तीन पत्रकारों के दुख भरे दिन

: अनुरंजन – रवींद्र शाह को डेंगू : विभूति दुर्घटना में घायल : आप लाख चाहें की चीजें आपके हिसाब से ठीकठाक चलें, लेकिन अक्सर ऐसी अप्रत्याशित घटनाएं, हादसे हो जाते हैं जिससे सोचा-विचारा प्लान फेल हो जाता है और पूरी लड़ाई अस्तित्व बचाने की शुरू हो जाती है. बीमारी और दुर्घटना, दो ऐसे राक्षस हैं जिससे हम पत्रकार आए दिन दो-चार होते रहते हैं.

दिल्ली के तीन पत्रकारों को डेंगू

दक्षिण पूर्वी दिल्ली के जामिया नगर में डेंगू ने आतंक फैला रखा है. हर गली में डेंगू के मरीज मिल जाएंगे. डेंगू के शिकार तीन जर्नलिस्ट भी हो गए हैं. एनडीटीवी के मुन्ने भारती डेंगू के कारण आठ दिन बंसल हास्पिटल, एनएफसी में भर्ती रहे. आजकल अपने निवास में रहकर इलाज करा रहे हैं. आजतक के इमरानुल हक भी अपने निवास पर रहकर इलाज करा रहे हैं. राममनोहर लोहिया हास्पिटल के डाक्टर वली की देखरेख में उनका इलाज चल रहा है.