एकजुट होकर संघर्ष करेंगे देशभर के पत्रकार

देश भर से आए विभिन्‍न पत्रकार संगठनों ने गुरुवार को दिल्‍ली में एक साझा मंच बनाने का एलान किया. लगभग 12 हजार पत्रकारों का प्रतिनिधित्‍व करने वाले इन संगठनों ने अपने साझा बयान  में कहा कि न्‍यूज पेपर्स और न्‍यूज एजेंसी कर्मचारी संगठन और दूसरे पत्रकार संगठन मिलकर एक राष्‍ट्रीय मंच की स्‍थापना करेंगे. इस मंच के जरिए देश भर के पत्रकार न सिर्फ सम्‍मानजनक वेज बोर्ड पाने के लिए बल्कि आचार संहिता और लोकतांत्रिक मीडिया के लिए भी साझा संघर्ष करेंगे.

संसद घेरना, अदालत में गुहार जरूरी : नैयर

नई दिल्‍ली. राष्‍ट्रीय पत्रकारिता दिवस पर पत्रकारिता बचाओ के तहत हुए आयोजन में ज्‍यादातर की राय थी कि देश में बहुसंख्‍यक लोगों को आज भी भरोसा प्रिंट मीडिया पर ही है इसलिए इसे बचाए रखने के लिए सभी मीडियाकर्मियों को एकजुटत होना होगा. पूर्व सांसद और वरिष्‍ठ पत्रकार कुलदीप नैयर ने कहा कि वे जब पत्रकारिता में थे तब आज की अपेक्षा बेहतर माहौल था. आज वे ठेके पर पत्रकारों की नियुक्ति और विविध स्‍तरों पर पेड न्‍यूज का बोलबाला देख रहे हैं, उस पर उन्‍हें आश्‍चर्य है.

‘पत्रकारिता बचाओ’ दिवस मनाएं 16 नवम्‍बर को : डीयूजे

नई दिल्‍ली. दिल्‍ली यूनियन आफ जर्नलिस्‍ट्स (डीयूजे) ने सभी मीडियाकर्मियों से 16 नवम्‍बर (राष्‍ट्रीय पत्रकारिता दिवस) को पत्रकारिता बचाओ (सेव जर्नलिज्‍म) के रूप मनाने की अपील की है. वजह है नव उदारीकरण और आर्थिक मंदी के दौर में अभिव्‍यक्ति की आजादी पर तरह-तरह के बंधन, जिनकी वजह से पत्रकारों को निडर होकर काम करने में कठिनाई बढ़ी है.