भोजपुरिया जनता ने कहा निरहुआ सर्वश्रेष्‍ठ

: भोजपुरी सिनेमा पर अब तक का सबसे बड़ा जन सर्वेक्षण : भोजपुरी सिनेमा 50 सालों का सफर पूरा कर चुका है. इस लंबी पारी में अब तक लगभग 475 फिल्में प्रदर्शित हो चुकी हैं. बदलते वक्त के साथ-साथ भोजपुरी फिल्मों का मिजाज भी लगातार बदल रहा है. यह बदलाव कितना सकारात्मक है और कितना नकारात्मक और इसमें अपने-अपने क्षेत्र में किन लोगों ने सबसे श्रेष्ठ काम किया है.

यह जानने के लिए द संडे इंडियन और इंडियन कॉउसिल ऑफ मार्केट रिसर्च (आईसीएमआर) ने राष्ट्रीय स्तर पर 3000 लोगों की राय जानने की कोशिश की. यह सर्वेक्षण मार्च 2009  से मार्च 2010  के बीच प्रदर्शित भोजपुरी फिल्मों के आधार पर किया गया.

मुख्य बातें एक नजर में…

आम लोगों की राय में दिनेश लाल यादव सर्वश्रेष्ठ अभिनेता, समीक्षकों की नजर में रवि किशन न.1 की पदवी पर हैं. अगर बात की जाए अभिनेत्रियों कि तो पाखी हेगड़े ने रानी चटर्जी को 1.25 प्रतिशत की बढ़त के साथ दूसरे पायदान पर पिछे छोड़ दिया, पाखी को 43.75 फीसदी तो रानी को 42.5 प्रतिशत लोगों ने पसंद किया. मनोज तिवारी समीक्षकों की नजर में दूसरे पायदान पर तो आम लोगों ने उन्हें अपने दिल में चौथा स्थान दिया. समीक्षकों ने रिंकू घोष को सफलता के पायदान पर सबसे आगे रखा तो पाखी को सबसे नीचले पायदान पर, इस दौड़ में जहां रानी चटर्जी को तीसरा स्थान मिला तो वहीं मोनालिसा को दूसरा स्थान. आम लोगों की नजर में हॉट मोनालिसा हुई कोल्ड, पहुंची चौथे स्थान पर.

आम लोगों ने गायक से अभिनेता बने पवन सिंह को सर आंखों पर बैठाया तो समीक्षकों ने पवन सिंह चौथे पायदान पर रखा. गायकी में उदित नारायण और कल्पना न.1 पर पहुंचे तो इंदू सोनाली और पवन सिंह ने दूसरे स्थान पर अपना नाम दर्ज करवाया. नवोदित अभिनेता और अभिनेत्री की श्रेणी में प्रवेश लाल यादव और सुभी शर्मा न.1 चुने गए. आइटम गर्ल संभावना का जादू एक बार फिर चला आम लोगों ने उन्हें सर्वश्रेष्ठ का ताज पहनाया तो सीमा सिंह को दूसरे व कविता सिंह को तीसरा स्थान दिया. निर्देशन के क्षेत्र में असलम शेख को लोगों ने सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का दर्जा दिया तो दूसरी ओर समीक्षकों ने राजकुमार आर पांडेय को बेहतर निर्देशक बताया.

संगीत निर्देशन में लोगों ने धनंजय मिश्रा को सिरमौर बताया तो दूसरी ओर समीक्षकों ने मधुकर आनंद को न.1 का हकदार बताया. विनय बिहारी बने न. वन गीतकार. संतोष मिश्रा पटकथा लेखन की श्रेणी में, कुणाल सिंह चरित्र अभिनेता की श्रेणी में, कानू मुखर्जी सर्वश्रेष्ठ नृत्य निर्देशक की श्रेणी में, अवधेश मिश्रा सर्वेश्रेष्ठ खलनायक और कला निर्देशन के क्षेत्र में अंजनी तिवारी, एक्शन डायरेक्टर की श्रेणी में शकील ने अपना ना दर्ज करवाया तो मनोज टाइगर सर्वश्रेष्ठ हास्य कलाकार के रूप में पहले पायदन पर ऊभर कर आए.

