कोई खबर है तो आप हम तक bhadas4media@gmail.com या फिर yashwant@bhadas4media.com के जरिए पहुंचा सकते हैं. आपके नाम और पहचान का कभी खुलासा नहीं किया जाएगा. 

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “जम्मू से इंडियन एक्सप्रेस का प्रकाशन बंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *