बिना काम के भी इस पूर्व संपादक को दी जाती थी भारी रकम

लंदन। विवादास्पद ब्रिटिश साप्ताहिक “न्यूज आफ द वर्ल्‍ड” में संपादक रहे एंडी कलसन को समाचारपत्र से अलग होने और डेविड कैमरन का मीडिया सलाहकार और तत्कालीन विपक्षी नेता नियुक्त होने के बाद भी उन्हें अखबार की तरफ से भारी धनराशि और अन्य सुविधाओं के मिलते रहने का नया खुलासा हुआ है।

पुरस्‍कृ‍त रिपोर्टर को पुलिस ने गिरफ्तार किया

लंदन। ब्रिटेन के हैकिंग प्रकरण में लंदन पुलिस ने फिल्मी बीट देख रहे पुरस्कृत रिपोर्टर जेम्स डेशबोरफ को गिरफ्तार किया है। जेम्स न्यूज ऑफ द वर्ल्‍ड के लिए काम कर रहा है। जेम्स को पुलिस ने अखबार की आपराधिक गतिविधियों को लेकर पूछताछ के लिए तलब किया था। पूछताछ के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

इस गड़बड़ी की पूरी जानकारी अखबार के संपादकों को थी

लंदन। ब्रिटेन में फोन हैकिंग कांड में बंद हुए न्यूज आफ द वर्ल्‍ड अखबार में विशेष संवाददाता रहे क्लाइव गुडमैन के एक खत से खुलासा हुआ है कि अखबार के प्रमुख संपादकों को फोन हैकिंग मामले की पूरी जानकारी थी। ब्रिटिश दैनिक गार्डियन के मुताबिक गुडमैन ने 2 मार्च 2007 को अखबार के मानव संसाधन विभाग के निदेशक डेनियल क्लोक को लिखे अपने खत में कहा था कि अखबार से उन्हें शाही परिवार के कुछ सदस्यों का फोन सुनने के मामले में निकाल देना सरासर गलत कदम था क्योंकि इसमें वह अकेले ही शामिल नहीं थे।

फोन हैंकिंग मामले में पूर्व डेस्‍क प्रभारी गिरफ्तार

गत महीने समूचे ब्रिटेन को हिलाकर रख देने वाले फोन हैकिंग प्रकरण में पुलिस ने अब बंद हो चुके अखबार ‘न्यूज आफ द वर्ल्ड’ के एक वरिष्ठ पत्रकार को गिरफ्तार किया है। टेलीविजन चैनल स्काई न्यूज के मुताबिक ब्रिटश पुलिस ने न्यूज आफ द वर्ल्ड के समाचार डेस्क के प्रभारी रहे वरिष्ठ पत्रकार ग्रेग मिस्कीव को गिरफ्तार कर लिया है। फोन हैकिंग प्रकरण की जांच करने वाली संसदीय सिमित ने मिस्कीव को फोन हैकिंग के लिए एक जासूस के संपर्क में रहने वाला व्यक्ति बताया था।

समन के बाद समिति के समक्ष पेश होंगे मर्डोक पिता-पुत्र

फोन हैंकिंग के मामले में बंद हो चुके अखबार न्‍यूज ऑफ द वर्ल्‍ड के मालिक रूपर्ट मर्डोक और उनके पुत्र जेम्स मर्डोक ब्रिटेन की संसद की मीडिया मामलों की समिति के समक्ष पेश होने को तैयार हो गए हैं। यह जानकारी कंपनी की ओर से दी गई है। संसदीय समिति मर्डोक से उनके स्वामित्व वाले समाचार पत्र न्यूज ऑफ द वर्ल्‍ड से जुड़े फोन हैकिंग मामले के बारे में अगले हफ्ते पूछताछ करेगी। इसके पहले पिता-पुत्र समिति के सामने उपस्थित नहीं हुए थे।

न्‍यूज ऑफ द वर्ल्‍ड का पूर्व सहायक सम्‍पादक गिरफ्तार किया गया

लंदन : फोन हैकिंग के मामले में विवाद गहराने के बाद न्‍यूज ऑफ द वर्ल्‍ड बंद हो चुका है. परन्‍तु 168 वर्ष पुराने समाचार पत्र न्यूज ऑफ द वर्ल्‍ड से जुड़े लोगों की परेशानियां कम नहीं हो रही हैं. पुलिस ने इस अखबार के एक पूर्व सहायक सम्पादक नील वालिस को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया. वालिस फोन हैंकिंग के दौर में अखबार के सहायक सम्‍पादक थे.

न्‍यूज ऑफ द वर्ल्‍ड के पूर्व संपादक एंडी कौलसन गिरफ्तार

लंदन :  ‘ न्यूज ऑफ द वर्ल्ड ‘ के पूर्व सम्पादक एंडी कौलसन को फोन हैकिंग और भ्रष्टाचार के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया। साथ ही, 168 वर्ष पुराने इस समाचार पत्र को बंद किए जाने की भी घोषणा की गई। रविवार का इसका संस्करण अंतिम होगा।यह गिरफ्तारी ऐसे समय हुई है, जबकि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कौलसन को ‘ दूसरा मौका ‘ दिए जाने और उन्हें अपना संचार निदेशक नियुक्त किए जाने के अपने फैसले का बचाव किया है, जो नौकरी वह छोड़ चुके हैं।

रविवार को आखिरी बार छपेगा 168 साल पुराना अखबार

आगामी रविवार को ‘न्‍यूज ऑफ द वर्ल्‍ड’ का आखिरी एडिशन निकलेगा. इसके साथ ही 168 साल पुराना साप्‍ताहिक अखबार इतिहास के पन्‍नों दफन हो जाएगा. अखबार के मालिक जेम्‍स मर्डोक ने अखबार को बंद करने का एलान कर दिया. ब्रिटिश फुटबालर रियान गिग्‍स के फोन हैकिंग की वजह से इस अखबार को बंद किया जा रहा है.  इसके साथ ही दो सौ कर्मचारियों की नौकरी अधर में लटक गई.