मार्च 2009 -10  की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों की बात की जाए तो भूमिपुत्र, दीवाना, तोहार नइखे कवनो जोड़ तू बेजोड़ बाड़ू हो, उमरिया कइलीं तोहरे नाम और परिवार अव्वल रही वहीं दूसरी ओर निरहुआ के प्रेम के रोग भइल, हो गइनी दीवाना तोहरे प्यार में, रंगबाज दरोग, कानून हमरा मुट्ठी में जैसी फिल्मों ने भी खूब चर्चा बटोरी.

48 फीसदी लोगों ने यह माना कि भोजपुरी फिल्में अश्लीलता के मामले में हिंदी फिल्मों से कम अश्लील है. 45 फीसदी लोग भोजपुरी सिनेमा के लोकप्रियता की मुख्य वजह गीत-संगीत को मानते हैं. भोजपुरी फिल्मों में भोजपुरिया संस्कृति की झलक अब नहीं मिल रही है, ऐसा मानना है 48 फीसदी लोगों का, जबकि28 फीसदी लोग यह मानते हैं कि जितनी होनी चाहिए उससे थोड़ा ही कम है.  43 फीसदी लोग यह भी मानते हैं कि दूसरी क्षेत्रीय फिल्मों के मुकाबले भोजपुरी फिल्में बेहतर नहीं हैं,  जबकि 42 फीसदी लोग इसे बेहतर मानते है.

अब तक के सबसे बड़ भोजपुरी सिनेमा सर्वे (मार्च 2009 से मार्च 2010 के बीच प्रदर्शित भइल फिलिम के आधार प)

2009-10 के भोजपुरी सिनेमा के श्रेष्ठ अभिनेता?

आम लोगन के राय

दिनेश लाल निरहुआ-40
पवन सिंह——24
रवि किशन ——19
मनोज तिवारी—17

समीक्षकन के राय

रवि किशन——28
मनोज तिवारी-26
दिनेश लाल निरहुआ-24
पवन सिंह–22

2009-10 के भोजपुरी सिनेमा के श्रेष्ठ अभिनेत्री?

आम लोगन के राय

पाखी हेगड़े -43.75
रानी चटर्जी -42.5
रिंकू घोष-7.5
मोनालिसा-6.25

समीक्षकन के राय

रिंकू घोष -35
मोनालिसा-30.5
रानी चटर्जी 20
पाखी हेगड़े -14.5

2009-10 के श्रेष्ठ संगीत निर्देशक?

आम लोगन के राय

धनंजय मिश्रा – 31
राजेश-रजनीश -29
मधुकर आनंद -17
अशोक कुमार दीप (मोहम्मदाबादी)-13
राम-लक्ष्मण- 10

समीक्षकन के राय

मधुकर आनंद -33
धनंजय मिश्रा -23
अशोक कुमार दीप (मोहम्मदाबादी)-17
राजेश-रजनीश -15
राम-लक्ष्मण- 12

2009-10 के श्रेष्ठ निर्देशक?

आम लोगन के राय

असलम शेख——–32.25
राजकुमार आर पांडेय—29.59
हैरी फर्नांडिस——20.15
के.डी. -09.01
फारुख अहमद सिद्दिकी -9.00

समीक्षकन के राय

राजकुमार आर पांडेय—36.00
असलम शेख——-    33.88
केडी————-16.14
फारुख अहमद सिद्दिकी-07
हैरी फर्नांडिस——6.98

एह दौरान श्रेष्ठ खलनायक के रहल?

अवधेश मिश्रा-41.5
ब्रजेश त्रिपाठी-25
संजय पांडेय-20.5
शैलेंद्र श्रीवास्तव-13

2009-10 के श्रेष्ठ हास्य अभिनेता?

मनोज टाइगर—-49
आनंद मोहन- 25.75
संतोष श्रीवास्तव-09
आरपी ठाकुर—-10
सीपी भट्ट——-6.25

2009-10 के श्रेष्ठ गायक?

उदित नारायण-30
पवन सिंह—-26.73
मनोज तिवारी—24.27
दिनेश लाल निरहुआ-11
विनोद राठौड़—-8

2009-10 के श्रेष्ठ गायिका?

कल्पना—–48
इंदू सोनाली–34
अल्का याज्ञनिक -12
दीपा नारायण-6

2009-10 के श्रेष्ठ गीतकार के रहल?

विनय बिहारी—61
सच्चिदानंद कवच-18
श्याम देहाती-     12
प्यारे लाल यादव-9

2009-10 के श्रेष्ठ पटकथा लेखक?

संतोष मिश्रा-38
एस. के चौहान -27
केशव राठौड़-15
श्री गोपाल-12
रामेश्वर मिश्रा-08

2009-10 के श्रेष्ठ डेब्यू अभिनेता?

प्रवेश लाल यादव-52
आकाश सुलभ—23
मन्नान तिवारी—16
आशीष गुप्ता– 09

2009-10 के श्रेष्ठ डेब्यू अभिनेत्री?

सुभी शर्मा–70
सपना—–25
नइखे मालूम-05

2009-10 के श्रेष्ठ चरित्र अभिनेता?

कुणाल सिंह-59
गोपाल राय-32
बल्लभ व्यास-04
सुरेंद्र पाल-05

2009-10 के श्रेष्ठ चरित्र अभिनेत्री?

रौशन जहांगीर -32
नीलिमा सिंह — 23
उपासना सिंह—17
बंदनी मिश्रा -15
पुष्पा वर्मा—13

2009-10 के श्रेष्ठ आइटम गर्ल?

संभावना सेठ-37
सीमा सिंह-33
कविता सिंह 15
तस्लीम-15

2009-10 के श्रेष्ठ नृत्य निर्देशक?

कानू मुखर्जी——-32
पप्पू खन्ना – 24
दिलीप मिस्त्री ओमी—19
रिकी गुप्ता —— 16
रामदेवन-09

2009-10 के श्रेष्ठ कला निर्देशक?

अंजनी तिवारी-44
सुमित मिश्रा-35
इंद्रजीत शर्मा-16
समीर-5

2009-10 के श्रेष्ठ एक्सन डायरेक्टर?

शकील -37
आर.पी.यादव —24
जीतू सिंह —20
गब्बर सिंह-21

2009-10 के श्रेष्ठ फिलिम कवन रहे?

भूमिपुत्र
दीवाना-
तोहार नइखे कवनो जोड़ तू बेजोड़ बाड़ू हो-
उमरिया कइली तोहरे नाम
परिवार
इहो फिलिम चरचा में रहल
निरहुआ के प्रेम के रोग भइल-
हो गइनी दीवाना तोहरा प्यार में
रंगबाज दरोगा-
कानून हमरा मुट्ठी में –

भोजपुरी फिलिम में अश्लीलता

हिंदी से कम-48
हिंदी से जादा-14
बढ़ रहल बा-24
घट रहल बा-14

भोजपुरी फिलिम के लोकप्रिय होखे के का कारण बा?

नीमन संगीत-45
आपन भासा-30
नीमन अभिनय-13
नीमन संवाद-12

भोजपुरी फिलिम में भोजपुरिया संस्कृति के गमक लउक रहल बा?

ना-48
जेतना चाहीं ओह से तनी कम बा-28
हं-24

का भोजपुरी सिनेमा के मिजाज बदल रहल बा?

हं,-75
ना-25

भोजपुरी फिलिम दोसर क्षेत्रीय फिलिमन के मोकाबले बेहतर बा?

ना-43
हं,-42
कह नइखी सकत-15

अंतरराष्ट्रीय फिलिम महोत्सव में जाए लायक भोजपुरी फिलिम बन रहल बा?

एकदम ना -63
बाकिर भेजल जाए के चाहीं-24
कह नइखी सकत-13

प्रेस विज्ञप्ति

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “भोजपुरिया जनता ने कहा निरहुआ सर्वश्रेष्‍ठ

  • विकास सिंह says:

    भोजपुरी सिनेमा में अश्लीलता और द्विअर्थी मतलबवाले गानों पर सख्ती से रोक लगे…तभी भोजपुरी को भोजपुरी के सभी दर्शक स्वीकार करेंगे…सर्वेक्षण में क्या रखा है…हमेशा होते रहेंगे…जरुरी है कि हमार टीवी की तरह सही न्यूज और विशुद्ध कार्यक्रम दिखानेवाले और न्यूज चैनल बाज़ार में आएं….साथ हीं भोजपुरी एल्बम और सिनेमा का स्तर बढे…इसलिये जरुरी है कि,..अश्लीलता का नाश हो भोजपुरी सिनेमा से….

    Reply
  • jadesh ajanta says:

    mai sunday indian se pushana chahunga ki surendra pal,mannan tiwari and shelendra sriwastw ke 2009 2010 mai kaun se bhojpupri film aai thi ki unhe naminisan mila hai, sunday indian ne es sarwe ko kuch bhang khaye logo se karaya hai and apne viswsniyata gawa de hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *