तीन बड़े न्यूज चैनलों के बड़े विकेट गिरे

: आईबीएन7 से अभिषेक उपाध्याय, एनडीटीवी से राजीव शर्मा और इंडिया टीवी से प्रशांत टंडन का इस्तीफा : तीन बड़े न्यूज चैनलों में सीनियर पदों पर कार्यरत तीन पत्रकारों के इस्तीफा देने की खबर है. शुरुआत अभिषेक उपाध्याय से जो आईबीएन7 में कार्यरत थे. आईबीएन7 की टीम के प्रतिभाशाली रिपोर्टर और एंकर अभिषेक उपाध्याय ने इस्तीफा देकर नई पारी की शुरुआत टीवी9 के नए लांच होने जा रहे नेशनल हिंदी चैनल में चीफ आफ ब्यूरो के रूप में की है.

अभिषेक फिलहाल मुंबई में बैठेंगे और करीब एक वर्ष के भीतर टीवी9 के नेशनल हिंदी चैनल के लांच होने पर दिल्ली आ जाएंगे. अभिषेक आईबीएन7 में सीनियर स्पेशल करेस्पांडेंट के पद पर कार्यरत थे. उन्हें पिछले साल रामनाथ गोयनका एवार्ड भी मिला था. उन्हें पत्रकारिता का यह प्रतिष्ठित एवार्ड गुजरात में अवैध डब्बा ट्रेडिंग के चालीस हजार करोड़ रुपये के रैकेट के भंडाफोड़ के चलते दिया गया था. अभिषेक की इस खबर के बाद अवैध डब्बा ट्रेडिंग के खिलाफ सेबी व इनकम टैक्स के देशव्यापी छापे पड़े थे. अभिषेक ने करियर की शुरुआत अमर उजाला, कानपुर से की थी. वे आईबीएन7 से वर्ष 2005 में ट्रेनी के रूप में जुड़े और अपनी प्रतिभा के बल पर देखते ही देखते काफी तरक्की कर गए.

दूसरी सूचना इंडिया टीवी से है. यहां के एक्जीक्यूटिव एडिटर प्रशांत टंडन ने इस्तीफा दे दिया है. वे कहां जा रहे हैं, इसका पता नहीं चल पाया है. मीडिया इंडस्ट्री में 20 वर्षों से सक्रिय प्रशांत आईबीएन7 और स्टार न्यूज में भी काम कर चुके हैं. वे आईबीएन7 में एसाइनमेंट हेड हुआ करते थे, बाद में उन्हें डिप्टी एडिटर बना दिया गया था. स्टार न्यूज में वे सीनियर प्रोड्यूसर थे. करियर की शुरुआत प्रशांत ने टीवीआई से की थी.

तीसरी सूचना एनडीटीवी से है. यहां प्रिंसिपल करेस्पांडेंट के पद पर कार्यरत राजीव शर्मा ने इस्तीफा दे दिया है. राजीव दिल्ली सिटी के ब्यूरो चीफ हुआ करते थे. राजीव कहां जा रहे हैं, यह पता नहीं चल पाया है पर सूत्रों का कहना है कि राजीव अपने होम टाउन पौढ़ी गढ़वाल स्थित गांव में चले गए हैं. वहां से लौटने के बाद ही वे कुछ तय करेंगे. सूत्रों के मुताबिक राजीव को एनडीटीवी प्रबंधन ने रोकने की काफी कोशिश की थी पर वे किन्हीं चीजों से दुखी थे, इस कारण उन्होंने रुकने से इनकार कर दिया. सूत्रों के मुताबिक राजीव ने प्रबंधन से साफ कह दिया कि वे हर हाल में जाना चाहते हैं और कुछ दिन मीडिया से दूर रहकर खुद को पहचानना चाहते हैं. राजीव ने करियर की शुरुआत वर्ष 2000 में जैन टीवी से की थी और वर्ष 2003 में एनडीटीवी चले आए. तबसे वे एनडीटीवी में ही कार्यरत थे.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “तीन बड़े न्यूज चैनलों के बड़े विकेट गिरे

  • indiakites says:

    poot ke panv palne mein hi nazar aa jate hai Abhishekh bhai tode samay ke liye jaipur rahe lekin unki paratibha tab hi pehchaan li gayi thi.tezi se badli iss TV news ki duniya ke safal sitare ko badhai !

    Reply
  • abhishek ji tohde se paiso ke liye aapne itna bada banner chod diya jisna aapko chalna sikhaya…tha aapko pahchan di….. aapko is kabil banaya……

    Reply
  • Rajesh Ambaliya says:

    Abhishekji aap ko bahot bahot badhai sir aap ke sath kaam karne me muje bahot anand mila aapne IBN-7 me jo kaam kiya hai vo koi nahi bhul payega sir aap ko yeh nai pari ki subhkamnaye…………….Rajesh (Ahmedabad)

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *