सुधीर सुधाकर ने पी7न्यूज छोड़ा

: ज्योति नरायण को लेकर अफवाह : श्रीकांत त्रिपाठी न बन सके ग्रुप एडिटर : वाहिद के भी जाने की चर्चा : केटीएन, रांची से एक का इस्तीफा : पर्ल ग्रुप के न्यूज चैनल पी7न्यूज से सूचना है कि यहां वरिष्ठ पद पर कार्यरत सुधीर सुधाकर का आज संस्थान के साथ आखिरी दिन है. वे काफी समय से नोटिस पीरियड पर चल रहे थे. सुधीर कहां जा रहे हैं, यह पता नहीं चल पाया है. उधर, पी7न्यूज के मुंबई ब्यूरो चीफ वाहिद को लेकर भी चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. सूत्रों के अनुसार वाहिद भी अगले कुछ महीनों में पी7न्यूज का साथ छोड़ सकते हैं.

उनकी जगह नया ब्यूरो चीफ कौन होगा, इसको लेकर तलाश तेज हो गई है. संजय प्रभाकर का नाम नए ब्यूरो चीफ के रूप में उछाला जा रहा है और पी7न्यूज, मुंबई ज्वाइन करने की चर्चा है लेकिन खुद संजय प्रभाकर इससे इनकार करते हैं. वाहिद ने भी पी7न्यूज से जाने की चर्चाओं को बकवास व अफवाह करार दिया. वाहिद का कहना है कि कंपनी ने अभी कुछ दिनों पहले ही कांट्रैक्ट बढ़ाया है. इनक्रीमेंट दिया है. ऐसे में चैनल से हटने की बात पूरी तरह फिजूल है और शरारती लोगों द्वारा उड़ाई गई है.

उधर, निदेशक ज्योति नरायण के बारे में कई दिनों से खबर फैली हुई है कि उन्होंने पर्ल ग्रुप के निदेशक मंडल से इस्तीफा दे दिया. पर इस बारे में जब उनके करीबी लोगों से पता किया गया तो उन्होंने ऐसे किसी भी घटनाक्रम से इनकार किया है. कहा जा रहा है कि पर्ल प्रबंधन ज्योति नरायण को मीडिया से अलग कर कुछ और जिम्मेदारियां देने का प्लान काफी पहले बना चुका था, और उसी को धीरे-धीरे लागू किया जा रहा है. संभव है कुछ दिनों बाद ज्योति नरायण मीडिया वाले आफिस में न दिखें.

उधर, श्रीकांत त्रिपाठी के बारे में सूचना मिल रही है कि उनकी ग्रुप एडिटर के रूप में वापसी की चर्चा महज चर्चा ही बनकर रह गई. उनका किसी मैग्जीन में ग्रुप एडिटर के रूप में नाम नहीं जा रहा है. अखबार के कथित प्रोजेक्ट का भी दूर-दूर तक अता-पता नहीं है. माना जा रहा है कि श्रीकांत त्रिपाठी के इशारे पर उनके करीबियों ने जानबूझ कर उनके फिर से ग्रुप एडिटर की खबर उड़ाई थी.

रांची से सूचना है कि केटीएन न्यूज के लांच से पहले ही एक ने इस्तीफा दे दिया है. 2 अगस्त को बतौर पटना संवाददाता केटीएन से जुङे मनोरंजन ने इस्तीफा देकर दैनिक भास्कर ज्वाइन कर लिया है. पटना में केटीएन का काम देख रहे कुछ अन्य लोगों के भी इस्तीफा देने की चर्चा है.

Comments on “सुधीर सुधाकर ने पी7न्यूज छोड़ा

  • अनुराग दीक्षित says:

    लगता है पी7 न्यूज को किसी की नजर लग गयी॥ क्योँकि जिस बुलन्दी पर चैनल जा रहा है उसका स्टाफ खुद खतरे मेँ जा रहा॥

    Reply
  • sureshsangwan says:

    P7 aaj k samay m acha news chanal hai iske acha bane rhne ki kamana krti hu lekin aapko jarurat h pure haryana me apne reportero ki phoj tayar karne ki syed aap mere iss sujhve par dhyana denge
    suresh sangwan india news reporter loharu haryana

    Reply
  • इस वाकये पर एक गीत याद आता है की कल खेल में हम हो ना हो गर्दिश में तारे रहेंगे सदा ज़ग को हसाने बहरूपिया रूप बदल कर आयेगा ! वैसे ये संस्थान का निर्णय है जिसे सही या गलत ठहराने का हक़ सिर्फ और सिर्फ मनेजमेंट हो है ! हाँ परिवर्नन की लहर में संस्थान और उसके फायदे के बारे में ज़रूर सोचना चाहिए परिवर्तन यदि इतनी ज़ल्दी होगा तो फिर नए नियम इम्प्लीमेंट होने के पहले ही नियम बनाने वाला चला जाएगा !

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *