संपादक को सौ प्रतिशत जिम्मेदार माना जाना चाहिए

[caption id="attachment_15060" align="alignright"]संजय कुमार सिंहसंजय कुमार सिंह[/caption]पेज रिपीट होने के लिए संपादक को सौ प्रतिशत जिम्मेदार माना जाना चाहिए क्योंकि ऐसी भयानक गलती सिर्फ एक आदमी की लापरवाही से नहीं हो सकती है और अगर एक ही आदमी के सिर इतनी बड़ी जिम्मेदारी है तो संपादक को तनख्वाह काहे की मिलती है ? पेज रिपीट होने की गलती संपादकीय विभाग वालों की लापरवाही से कम और प्रेस वालों की लापरवाही से ज्यादा होने की आशंका रहती है। फिर भी अखबार निकालना टीम का काम है और टीम का मुखिया अपनी जिम्मेदारी से कैसे बच सकता है।