कामरेडों को फिर रास न आई रिपोर्टिंग

अबकी “प्रथम प्रवक्ता’ में छपी रिपोर्ट को अनुचित बताया : संपादक रामबहादुर राय को पत्र भेजकर विरोध जताया : कामरेडों ने ‘मति भ्रष्ट’ मीडिया वालों को रास्ते पर लाने की तैयारी कर ली है. फिलहाल वे यह काम चिट्ठी लिख-लिख कर कर रहे हैं. इस काम को अंजाम देने के लिए कामरेड लोग जर्नलिस्ट यूनियन फार सिविल सोसाइटी (जेयूसीएस) के बैनर का इस्तेमाल करते हैं. इसी बैनर तले कई लोगों के हस्ताक्षरों से युक्त एक पत्र भड़ास4मीडिया के पास पहुंचा है. पत्र में ‘प्रथम प्रवक्ता’ मैग्जीन में छपी एक रिपोर्ट के सही-गलत के बारे में विस्तार से बताया गया है. पत्र लेखकों में जिन-जिन के नाम है, वे इस प्रकार हैं- अवनीश राय, लक्ष्मण प्रसाद, विजय प्रताप, विनय जायसवाल, ऋषि कुमार सिंह, शाहनवाज आलम, राजीव यादव, रवि राव, शिवदास, विवेक मिश्र, चंद्रिका, अरूण उरांव, प्रबुद्ध गौतम, अनिल, नवीन कुमार, पंकज उपाध्याय, दिलीप, संदीप दुबे, राघवेन्द्र प्रताप सिंह, देवाशीष प्रसून, राकेश कुमार, शालिनी वाजपेयी, सौम्या झा, पूर्णिमा उरांव, अर्चना मेहतो, अभिषेक रंजन सिंह, अरुण वर्मा, तारिक शफीक, मसीहुद्दीन संजरी, पीयूष तिवारी, अभिमन्यु सिंह, प्रकाश पाण्डेय, ओम नागर, प्रवीण मालवीय आदि. संपर्क के लिए दो मोबाइल नंबर भी दिए गए हैं जो इस प्रकार हैं- 09415254919, 09452800752. तो लीजिए, प्रथम प्रवक्ता में छपी रिपोर्ट पर कामरेडों की आपत्ति को पढ़िए…