ऐसी बकवास आप कैसे लिख सकते हैं?

यशवंत जी, आपकी साइट को बडे़ चाव से पढ़ता था, खासकर गासिप के लिए. जाहिर है, आप दफ्तर मे हों और किसी दोस्त से बात न हो तो हमारी दुनिया में क्या हो रहा है, उसका अंदाजा नही लगता.

लेकिन इस बार आप ने जो टीआरपी आने के बाद पूरे टैम का पोस्टमार्टम किया, वह कहीं से भी जायज नहीं है. अरे, ये क्या बात हुई कि आजतक नंबर वन हुआ तो अपनी खबरों और प्रोग्रामिंग से और स्टार न्यूज नंबर वन हुआ तो टैम को पैसा खिलाया है? ऐसी बकवास आप कैसे लिख सकते हैं?

प्रवीण यादव

pravin.bebas@gmail.com

09899983501

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “ऐसी बकवास आप कैसे लिख सकते हैं?

  • parveen yadav jaiso ka yeh likhna kahi na kahi is baat ka parichayak hai kee jo mudda bhadas me uthaya gaya hai wo bilkul uchit hai sahee hai kyunki channels kee iss ladai main quality proggram dikhane wale channel kahi gum kar deeye gaye hai jo channel aaj no 1 ka tamga hasil kar rahe hai wo shayd patrkaro ka sabse adhik shoshan kar rahe hai ,khabre apne aakao kee ichha-anusar katl karke uunhe pesh kee jati hai jabkee aaj bhi bhudhijeevi warg ndtv ko sabse jyada samaya deta hai ,apne karmchariyo ka sabse kam shoshan karta hai, .or shayad parveen jaise patrkaaro ko us dard ka ehsas bilkul nahi hai jo pal pal no1 channels ke stringers photgrapher, bearue cheifs,,or desk par kaam krnewalo logo ko sahna padta hai . manviya mulyon kee baat krne wale channels kis traha se manviyata keee dhajjiya udate hai jag jahir hai . parveenjee kahi apne aakko(bosses) ko khush karne ke liye aapne apni thathkathit BHADAS to nahi nikali

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *