भ्रष्ट व्यवस्था से जंग आरटीआई के जरिए

‘भ्रष्ट व्यवस्था के खिलाफ आरटीआई आम आदमी का सशक्त हथियार है। जब तक इसका इस्तेमाल दृढ़ता से नहीं करेंगे, फायदा नहीं मिलेगा। करेंगे तो वाकई गजब हो जाएगा।’ यह बात रविवार को नोएडा के सेक्टर छह स्थित इंदिरा गांधी कला केंद्र में ‘पत्रकारिता में सूचना के अधिकार का महत्व’ विषय पर आयोजित सेमिनार में वक्ताओं ने कही। कार्यक्रम का आयोजन नोएडा मीडिया सेंटर जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने किया।

कार्यक्रम में वक्ताओं ने आरटीआई के इस्तेमाल में पत्रकारों की भूमिका को महत्वपूर्ण बताया। वरिष्ठ पत्रकार राहुल देव ने कहा कि अगर आजादी के बाद के 60 वर्षों में हम बेहतर कार्य करते तो शायद आरटीआई (जन सूचना अधिकार) कानून की जरूरत ही न पड़ती। उन्होंने साफ लफ्जों में कहा कि मीडिया भी बहुत पारदर्शी नही है। अगर ऐसा हो जाए तो आम आदमी का भरोसा लोकतंत्र के इस चौथे स्तंभ पर और बढ़ेगा। पूर्व राज्यसभा सांसद व आरटीआई के जानकार डॉ. योगेंद्र नारायण ने कहा कि निष्पक्ष कार्य के लिए सूचना आयुक्तों की जिम्मेदारी तय हो। उन्होंने आम आदमी के लिए नोएडा जैसे हाइटेक शहरों में आरटीआई के लिए कॉल सेंटर खोलने और पत्रकारों को सजगता से कार्य करने की आवश्यकता बताई।

पत्रकार नंद किशोर त्रिखा ने कहा कि जन सामान्य को शासन से पूछने का यह अधिकार बड़ी ताकत है। स्वीडन से उठी यह लहर आज दुनिया के पचास से ज्यादा देशों में फैल चुकी है। नोएडा मीडिया सेंटर जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल निगम ने इस मौके पर बताया कि संस्था जिले में स्वस्थ और रचनात्मक कार्य करने वाले पत्रकारों के लिए वार्षिक पुरस्कार योजना शुरू करेगी।

कार्यक्रम में नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस वे अथॉरिटी के चेयरमैन मोहिंदर सिंह, सांसद सुरेंद्र नागर, डीसीईओ एनपी सिंह, एसएसपी ऐटा आरके चतुर्वेदी, एसपी सिटी एके त्रिपाठी, विधायक मदन चौहान, शासकीय अधिवक्ता केके सिंह, मुख्य अनुरक्षण अभियंता यादव सिंह, यूपीपीसीएल के डीजीएम एपी मिश्र, सहायक निदेशक जनसंपर्क दिनेश गुप्ता, अशोक चौहान, कांग्रेस नेता जोगेंद्र अवाना, विक्रम भाटी, अजय चौधरी, एनईए अध्यक्ष राजकुमार चौधरी, फोनरवा अध्यक्ष एनपी सिंह, महासचिव सुरेश तिवारी, विपिन मल्हन, राकेश कात्याल, एसएम सिंह, डॉ. जीसी वैष्णव, भाजपा के पूर्व मंत्री नवाब सिंह नागर, डॉ.वीएस चौहान, उद्यमी विमला बाथम, अरुणा अरोड़ा, महेश सक्सेना, वीएस चौधरी, डॉ. एनके शर्मा, डॉ. वीके गुप्ता, योगेंद्र चौधरी, डीडी अरोड़ा, डॉ. वीरेंद्र सिंह, मुन्ना कुमार शर्मा, मदन शर्मा, एनके जोशी, सुदर्शन अवस्थी, रघुराज, अनूप राय, मुकेश कक्कड़, विनीत चौधरी सहित शहर के अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे। मंच का संचालन संस्था के पदाधिकारी चेतन आनंद व रामपाल रघुवंशी ने किया। कार्यक्रम के अंत में सचिव आलोक द्विवेद्वी ने मेहमानों का धन्यवाद दिया।

Comments on “भ्रष्ट व्यवस्था से जंग आरटीआई के जरिए

  • gulshan saifi says:

    priye bandhu,
    sabhi jante hai ki r t i hamara behad majboot hathiyar hai.par saktiyo ka aadikaal se hi duruparyog bhi ho raha hai.ye satya hai ki patarkar r t i ka use karte hai.parantu ye bhi satya hai ki patarkar hi ishka duruparyog bhi kar rahe hai.
    acche patarkar bhi lapka patarkaro ki wajah se shaq ki nigaho se dekhe jate hai.antah khuda sabko sadbuddhi de.aur r t i ka sahi ishtemal ho ishi kamna ke sath aapse anumati leta hoon .
    aapka apna sathi
    gulshan saifi

    Reply
  • kumar hundustani says:

    bhaiya ye association sirf bhole bhale media karmion ko chutiyaa banane ke liye hi banayee gayee hai. association ke president aur kuch padadhikari kewal apne niji swarthon ke liye ise chala rahe hai. dekhte hain ki iska harsh kya hota hai. bata doon ki association join karne wale har media karmi se in manniyeon ne 1000-1000 rs vasulen hai. lekin na to paise dene walo ke paas koi suchna hai aur na hi kahi par association ka thikana hai.

    Reply
  • lagta hai hindustani kumar ji ne guru nhi dekhi..guru me 1 dilog hai ki .jab log tumhari burai karne lage to samjho ki tum tarakki kr rhe ho…

    Reply
  • sapan yagyawalkya says:

    suchna ka adhikar patrakarita ke liye pramanikta dene main sahayak hai. iska upyog kiya jana chahiye. Sapan Yagyawalkya Bareli(MP)

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *