घोटालों को उजागर करने में मीडिया ने बड़ी भूमिका निभाई : कलराज मिश्र

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य कलराज मिश्र ने रविवार को कहा कि समाज का चौथा स्तम्भ होने के कारण पत्रकारों ने सत्ता प्रतिष्ठान के सामने न झुकते हुए घोटालों को उजागर करने में बड़ी भूमिका निभाई की है। विशेष रूप से प्रिंट मीडिया ने देश में हो रहे बहुविध भ्रष्टाचारों को उजागर किया है। उन्होंने कहा कि समाज जीवन के विविध क्षेत्रों में गिरावट के साथ ही पत्रकारिता में भी गिरावट की बात कही जा रही है। लेकिन, पत्रकारिता जगत का अधिकांश हिस्सा इस आरोप से अछूता है।

श्री मित्र ने कहा कि पत्रकारिता समाज की विडंबनाओं को सामने लाने का स्तुत्य काम किया है। वे मई दिवस के उपलक्ष्य में एक मई को उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (उपजा) एवं लखनऊ जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन (एलजे) द्वारा राय उमानाथ बली प्रेक्षागृह में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पद से बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि बदलते वैश्विक और भारतीय परिवेश में पत्रकारों के लिए जहां रोजगार के अवसर बढ़ें हैं वहीं उनके सामने चुनौतियां भी बढ़ी हैं। उनका काम हो सकता है आठ, दस, बारह घंटे का होता हो लेकिन वे चौबीस घंटे के पत्रकार होते हैं। कारण प्रतिस्पर्धा के इस दौर में उन्हें हर समय सजग रहना पड़ता है। इसलिए किसी भी समय उनका काम खत्म नहीं होता है।

उन्होंने कहा कि इस सबके बावजूद पत्रकारों विशेष रूप से प्रिंट मीडिया से जुड़े पत्रकारों ने समाज को सचेत करने का बड़ा काम किया है। श्री मिश्र ने कहा कि मई दिवस पत्रकारों के अधिकारों और कर्तव्‍यों की समीक्षा का दिवस है। पत्रकार स्वयं कार्य का मूल्यांकन भी करता है। उन्होंने कहा कि पत्रकार की संचेतना जागृत होती है तो पत्रकार समाज में बदलाव के लिये बड़े कार्य करते हैं। पत्रकारों की इसी संचेलना ने ही देश में हुए महाघोटालों को उजाकर किया है।

शिक्षाविद डाक्टर रमेश दीक्षित ने इस अवसर पर कहा कि पत्रकारों के सामने चुनौतियां बड़ी हैं। समाज में सच के साथ खड़े होना उनका धर्म है तो परिवार और समाज की अन्य जिम्मेदारियों का दायित्‍व भी उनके ऊपर है। इस दौरान सांस्‍कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। उपजा से जुड़े तमाम पत्रकार कार्यक्रम में मौजूद रहे। प्रेस रिलीज

Comments on “घोटालों को उजागर करने में मीडिया ने बड़ी भूमिका निभाई : कलराज मिश्र

  • mishra ji jabalpur se says:

    Kalraj mishra ji media ki tarif karna jaruri kuki neta ji jo thahre wo bhi sattavirodhi parti ke. mishra ji aaj to khub bol rahe ho kal jab aap khotale me fasoge to media par dosh mat madhna. lekin easa hona to tay hai neta ji jo thahre…………

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *