हिमालय की संस्‍कृति से परिचित करा रहे हैं पत्रकार शंकर

राजजातअपने उद्भव काल से ही हिमालय और उसके इर्द-गिर्द मानव समाज की बसावट बाकी समाजों के लिए कई रूपों में कौतूहल व आश्चर्य से कम नहीं रहा है। हिमालय की पर्वत श्रृंखलाएं मानव समाज के लिए चुनौती भी पेश करती रहीं हैं। समय के साथ मनुष्य ने हिमालय की हैरान करने वाली चोटियों पर चढ़ाई कर अपने साहस और क्षमता का प्रदर्शन भी किया। हिमालय से गहरे तक जुड़े समाजों में अपने इसी साहस के बूते बाकी देशज समाजों से भिन्न अपनी तरह के सांस्कृतिक रिश्ते भी मेले-उत्सव के रूप में अस्तित्व में आए।.