आईएनएस अध्यक्ष दिखे तो मुंह पर कालिख मलो

: हरामखोर और नमकहराम मीडिया मालिकों को थोड़ी-बहुत तो छोड़िए, बिलकुल ही शर्म नहीं आती : अखबार मालिकों का संगठन है आईएनएस उर्फ इंडियन न्यूजपेपर सोसाइटी. जो पत्रकार व गैर-पत्रकार लोग इन मालिकों के अखबारों में काम करते हैं, उनकी तनख्वाह को नए माहौल के हिसाब से रिवाइज करने के लिए सरकार की तरफ से सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जीआर मजीठिया के नेतृत्व में वेज बोर्ड का गठन किया गया था.

आईएनएस ने वेतन बोर्ड की सिफारिशों को रद्द करने की मांग की

इंडियन न्यूजपेपर सोसाइटी (आईएनएस) ने श्रमजीवी पत्रकारों के लिए वेतन बोर्ड की सिफारिशों पर आश्चर्य और निराशा जताया है. आईएनएस ने सरकार से इसे तत्‍काल रद्द करने की मांग की है. इस मुद्दे पर चर्चा के लिए आईएनएस ने मुंबई में एक बैठक की थी. अध्यक्ष कुंदन आर व्यास ने कहा कि अगर सरकार वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करती है तो कई समाचार पत्र प्रतिष्ठान कारोबार से बाहर हो जाएंगे.

KR Vyas elected President of INS

[caption id="attachment_18139" align="alignleft" width="83"]KR VyasKR Vyas[/caption]Mr. Kundan R. Vyas of Janmabhoomi Group has been elected President of The Indian Newspaper Society for the year 2010-11 at its 71st Annual General Meeting held here today.  He succeeds Mr. T. Venkattram Reddy of Deccan Chronicle. Mr. Ashish Bagga (India Today) is the Deputy President, Mr. KN Tilak Kumar (Prajavani) is the Vice President & Mr. Rakesh Sharma (Hindustan Times, Patna) is the Honorary Treasurer of INS for year 2010-11.

इलना 2 ने संविधान की उड़ाई धज्जियां

: घरेलू माहौल में परेशनाथ ने अपने को अध्‍यक्ष मनवाया : जैसा कि भड़ास4मीडिया को भेजी गई अपनी पोस्‍ट ‘अखबार मालिकों की राजनीति और उनका ओछापन’ में एक वरिष्‍ठ पत्रकार ने शंका जाहिर की थी, वैसा ही इलना 2 की दिल्‍ली के इंडिया इस्‍लामिक सेंटर में हुई सो काल्‍ड बैठक में हुआ भी. सो काल्‍ड इसलिए की बैठक की सूचना उन्‍हीं लोगों को दी गई थी, ‘ जो अपनी डफली, अपना राग बजाये.’ खैर इस कथित एजीएम में जो हुआ उसका उसका, आंखों देखा लेखा-जोखा –

अखबार मालिकों की राजनीति और उनका ओछापन

: संगठन भी तार-तार व मर्यादा भी : आईएनएस, इलना पर मौकापरस्‍तों का कब्‍जा : मैं एक अखबार वाला हूं. एक छोटे से शहर से, लेकिन बड़े-बड़े सपनों के साथ अखबार और पत्रकारिता को एक आदर्श रूप में चुना. अखबार मालिक की छवि एक बड़े क्रांतिकारी की थी, जो अपनी जीविका के साथ कुछ दूसरे जुनूनी लोगों यानी की पत्रकार को नौकरी देने के साथ कई तरह के लोगों की जीविका का माध्‍यम था. जिनमें हॉकर, आर्टिस्‍ट, मजदूर, एजेंट, सर्कुलेशन और मार्केटिंग वाले शामिल थे.

आईएनएस के नए अध्यक्ष बने टीवी रेड्डी

[caption id="attachment_15853" align="alignleft"]टी. वेंकटराम रेड्डीटी. वेंकटराम रेड्डी[/caption]इंडियन न्यूजपेपर सोसाइटी के नए अध्यक्ष डेक्कन क्रोनिकल के चेयरमैन टी. वेंकटराम रेड्डी निर्वाचित किए गए हैं। रेड्डी निर्वतमान अध्यक्ष एचएम कामा (बांबे समाचार) का स्थान लेंगे। हैदराबाद में आईएनएस की सालान आम बैठक में नई कार्यकारिणी समिति की घोषणा की गई। व्यापार जन्मभूमि के कुंदन व्यास को उपाध्यक्ष बनाया गया है। इंडिया टुडे के आशीष बग्गा भी उपाध्यक्ष चुने गए हैं।

आईएनएस अध्यक्ष को ज्योति ने भी लिखा खत (4)

इंडियन न्यूजपेपर सोसाइटी (आईएनएस) के अंदरखाने चल रहे जंग के बारे में आपने भड़ास4मीडिया पर काफी कुछ पढ़ा। आईएनएस उपाध्यक्ष परेशनाथ और आईएनएस के पदाधिकारी रहे सुनील डांग के पत्र के बाद आजकल की पब्लिशर ज्योति प्रकाश खान ने आईएनएस अध्यक्ष को एक पत्र भेजा। इस पत्र में उन्होंने आईएनएस अध्यक्ष से अपनी शंकाओं और मनःस्थिति के बारे में बताया है। साथ ही अध्यक्ष के नेतृत्व पर पूरा भरोसा व्यक्त किया है। पत्र इस प्रकार है-