ईटीवी से मनोज का इस्‍तीफा, पुरुषोत्‍तम पहुंचे टाइम्‍स ऑफ इंडिया

ईटीवी, राजस्‍थान से मनोज शर्मा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे पाली में ईटीवी के लिए रिपोर्टिंग करते थे. चर्चा है कि वे अपनी नई पारी इंडिया न्‍यूज से शुरू करने वाले हैं. मनोज पिछले पन्‍द्रह सालों से मुख्‍य धारा की पत्रकारिता कर रहे हैं. वे ईटीवी की लांचिंग टीम के सदस्‍य थे. वे भास्‍कर को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं. माना जा रहा है कि पिछले दिनों हुए अमीन खान विवाद के चलते उन्‍होंने इस्‍तीफा दिया है.

अंग्रेजी दैनिक पायनीयर से पुरुषोत्‍तम अराधक ने इस्‍तीफा दे‍ दिया है. अब वे अपनी नई पारी टाइम्‍स ऑफ इंडिया के साथ शुरू करने जा रहे हैं. इसके पहले पुरुषोत्‍तम नवभारत टाइम्‍स, जागरण सिटी प्‍लस तथा हिंदुस्‍तान टाइम्‍स ग्रुप के साथ भी काम कर चुके हैं.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “ईटीवी से मनोज का इस्‍तीफा, पुरुषोत्‍तम पहुंचे टाइम्‍स ऑफ इंडिया

  • mazahar khan says:

    Manoj bhai, choro ke giroh se bahar niklne par bahut-bahut badhai. Yah Katil to sabhi imandar karmchariyo ka katl karega. Isne apni janmdata Vasundhara Raje ko bhi dokha de diya to aap kya cheej ho. Aap to mast hokar India News join karo or e tv ko khabaro me dho kar rakh do.

    Reply
  • bihar desk par kya sab ho raha hai, niyantran ke bhar hai desk, bp vs ce ka yudhh chhida hai, joota chalna baki hai.shoshan ka mahal gir jayega

    Reply
  • यशवंतजी यह पूरा मामला मुझे मालूम है. यह पत्रकारों के लिए पूरी तरह शर्मनाक वाकया है. मैं बताता हूँ क्या और कैसे हुआ. राजस्थान सरकार के मंत्री अमीन खान ने उस दिन पाली में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान राष्ट्रपति किसी समय इंदिरा गांधी की किचन में खाना बनाती और बरतन धोती थी. उन्हें इसी सेवा का मेवा मिला है. पाली में ई टीवी के रिपोर्टर मनोज शर्मा ने इसे कवर कर लिया और समाचार प्रभारी प्रवीण दत्ता को फ़ोन किया. दत्ता ने कहा कि वो कातिल साब को पूछ कर बताते हैं कि खबर चलानी है या नहीं. दोपहर को हुई इस बातचीत के बाद दत्ता ने रात को मनोज शर्मा को फ़ोन करके बताया कि उन्होने खबर चलने के लिए कातिल साब को बड़ी मुश्किल से राजी कर लिया है. आप खबर भेज दो. मनोज शर्मा ने खबर भेज दी और कण्ट्रोल रूम में भी ब्रेकिंग लिखवा दी. इसके अगले दिन कण्ट्रोल रूम इंचार्ज महेश शर्मा ने फ़ोन कर मनोज शर्मा को लपकाना शुरू कर दिया. उसका कहना था कि घटना के तुरंत बाद ब्रेकिंग क्यों नहीं लिखवाई. आप तो माफीनामा लिख कर भेजो. मनोज शर्मा ने बताया कि उन्होने प्रवीण दत्ता को तुरंत ही बता दिया था. इधर दत्ता तो खुद अपनी खल बचने में लग गए. उन्होंने मनोज शर्मा को फ़ोन करके कहा कि आप को माफीनामा लिखना ही होगा. स्वाभिमानी मनोज अड़ गए तो दो-तीन दिन में जयपुर वालों ने भी जिद छोड़ दी. लेकिन मनोज ने ऐसे संस्थान में काम ही नहीं करने की ठान ली और आखिर इस्तीफा देकर ही माने. इस प्रकरण ने मनोज के बूढ़े माता-पिता को भी बहुत आहत किया. उन्होंने भी अपने बेटे को ऐसे संस्थान की नौकरी छोड़ने के लिए कहा. इस तरह ई टीवी ने अपना एक ईमानदार और निष्टावान कर्मचारी खो दिया. रामोजी अब तो जागिये, आपने किन भ्रष्टों को अपना चेनल सौंप दिया. नाम आपका ही ख़राब हो रहा है. कातिल उर्फ़ जगदीश चन्द्र अरोड़ा को तो सब जानते हैं कि वो किस तरह का आदमी है. यह आर ए एस से प्रमोट होकर आई ए एस बना था. इसने अपनी नौकरी में भ्रष्टाचार के कीर्तिमान स्थापित किए. राजस्थान का यह पहला अफसर है जिसने संगठित तरीके से भ्रष्टाचार की शुरुआत की. इसने क्या नहीं किया अपनी नौकरी में. इसके खिलाफ कई जांचें पेंडिंग है. जेल जाने से बचने के लिए ही तो इसने मीडिया की आड़ ली है. आज राजस्थान के सैकड़ों अधिकारी, मंत्री, विधायक और उद्योगपति कातिल की ब्लैकमेलिंग का शिकार होकर तड़फ रहे हैं.

    Reply
  • e tv ka karmchari (jaipur) says:

    ई टीवी में इन दिनों चमचों की पौ-बारह है. इन्हीं चमचों ने सीधे-सादे मनोज शर्मा की बलि ली है. कातिल साब के एक खासुल-खास चमचे महेश शर्मा की झूठी शिकायत पर मनोज जी को हटाया गया है. कातिल साब यानि कि जगदीशचंद्र अरोड़ा. ये साब खुद को जगदीशचंद्र कातिल कहना और कहलाना अधिक पसंद करते हैं. कातिल साब की छवि भ्रष्ट अफसर की रही है. कातिल साब ने ई टीवी में भी अपने सरकारी हथकंडे लागू किए हैं. इसके चलते चमचों की बन आई है. चमचे कातिल साब के नाम पर ई टीवी के अन्य कर्मचारियों पर मनमानी कर रहे हैं और उनसे वसूली कर अपना घर भर रहे हैं. दो मुख्य चमचे जयपुर में बैठते है और वहीं से बिहार, यूपी, एमपी बी अन्य राज्यों के कर्मचारियों पर शासन करते हैं. वे कातिल साब का नाम लेकर वरिष्ठ हो या कनिष्ठ सभी पर मनमाने आदेश लागू करते हैं. सबसे बड़ा चमचा है महेश शर्मा जो खुद को कण्ट्रोल रूम का आल इंडिया इंचार्ज बताता है. यह महेश शर्मा कभी कोटा का साधारण स्ट्रिंगर हुआ करता था जो अपने बॉस को रेस्पेक्टेड़ बाबूलालजी कहने के कारण हंसी का पात्र बनता था. इसे अपनी चम्चागिरियों का इनाम मिला और इसे रिपोर्टर बना दिया गया. इसके साथ सिर मुंडाते ही ओले पड़ने वाली कहावत सच हुई. यह रिपोर्टर बना ही था कि ई टीवी में कातिल राज आ गया. यह चमचागिरी की अपनी आदत से बाज नहीं आया, लेकिन कातिल ने इसे कण्ट्रोल रूम में बैठा दिया. यहाँ इसे रिपोर्टरों की ब्रेकिंग और स्क्रोल न्यूज़ लिखने का कम दिया गया जो यह अब तक कर रहा है. कातिल ने इसे राजी करने के लिए आल इंडिया इंचार्ज का ख़िताब दे दिया है जिसे लेकर यह खुश हुआ घूमता है. कातिल साब इसे कई बार रात में भी घर नहीं जाने देते. कातिल साब अपनी ब्लैकमेलिंग वाली ब्रेकिंग और स्क्रोल इसी को फ़ोन करके लिखाते हैं. महेश जब स्ट्रिंगर था तो इसकी रिश्वतखोरी की शिकायतें आयीं थी, लेकिन तत्कालीन डेस्क इंचार्ज कुंजन आचार्य ने इसकी सेवाओं के मद्देनजर नजरंदाज कर दिया था. अब कण्ट्रोल रूम में महेश को अपनी रिश्वतखोरी पनपने का शानदार अवसर मिला हुआ है.और यह इसका जमकर फायदा ले रहा है. कातिल साब की अस्सी फीसदी पत्रकारिता या कहें कि ब्लैक मेलिंग व चमचागिरी ब्रेकिंग न्यूज़ व स्क्रोल के जरिये ही होती है. वे पूरे राजस्थान के सभी रिपोर्टरों को ऐसी ब्रेकिंग लाने को कहते है जिसके बूते किसी अफसर,नेता या उद्यमी को ब्लैक मेल किया जा सके. कातिल का यह गन्दा काम कराता है महेश शर्मा. वो सभी रिपोर्टरों को धमकाता रहता है कि मेरी सेवा करो नहीं तो साब को शिकायत कर दूंगा. साब भी इसकी शिकायतों पर रिपोर्टरों की क्लास ले लेते हैं. इस कारण हालत यह है कि वरिष्ट लोग भी अपनी नौकरी बचने के लिए इन चमचों से बना कर रखने को मजबूर हैं. आपको यह जान कर हैरानी होगी कि दूसरा खास चमचा आशीष दवे तो एक साधारण क्लर्क ही है. यह साब का मुंहलगा है और खुद को साब का ओ एस डी कहता है और पूरे देश में ई टीवी हिन्दी चेनल के रिपोर्टरों से वसूली करता है. साब दिन में कई बार इसे कुत्ते की तरह दुत्कारते है, मगर यह बेशर्मी से डटा हुआ है. आशीष दवे साब की पसंद-नापसंद सब जानता है और बिना जमीर का है. इसलिए साब भी सब जानते हुए भी उसे नहीं हटा रहे. आखिर ऐसा बिना जमीर का दूसरा आदमी उन्हें कहाँ मिलेगा. यह क्लर्क बड़े-बड़े रिपोर्टरों को डांटता- धमकाता है और स्ट्रिंगरों व इन्फोरमरों से तो बाकायदा गिफ्ट और रुपये वसूलता है. मिठाई के डिब्बों की तो उसके पास कतार लगती है. दोनों चमचों ने अपने अनेक रिश्तेदारों को ई टीवी में स्ट्रिंगर व इन्फोरमर लगाया है. ये चाहे जिसे स्ट्रिंगर-इन्फ़ोरमर बनाते है और हटाते हैं. इनके जुल्मों से तंग आकर ई टीवी के लोग त्राहि-त्राहि कर रहे हैं, मगर सुनने वाला कोई नहीं है, ये चमचे और कातिल साब एक-दूसरे की जरुरत बन गए हैं. कुछ लोगों का यह भी मानना है कि चमचों की वसूली में साब का भी हिस्सा है.

