एचयूजे का चुनावी घमासान शुरू, राठी फिर मैदान में

रोहतक। हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स यानी एचयूजे का चुनावी बिगुल बज गया है। यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष, महासचिव और प्रदेश कार्यकारिणी के 31 सदस्‍यों के लिए चुनाव होगा। वरिष्ठ पत्रकार अशोक मलिक को चुनाव अधिकारी मनोनीत किया गया है, जबकि चंडीगढ़ जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन के महासचिव अवतार सिंह सहायक चुनाव अधिकारी होंगे। चुनाव अधिकारी की ओर से जारी नोटिस के मुताबिक 14 सितम्बर शाम साढ़े छह बजे तक दाखिल नामांकन पत्रों की जांच 15 सितम्बर शाम साढ़े छह बजे चंडीगढ़ प्रेस क्लब में होगी।

नाम वापसी के लिए 17 सितम्बर को शाम साढ़े छह बजे तक का समय निर्धारित किया गया है। चुनाव के दौरान अगर उपरोक्त पदों पर सर्वसम्मति नहीं बनती तो फिर यूनियन की वार्षिक आम सभा के दिन मतदान से चुनाव होगा। हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के प्रदेश भर में इस समय एक हजार से ज्यादा सदस्य हैं। यूनियन की पदाधिकारियों का कार्यकाल दो साल का है। पहले यह कार्यकाल एक साल का होता था, लेकिन सवा दो साल पहले कार्यकारिणी की बैठक में इसे बढ़ाने का निर्णय लिया गया।

वर्तमान समय में प्रथम इम्पैक्ट पत्रिका के विशेष संवाददाता एवं हरिभूमि के संस्थापक समाचार संपादक संजय राठी यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष हैं। वे इस बार भी प्रदेश अध्यक्ष पद की दौड़ में हैं। हालांकि यूनियन के पूर्व पदाधिकारी उन्हें इस बार किसी भी सूरत में प्रदेश अध्यक्ष बनने नहीं देना चाहते। इन पदाधिकारियों ने बाकायदा समूह बनाकर राठी का अंदरखाते विरोध करना शुरू कर दिया है। इसलिए कहा जा सकता है कि इस बार राठी की राह आसान नहीं होगी। हालांकि संजय राठी ने एक बार फिर प्रदेश अध्यक्ष पद हासिल करने के लिए रणनीति बनानी शुरू कर दी है। वे प्रदेश भर के पत्रकारों से संपर्क साधे हुए हैं ताकि मतदान होने की स्थिति में अधिक से अधिक वोट उन्हें हासिल हो।

यूनियन का वार्षिक अधिवेशन इस बार फरीदाबाद में होना निश्चित हुआ है। पिछले दिनों रोहतक में हुई यूनियन की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में यह निर्णय लिया गया था। साथ ही इस अधिवेशन में हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया जाएगा। दीपक खोखर

रोहतक से दीपक खोखर की रिपोर्ट.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “एचयूजे का चुनावी घमासान शुरू, राठी फिर मैदान में

  • Rakesh malik. says:

    sajay rathi huj ka pahla jat pardhan hai.pahli bar patarkaro ki chaudhar jato ke hatho mai aai hai bhai is ne bahar koi naa jaan de ye baaman aur punjabi kuchh na bigad sakte rathi ka.agar imandari se election hua to mahra bhai pardhan jaroor banega.somnath sharma ki aukat hi kya hai 2 aane ka bhi koi na.jat ekta jindabad.

    Reply
  • dheeraj bajaj says:

    MALIK SAHAB PADE LIKHE PATRKAAR HO KAR BHI AAP YE SOCH RAKHTE HO…PATRKAARON KA KAAM JATIWAAD FELANA NAHI HAI. YE SANGATHAN HAI KOI RAJNITI KA AKHARA NAHI….

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *