आकाशवाणी का कर्मचारी लापता, अपहरण की आशंका

कोडरमा : नई दिल्ली से कोडरमा पहुंचे आकाशवाणी के एक कर्मचारी के तीन दिन से लापता होने के बाद पुलिस को उनका अपहरण हो जाने का संदेह है। कोडरमा के पुलिस अधीक्षक शंभू ठाकुर ने यहां बताया कि आकाशवाणी में तकनीकी कर्मी आरके शर्मा (45) की पत्नी द्वारा दर्ज प्राथमिकी के अनुसार वह 29 सितंबर को भुवनेश्वर-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस से कोडरमा रेलवे स्टेशन पर उतरे थे।

हिंदुस्‍तान में बदलाव, जनवाणी से अमित का इस्‍तीफा

हिंदुस्‍तान के एचआर डिपार्टमेंट में कुछ परिवर्तन किया गया है. एचआर डिपार्टमेंट में मैगजीन और आर्थिक कार्यों को देखने वाली संगीता ठाकुर अब कार्यालय के बाहर की जिम्‍मेदारियां संभालेंगी. वे अब एडिटोरियल टीम के साथ बैठेंगी तथा शहबर को रिपोर्ट करेंगी. एचआर डिपार्टमेंट में सीनियर मैनेजर सुदीप बनर्जी को ग्रेटर नोएडा भेज दिया गया है. वे मोनिका अग्रवाल को रिपोर्ट करेंगे.

हिंदुस्‍तान ने राजेश कुमार मिश्रा को फोटो छापकर निकाला

हिंदुस्‍तान, बदायूं से राजेश कुमार मिश्रा को हटा दिया गया है. वे कुछ समय पहले ही हिंदुस्‍तान से जुड़े थे. राजेश को हटाने जाने की सूचना हिंदुस्‍तान ने अपने अखबार में प्रकाशित की है. व्‍यवस्‍थापक की तरफ से जारी इस सूचना में बताया गया है कि राजेश कुमार मिश्रा का अब हिंदुस्‍तान से कोई लेना-देना नहीं है. अगर कोई इनसे लेन-देन करता है तो वह खुद इसका जिम्‍मेदार होगा.

सप्‍ताह में दो दिन पचास पैसे महंगे मिलेंगे एचटी और टीओआई

एचटी एवं टीआईओ यानी हिंदुस्‍तान टाइम्‍स एवं टाइम्‍स ऑफ इंडिया अब सप्‍ताह के दो दिन पचास पैसे महंगे मिलेंगे. दोनों पेपरों के प्रबंधन ने मंगलवार और बुधवार को अपने अखबारों की कीमत में अठन्‍नी का इजाफा कर दिया है. अब सप्‍ताह के इन दो दिनों में दोनों अखबार तीन रुपये की बजाय साढ़े तीन रुपये में उपलब्‍ध होंगे. सप्‍ताह के अन्‍य दिनों की इसकी कीमत में कोई इजाफा नहीं होगा.

शिशिर गुप्‍ता हिंदुस्‍तान टाइम्‍स में डिप्‍टी एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर बने

इंडियन एक्‍सप्रेस से इस्‍तीफा देकर शिशिर गुप्‍ता हिंदुस्‍तान टाइम्‍स से जुड़ गए हैं. उन्‍होंने एचटी में डिप्‍टी एक्‍जीक्‍यूटिव एडिटर के रूप में ज्‍वाइन किया है. शिशिर के ज्‍वाइन की सूचना एडिटर संजोय नारायण ने अपने सभी सहयोगियों को मेल से दी है. 19 साल के पत्रकारीय करियर में शिशिर की एचटी के साथ यह दूसरी पारी है. इसके पहले भी वे 1996 से 2001 के बीच एचटी से जुड़े रहे हैं.

रोहित बाहर, सुधांशु का तबादला, राजू की नई पारी

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स, बरेली से फोटोग्राफर रोहित जाट को हटा दिया गया है. उन्‍होंने अभी कहीं ज्‍वाइन नहीं किया है.  एचटी, बरेली इस समय परेशानी से गुजर रहा है. प्रिंसिपल करेस्‍पांडेंट भावना बल के रिजाइन के बाद से ही अन्‍य लोगों पर प्रेशर बना हुआ था. रोहित जाट के जाने के बाद स्थिति और विषम हो गई है. खबर है कि भावना बल के बाद अंकित यादव के पूरा प्रेशर आ गया है.

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स में राजेश महापात्रा को नई जिम्‍मेदारी

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स अपने को और मजबूत करने की कयावद कर रहा है. कंटेंट से लेकर ब्रांडिंग तक स्‍ट्रेटजी तैयार की जा रही है. इसी क्रम में हिंदुस्‍तान टाइम्‍स में कुछ आंतरिक बदलावा किए गए हैं. संजोय नारायण ने अपने सहयोगियों को एक चिट्टी जारी की है, जिसमें अखबार को मजबूत करने के लिए राजेश महापात्रा को स्‍ट्रेटजी डेवलप करने की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है.

सौदामिनी एचटी की कम्‍यूनिकेशन मैनेजर बनीं, सुनील प्रभात खबर पहुंचे

सौदामिनी बागई हिंदुस्‍तान टाइम्‍स का हिस्‍सा बनी हैं. उन्‍होंने कम्‍यूनिकेशन मैनेजर के पोस्‍ट पर ज्‍वाइन किया है. इससे पहले वे ओगिलवी एंड माथेर के साथ कम्‍यूनिकेशन कंसलटेंट और एडिटर के रूप में जुड़ी हुई थीं. वे कंपनी के लिए कम्‍यूनिकेशन स्‍ट्रेटजी मैनेज कर रही थीं. हिंदुस्‍तान टाइम्‍स में वे मार्केटिंग, एचआर और इंवेस्‍टर रिलेशन के बीच सेतु का काम करेंगी. सौदामिनी की शिक्षा शिकागो यूनिवर्सिटी से हुई है.


हिंदुस्‍तान, रांची से सुनील कुमार ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे खेल पेज देखते थे. इन्‍होंने अपनी नई पारी प्रभात खबर, रांची के साथ शुरू की हैं. वहां भी वे खेल पेज पर अपनी जिम्‍मेदारी निभाएंगे. बताया जा रहा है कि पूर्व संपादक अशोक पांडेय के नजदीकियों में शुमार किए जाने वाले सुनील नए प्रबंधन से परेशान थे. अशोक पांडेय के आदेश पर ही सुनील दैनिक भास्‍कर में सिर्फ सात दिन की नौकरी के बाद हिंदुस्‍तान वापस आए गए थे.

एचटी प्रबंधन ने भावना का इस्‍तीफा मंजूर किया

हिंदुस्तान टाइम्स, बरेली में कार्यरत प्रिंसिपल करेस्‍पांडेंट भावना बल का इस्तीफा प्रबंधन ने मंजूर कर लिया है. पिछले दिनों ही उनके इस्‍तीफा देने की खबर थी, परन्‍तु उन्‍होंने इस खबर को गलत ठहराया था. वे एचटी में नौ वर्षों से कार्यरत थीं. लखनऊ में रहीं. फिर वहां से आगरा की लांचिंग के लिए भेजा गया. …

दीपायन चौधरी बने हिंदुस्‍तान टाइम्‍स के मार्केटिंग हेड

दीपायन चौधरी हिंदुस्‍तान टाइम्‍स से जुड़ गए हैं. उन्‍होंने दिल्‍ली अंग्रेजी रेवेन्‍यू का मीडिया मार्केटिंग हेड बनाया गया है. दीपायन के ज्‍वाइन करने की सूचना विनय रॉयचौधरी ने सबको मेल के जरिए दी है. मेल की एक काफी भड़ास के पास है, जिसे हम नीचे प्रकाशित कर रहे हैं. मेल में बताया गया है कि दीपायन चौधरी को मार्केटिंग के क्षेत्र में 20 सालों का अनुभव है.

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स से सिटी इंचार्ज शिल्‍पी रस्‍तोगी का इस्‍तीफा

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स, बरेली से शिल्‍पी रस्‍तोगी ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर सिटी इंचार्ज थीं. वे अपनी नई पारी कहां से शुरू करने जा रही हैं इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. दो महीने पहले ही शिल्‍पी को भावना बल की जगह सिटी इंचार्ज बनाया गया था. शिल्‍पी बरेली में एचटी की लांचिंग …

अभिजीत मजूमदार होंगे हिंदुस्‍तान टाइम्‍स भोपाल के आरई

अभिजीत मजूमदार ने हिंदुस्‍तान टाइम्‍स के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. उन्‍हें भोपाल और इंदौर एडिशन का आरई बनाया गया है. वे एनके सिंह का स्‍थान लेंगे, जिनका कार्यकाल 2 जुलाई को खतम होने जा रहा है. इसे अभिजीत की घर वापसी माना जा रहा है. वे एचटी मुंबई के साथ भी ए‍सोसिएट एडिटर के रूप में जुड़े रहे हैं.

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स में वेंकी वेंकटेश, राजन भल्‍ला और राजीव बत्रा को नई जिम्‍मेदारियां

: विवेक गौर देंगे इस्‍तीफा : हिंदुस्‍तान टाइम्‍स में उच्‍चस्‍तर पर कुछ फेरबदल किए गए हैं. वेंकी वेंकटेश, राजन भल्‍ला और राजीव बत्रा को नए रोल दिए गए हैं. उनकी जिम्‍मेदारियों को बढ़ा दिया गया है. वहीं अब तक नार्थ ईस्‍ट रीजन के बिजनेस हेड के रूप में काम कर रहे विवेक गौर संस्‍थान को अलविदा कहने वाले हैं. वे खुद का वेंचर लाने जा रहे हैं.

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स के पूर्व संपादक अजित भट्टाचार्य का निधन

: लो‍धी रोड श्‍मशान पर अंत्‍येष्टि आज : वरिष्ठ पत्रकार तथा सूचना का अधिकार आंदोलन की एक प्रमुख हस्ती अजित भट्टाचार्य का सोमवार को नई दिल्‍ली में उनके निवास पर निधन हो गया. वे काफी समय से बीमार चल रहे थे. वह 87 वर्ष के थे. उनके परिवार में एक बेटा और दो बेटियां हैं. अपने 37 साल के कॅरिअर में भट्टाचार्य हिंदुस्तान टाइम्स, टाइम्स ऑफ इंडिया और इंडियन एक्सप्रेस जैसे प्रमुख समाचारपत्रों के संपादक रहे और सेवानिवृत्ति के बाद उन्होंने प्रेस इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के निदेशक पद का कार्यभार संभाला.

एचटी मिंट के नेशनल हेड बने प्रशांत सक्‍सेना

फोर्ब्‍स मीडिया नेटवर्क 18 ग्रुप से जनरल मैनेजर प्रशांत सक्‍सेना ने इस्‍तीफा दे‍ दिया है. वे अपनी नई पारी हिंदुस्‍तान टाइम्‍स के मिंट से शुरू कर रहे हैं. उन्‍होंने नेशनल हेड के रूप में मिंट ज्‍वाइन किया है. एचटी के साथ यह उनकी दूसरी पारी होगी. प्रशांत भास्‍कर ग्रुप से काफी लम्‍बे समय तक जुड़े रहे हैं.

अशोक पांडेय से मिलने उनके घर एनडी तिवारी पहुंचे

: जागरण व उजाला में वापसी को लेकर चर्चाएं : हिंदुस्‍तान, रांची के पूर्व संपादक अशोक पांडेय देहरादून में अपने परिवार को समय दे रहे हैं. लगभग सात साल के बाद देहरादून में उन्‍हें समय बिताने का मौका मिला है. देहरादून में उनके घर पर पत्रकारों, मित्रों और शुभचिंतकों का दिनभर जमावड़ा लग रहा है. इसी बीच कल शाम कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता तथा यूपी एवं उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री नारायण दत्‍त तिवारी भी पूरे लाव-लश्‍कर के साथ अशोक पांडेय से मिलने  उनके घर पहुंच गए.

हिंदुस्‍तान, आगरा के नए आरई केके उपाध्‍याय

: योगेन्‍द्र सिंह रावत को बरेली का प्रभार सौंपे जाने की चर्चा : दिनेश मिश्रा के हिंदुस्‍तान, रांची का आरई बनाए जाने के बाद आगरा में खाली पड़े संपादक के पद पर बरेली से केके उपाध्‍याय को भेजा जा रहा है. केके यहां के स्‍थानीय संपादक होंगे. उनका कद भी बढ़ा दिया गया है. अब उनके अधीन आगरा, बरेली, मुरादाबाद और अलीगढ़ यूनिट की जिम्‍मेदारी होगी. पहले इसे सुधांशु श्रीवास्‍तव देखते थे. अब सुधांशु के पास नेशनल पुल और मेरठ, देहरादून यूनिट की जिम्‍मेदारी होगी.

गोरखपुर से लांच हो गया हिन्‍दुस्‍तान

हिन्दुस्तान का गोरखपुर संस्करण आज विधिवत लांच कर दिया गया. लांचिंग के समय प्रधान संपादक शशि शेखर एवं अमित चोपड़ा भी मौजूद थे. गोरखपुर के स्‍थानीय संपादक नागेन्‍द्र हैं. इनकी ही देखरेख में अखबार की लांचिंग हुई है. अखबार का ट्रायल पिछले एक सप्‍ताह से चल रहा था. अब गोरखपुर को स्‍वतंत्र यूनिट का दर्जा प्रदान कर दिया गया है. अखबार का प्रकाशन एवं मुद्रण दोनों गोरखपुर से ही होगा.

अभिषेक और संजीव ने हिन्‍दुस्‍तान ज्‍वाइन किया

जागरण, बदायूं से रिपोर्टर अभिषेक पांडेय ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे अपनी नई पारी की शुरुआत हिन्‍दुस्‍तान, बदायूं के साथ कर रहे हैं. उन्‍हें रिपोर्टर बनाया गया है. इसे हिन्‍दुस्‍तान की बरेली यूनिट से जुड़े जिलों को मजबूत करने की कवायद माना जा रहा है.