पटना के महावीर मंदिर पर बनी डाक्‍यूमेंट्री फिल्‍म लांच

वाह जिंदगी के बैनर तले युवा पत्रकार विवेक चन्द्र द्धारा पटना के महावीर मंदिर पर बनाई गई फिल्म संकट मोचन पिछले दिनों बिहार विधान परिषद के सभागार में लांच की गई. इसके लांचिंग में बिहार सरकार के पर्यटन मंत्री सुनील कुमार पिन्टू,  कला संस्कृति मंत्री सुखदा पाण्डेय, धार्मिक न्यास बोर्ड के अध्‍यक्ष किशोर कुणाल,  समाजसेवी सुधा वर्गीज और फिल्म समीक्षक विनोद अनुपम मौजूद थे.

धर्मांधता के खिलाफ सिनेमाई हस्‍तक्षेप

इफीपणजी। सुप्रसिद्ध भारतीय फिल्‍मकार गौतम घोष की नई फिल्‍म मोनेर मानुष (द क्‍वेस्‍ट) धर्मांधता के खिलाफ एक सशक्‍त सिनेमाई हस्‍तक्षेप है। भारत के 41वें अंतरराष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह के प्रतियोगिता खंड में इसे प्रदर्शित किया गया है। यह फिल्‍म भारतीय पैनोरमा खंड की भी एक विशिष्‍ट कृति है। भारत और बांगलादेश में एक साथ 3 दिसम्‍बर 2010 को रिलीज किया जा रहा है। इसमें दोनों देशों के कलाकारों ने काम किया है। 1952 के बाद पहली बार ऐसा होने जा रहा है।

दोनों कश्‍मीर के रिश्‍तों की पड़ताल करती ‘आठ अक्‍टूबर’

भारतीय जनसंचार संस्थान में दो फ़िल्में दिखाई गईं. इन फिल्मों को भारतीय फौज के अफसरों ने देखा. ये अफसर एक प्रशिक्षण वर्कशॉप में हिस्सा लेने यहाँ आए हैं. वरिष्‍ठ पत्रकार और वृतचित्र फिल्म निर्माता-निर्देशक राजेश बादल की इन फिल्मों पर देर तक बातचीत हुई. पहली फिल्म ‘आठ अक्टूबर’ थी, जो कश्मीर में आए भूकम्प के बाद की स्थितियों पर केन्द्रित थी.