    Reply
  • e tv control rum ka purv karmchari says:

    यशवंत जी, आपका भड़ास हमारे लिए जैसे हमारे लिए भगवान बन कर आया है. पहली बार किसी ने ई टीवी कार्मिकों की पीड़ा उजागर की है. सर, भड़ास हिंदुस्तान का विकीलीक्स बन गया है. मैं ई टीवी के जयपुर स्थित कंट्रोल रूम में काम कर चुका हूँ. मैं इस हराम के जने महेश शर्मा का शिकार बन चुका हूँ. इसी के कारण मुझे नौकरी छोड़ने को मजबूर होना पड़ा था. इसकी सब सेटिंग मैंने अपनी आँखों से देखी और कानों से सुनी है. भाईसाब,यह तो सौ रूपए में ही स्क्रोल चला देता है.इस तरह यह रोज पांच सौ से लेकर हजार रूपए तक कमा लेता है. इसने कंट्रोलरूम में आपने चमचों का ग्रुप बना लिया है. ये चमचे जूनियर लड़के हैं. सिनिअर लोगों को तो यह दूर रखता है. महेश शर्मा कातिल साब के दूसरे खास चमचे आशीष दवे को भी हिस्सा देकर खुश रखता है. यह सब मैं आपको आँखों देखी बता रहा हूँ. यह ठीक है कि कातिल साब के काम करने का स्टाइल थोडा अलग है. उनके पास बहुत बड़ी जिम्मेदारी है. इसलिए उनको अधीनस्थ कर्मचारियों पर भरोसा करना पड़ता है. इसी का नाजायज फायदा महेश शर्मा और आशीष दवे जैसे नाकारा, नामुराद, नीच लोगुथा रहे हैं. इनको यदि कल ई टीवी निकल दे तो कोई चार हजार रूपए की नौकरी भी नहीं देगा.

    Reply
  • यशवंत जी, मैं आपको इस मामले की ब्रेकिंग न्यूज़ देता हूँ. कातिल एंड पार्टी के सताए और इनसे परेशान लोग शीघ्र ही एक जोरदार अभियान शुरू कर रहे हैं. अभियान की रूपरेखा तय हो गयी है. सत्ता में बैठे कुछ प्रमुख नेता, अफसर, बिजनेस मेन और बड़े पत्रकारों ने मिलकर अभियान की रुपरेखा तय की है. अभियान की शुरुआत मिश्र की तरह facebook पर होगी. इसमें कातिल व चमचों की करतूतें बताते हुए लोगो से अपील की जाएगी कि वे ई टीवी का बहिष्कार करे. मुझे सभी बातें तो नहीं पता लेकिन यह पता लगा है कि कातिल के पुराने और नए सभी मामलों के दस्तावेज एकत्र कर लिए गए हैं. कातिल को ई टीवी छोड़ने के लिए मजबूर किया जाएगा, फिर उसके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज करा कर उनमे कारवाई सुनिश्चित की जाएगी. मुझे डर है कि कहीं गुस्साए लोग कोई और कदम नहीं उठा ले. इस बारे मुझे कल महतवपूर्ण जानकारी मिलेगी तो और बताऊंगा.

    Reply
  • यशवंत जी, मैं आपको इस मामले की ब्रेकिंग न्यूज़ देता हूँ. कातिल एंड पार्टी के सताए और इनसे परेशान लोग शीघ्र ही एक जोरदार अभियान शुरू कर रहे हैं. अभियान की रूपरेखा तय हो गयी है. सत्ता में बैठे कुछ प्रमुख नेता, अफसर, बिजनेस मेन और बड़े पत्रकारों ने मिलकर अभियान की रुपरेखा तय की है. अभियान की शुरुआत मिश्र की तरह facebook पर होगी. इसमें कातिल व चमचों की करतूतें बताते हुए लोगो से अपील की जाएगी कि वे ई टीवी का बहिष्कार करे. मुझे सभी बातें तो नहीं पता लेकिन यह पता लगा है कि कातिल के पुराने और नए सभी मामलों के दस्तावेज एकत्र कर लिए गए हैं. कातिल को ई टीवी छोड़ने के लिए मजबूर किया जाएगा, फिर उसके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज करा कर उनमे कारवाई सुनिश्चित की जाएगी. मुझे डर है कि कहीं गुस्साए लोग कोई और कदम नहीं उठा ले. इस बारे मुझे कल महतवपूर्ण जानकारी मिलेगी तो और बताऊंगा.

    Reply
  • manoj sharma says:

    aap sabhi ko mujhe moral support ke liye many many thnx, main ye batana chahunga ki mujhe etv se hataya nahi gaya hai balki prataadna se tang aakar maine swechha se tyag patra diya hai. manojsharma,pali

    Reply
  • manoj ji… ye koi nai baat nahi hai… or etv ke is ithaas me aap koi pahle jane wale nahi….
    aap hi ke sambhag se pahle LALIT PARIHAR jaisa imaandar ,RANJAN DAVE mehanti or khabro ko jaan ne samhane wale log ja chuke hain in aashish dave jaise haram khoro ki badoulat.. is liye aap ko aap ke bhavishya ke liye dher sari shubkamneyen… Or haan yashwant ji aap ke jariyen mediya bandhuo ko batana chahuga ki upper jo bhee comment aayen hain unme puri sachhi hai….or ho sakta hai ki katil or uske gurge aap ko bhee ETV ki khaberne hatne ke liye bhastachaar ka lalach de deve lakin aap sachhyi or media kermiyon ki sachhai ko ujagar karen sath hi etv ki tamam khbro ki apni site se hatayen nahi…jisse janta hakikat se rubru ho sake.. or katil ke chamcho ke sath me reporter ke naam par nokri karne wale dalalo ki hakikat ujagar ho sake.

    Reply
  • Katil Bharat ke Kai Samapdko ko jeb me rkhta hai.Hotel Rambagh me permanent iska room book hai. Income tax wale janch nahi karte.pahle ye VC Shukla ka khas tha…fir Natwar Sigh ka kaha raha..fir Vasundhra ji ka..ab Veerpa Moili ka kahs ha..aur nyaik hastiyo ko patane me laga hai taki kal shikanja me fanse to kanooni dav se bach nikle..!
    Rajasthan Patrika ke Gulab ji waise to netikata ke sampadkiya likhte hai magar rahte Katil ke sath hai.shukria.

    Reply
  • parveenkumawat says:

    yaswant ji aapka bhut bhut dhanybad.manoj bhai aap aese etv chodkar akele kease ja sakhte ho ye to hamare sath aapne dhoka kiya hai. agar etv ne aap ka eastifa sivkar kar liya to hum log ditt.me jitne bhi easinger hai sab milkar estifa de denge JAB TAK AAP E TV ME HUM LOG BHI HAI MANOJ JI NAHI TO HUM BHI NAHI FROM.PALI DITT.KE SABHI ESTINGAR

    Reply
  • यशवंत जी वो खबर सही है कि ऐसा कोई अभियान आरम्भ होने जा रहा है. एक सूचना यह भी है कि यह अभियान पूरे मुल्क में शुरू होगा. नीरा राडिया प्रकरण से दुखी राष्ट्रीय स्तर के पत्रकारों ने पत्रकारिता में साफ-सफाई के उद्देश्य से यह मंसूबा बनाया है. इस अभियान में facebook जैसे अंतर्जालीय जरिये भ्रष्ट समाचार माध्यमों और करता-धर्ताओं को नंगा किया जायेगा. ऐसे लोगों को विज्ञापन देने वाली फर्मों और संरक्षण देने राजनेताओं के खिलाफ भी अभियान चलाया जाएगा. अवाम से उन्हें वोट नहीं देने की अपील की जाएगी. ऐसे नेताओं के भ्रस्टाचार और विधि-विरुद्ध क्रियाकलापों को भी उजागर किया जाएगा

    Reply
  • Madan Rathore says:

    It is not good for any one. Mr. Manoj is a hard worker and honest also. He introduced Etv. in Pali district very well. He often tried to approach any occurring incidents as soon as possible. We advise to the Management of Etv. to re-employ him if possible.

    Reply
  • manoj ji aap ne jo jung chedi hai aap to media ke anna hajare ho. aap kartil se etv ko azad karo etv ko basrtrthachari azad karo
    thanks

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *