टीवी99 के बारे में गलत बात छाप दी है

टीवी99 के एक रिपोर्टर ने भड़ास4मीडिया पर प्रकाशित इसी चैनल के एक स्ट्रिंगर की चिट्ठी ‘वीओआई बनने की राह पर चला टीवी99’ पर अपनी प्रतिक्रिया भेजी है. इसमें उन्होंने टीवी99 पर लगे कई आरोपों का खंडन किया है और टीवी99 के बारे में कई नई बातें बताई हैं. उनकी बात को हम यहां पर प्रकाशित कर रहे हैं, बिना कोई संपादन किए. ध्यान दें, बिना कोई संपादन किए. अगर कोई किसी हिंदी न्यूज चैनल में रिपोर्टर है तो उसकी कॉपी का संपादन करना उचित भी नहीं है. उम्मीद करते हैं कि आगे से टीवी99 के ये रिपोर्टर बंधु अपनी हिंदी, वर्तनी, वाक्य आदि को ठीकठाक रखेंगे व भ्रष्ट हिंदी लेखन से बचेंगे. रिपोर्टर बंधु ने जो कुछ प्रेषित किया है, वह चिट्ठी नीचे है, बिना कांटछांट के. -एडिटर

प्रिय यशंवत जी,,

सबसे पहले में आपकों अपने बारे में बता दूं कि मै नितिन शर्मा हुं। आप भी मुझसे परीचित हैं। आपने जो लेख अपनी साईट पर प्रकाशित किया टीवी99 के बारे में। क्या आपने इसकी सच्चाई का पता किया या फिर छाप दिया बिना सच जाने। यशवंत जी,, मैं भी टीवी99 में बतौर रिपोर्टर कार्यरत हूं और पिछले 9 महिनों से कार्य कर रहा हूं। जहां तक सैलेरी की बात है ऐसी परेशानी यहां कार्यरत किसी भी कर्मचारी को अभी तक नही आई। मेरे जिस सहयोगी ने यह लेख आपकों भेजा हैं, मैं उन्हे और आपकों बताना चाहुंगा कि तीन महिने सैलेरी नही मिली यह बिल्कुल बकवास है।

आपको क्या लगता है कि तीन महिने तक सैलरी नही मिले तो यहां लोग काम करेगें। लेकिन ऐसा नही है। आपकों पहले टीवी99 के बारे मे बता दूं। टीवी99 राजस्थान का पहला सैटेलाईट न्यूज चैनल है। और शायद आप चैनल के प्रबघंक से परीचित नही है। यह चैनल किसी उद्योगपति का नही है न ही किसी नेता का है। यशवंत जी,, एक खालिस, ईमानदार और अनुभवी पत्रकार सुभाष शर्मा और रायटर ग्रुप में सीनियर पोजीषन पर काम कर चुके मोसिस मनोहरन ने पत्रकारिता को एक नया आयाम देने के सपने के साथ इसकी नींव रखी है और खबरों की प्रमाणिकता और सच्चाई के आधर पर सिर्फ एक साल में क्षेत्रीय से नेशनल हो गया है।

यह चैनल सिर्फ देश में ही नहीं डीटीएच के जरिए विदेश में आस्ट्रेलिया,सउदी अरब सहित कई अन्य देशों में भारतीय दर्शक इसे देख रहे है। यदि अच्छा मकसद नहीं होता तो हम देश भर में सराहे नहीं जाते और दर्शक हमारी पीठ नहीं थपथपाते। इस चैनल को आज नया मुकाम हासिल करवाया है। बिना किसी सपोर्ट के अपने ही बल पर चैनल खोलना और उसे चलाना एक बडी बात होती है और ये आप अच्छी तरह से जानते है। आप बात कर रहे कि टीवी99 वीओआई बन जाऐगा तो आप यह भी जान लिजिए कि जिस चैनल ने सैटेलाईट अपडेट होने पर भी चैनल के प्रसारण पर किसी तरह की आंच नही आने दी और ऐसे समय भी लाखों का भुगतान चैनल को इनसेट पर लाने के लिए करने के बावजूद काम कर रहे कर्मचारीयों की तनख्वाह पर कोई फर्क नही पडने दिया वो चैनल वीओआई जेसा हो ही नही सकता।

और यह आप भी समझ सकते हैं कि कभी कभार कोई परेशानी आ जाए कि सैलरी एक दो दिन लेट हो जाए और वो भी ऐसे संस्थान पर जो सिर्फ अपने और अपनी टीम के दम पर चल रहा है तो इसका मतलब यह नही कि सैलरी महिनो से ही नही मिल रही है। आपको इस खबर को प्रकाशित करने से पहले टीवी99 में कार्यरत कर्मियों से हकिकत का पता करना चाहिए था। यशवंत जी आशा करता हूं कि आप यह सच्चाई प्रकाशित करेगें नही तो आपकी इस साईट पर ही हमें सदेंह हो सकता है कि आप इसके जरीए किसी संस्थान की मिटटी पलेट करने में कोई कसर नही छोडते वह भी बिना हकिकत जाने।

नितिन शर्मा

रिपोर्टर

टीवी 99 राजस्थान

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “टीवी99 के बारे में गलत बात छाप दी है

  • aapka wellwisher says:

    are bhai jo madhy pradesh me tv99 aap bikwa rahe hain dost uska kya ? rajsthan me hi raho imandari se baki jagah dukandari kyun faila rahe ho. gali gali me boli lag rahi hai aapke tv99 ki yahan.

    Reply
  • nitin sharma says:

    sir apne khabar to chap di or ashuddiya bhi gina di lekin bhai sahab ek baat ka dhyan rakhe ki humne to sirf likhawat me hi galti ki vo bhi jab hue tab duty ke samay khabar likhte time apko ye mail bheja per apne to bina kuch jane hi chap diya bhai sahb

    Reply
  • Pramod Kaushik, News Editor, SARVOTTAM TIMES says:

    Yashvant ji
    bina hakikat jane kisi ki mitti palate mat karna. Mitti katori ya mitti glass kar dena par mitti palate mat karna, please. hakikat jaroor pata kar lena

    Reply
  • इस रिपोर्टर को नौकरी किसने दी.. इस चिट्ठी में उन्होंने अपना सीवी शुरुआती दो पंक्तियों में ही दे दिया. वे जिस तरह हुं..कार (मैं नितिन शर्मा हुं) भर रहे हैं और अपना परीीीीीीीीीीीीीीचय (परिचय) करा रहे हैं उसके बाद तो उन्हें बाहर ही कर देना चाहिए

    Reply
  • Ghanshyam kaushik says:

    यशवंत जी शायद आपका ये कदम प्रिय नितिन की हिन्दी सही करने में मदद कर सके। इसमें उनका खुद का भला है, लेकिन ये शायद उनको समझ में नहीं आया। नितिन जी सफाई से ज्यादा ध्यान अपने काम पर लगाओ इससे चिढ़ पैदा ना करते हुए इसे एक जीवन के एक अच्छे पाठ की तरह लो जो आगे आपके काम में सुधार करेगा। ख़ैर कोई बात नहीं हमें तो सिर्फ इतना पता है कि सुधार के लिए इन्सान को अपनी गलती मान लेनी चाहिए, तभी सुधार होगा। और जहां तक आप लोगों के वेतन की बात है, अगर आप लोगों को वेतन समय पर मिल रहा है तो इसमें आपका ही फायदा है शायद मेरे हिसाब से किसी को सफाई देने की कोई आवश्यकता नहीं होनी चाहिए यहां जरुरत अपने काम पर ध्यान लगाने की है। और यशवंत जी मेरी हिन्दी में कोई कमी हो तो मुझे माफ करना।

    Reply
  • Nitin Sharma jaise reporters ki wajah se hi aaj media ka beda gark ho rakha hai. Unhone jo safaai di hai wo bilkul hi bachkaani hai. Unko ek samay mein ek hi kaam karna chahiye tha kya pta bhai sahab ne jo report is mail ko likhte waqt bnaai hai usme bhi kuchh gadbad ho………?
    🙂

    Reply
  • nitin jee ne channel ke management ke aadesh se jo safaainamaa bheja hai usme sirf salary par hi baat ko tikaaye rakha, baat to logon ke 25000 rs kha jaane ki thi, mr wo baat to goal hi kar gaye. aur aap safaai de rahe hai to iska matlab wo sab to nikaal hi lenge jo journalist hai, baaki rahi baat time par salary dene ki to lagtaa hai nitin jee channel ne apko 1 mahine salary baki staff se chhupakar di hai tabhi aap ne channel ki taraf se safaainaamaa diyaa hai, 99 ka haal voi jaisa na ho iske liye maliko ko +ve sochna chahiye na ki apnio taraf se safaai deni chahiye unhe to staff ko salary deni chahiye bechare salaty ke intejaar me kaam karte ja rahe hai

    Reply
  • Saril Shanker says:

    Yashvant Ji, aapko kisi patrakar ka is tarah se majak udhana shobha nahin deta. Hum sabhi ek hi kashthi ke sawar hain aur haath ki sabhi ungliyan ek barabar nahin hoti.Mujhe toh aisa lagta hai ki aap log untechnical hain net par hindi typing karne par aisi problem aana koi badi baat nahin aur kisi to uphaas ka paatr banana kisi tarah se theek nahin. Aap ek media portal chala rahein hain comedy channel nahin. Rahi baat channel ki toh Nitin Ji ki baaton se to mujhe vahan sab kucch theek thak lagta hai. Vaise bhi ek admi ke kehne par kisi ki taang kheechna theek nahin.

    Reply
  • aam aadmi says:

    darasal jis channeel k reporter ki yaha baat ki ja rahi usme to sabhi reporter aise hi h. 1 reporter to aise h jinhe khabar likhni hi nahi aati.1 hotel k udghatan me jate h lifafa lete h lekin khabar nahi lagate kyoki pressnote english me tha

    Reply
  • अमित गर्ग. सुनहरा राजस्थान. जयपुर. says:

    वाह री हिंदी पत्रकारिता और उसके कलमवीर हिंदी पत्रकार. वाह.
    कुल जमा बीस पंक्तियों को हिंदी में तरीके से नहीं लिख सकते और चले हैं दूसरों को पत्रकारिता की नसीहत देने…!

    Reply
  • yuvraaj singh says:

    !!!!!!!!!!!!!!!hhhhhhh koooooooi jawab!!!!!!!!!!!
    sawal ye nai ki nitin ne kaisa likhaa.jawaab is baat ka dena tha ki salary mil rai h ya nai! usne bhadas me noukri ke liye koi articale nai likha. ek imandaar employee ka farz ada kia h.aap senior ho use jawab kyo nai dete. chaho to kisi ashodh likhne wale se likhwa lo.personal kyo ho rahe ho…………..

    Reply
  • dilip kumawat says:

    nitin ji aap n kaha ki tv99 vidso m dikta h jabki tv 99rajsthan ka chnnel hon k bad bihi rajsthan m nahi dikta h had off jaipur m bihi nahi calta h aap n kaha ki vidso m rajsthani news ka kaya kam

    Reply
  • Ritesh-9015952148 says:

    Being a Part of Media, we have to understand our Image.. everyone has to agree that Mistake can be done in hurry by anyonce (even by You.)…. So plz stop this sort of things to proove urself above than anyone… Just try to be Unite as mediaperson…. thnx..

    Reply
  • nitin ji aap selery dene ki baat kar rahe hain jara uttar pradesh main aakar dekhiye ki aap k channel ki I.d. kese 10-10 hajar main bik rahi hai…………

    Reply
  • amit khanna says:

    wo ye ki tv99 ke uttarakhandi Reporters ko mehtana kab milega…. Sayad ye Rajasthan se sanchalit kar rahe Head of Dipartment ko pata hai bhi ya nahi.. per uttarakhand se tv99 ko Karib 2 mah se lagatar News bheji ja rahi hai…. pement ke naam pe kabhi meeting me dicaid hona hai, ya e mail kar bata denge, ya jab aapka paisa ikhatta ho jayega, ya jab aap aawoge… wagirah wagairah… Isliye mere kahne ka matlab hai uttarakhand me channal suru hue chand dinhue hai. Dukan to khul gayi per na dhikh rahi hai, na chal rahi hai…. aage bhagvan Malik hai…. Garibo patrakaron ka sosan karne me sayad ye bhi piche na ho jaye, isliye bhugtan ki baat pe Medom ko Phon pakda diya hai……..

    Reply
  • ARE NITIN JI JAI[PUR MAIN KAHA APKA CHANNEL ARAHA Hai, AUR RAJASTHAN MAIN KAHA ? BATANE KA KAST KAREGE?

    AUR SALARY JINKO TIME PAR MIL RAHI HAI UNKI LIST DENGE ? SHAYDE APKO BHI NAHI MIL RAHI HOGI , SACH SACH BOLNA YAR, NAHI TO KALA KOVA KAT KHAYEGA. DHANYAVAD

    Reply
  • Sachin Kumar Sharma says:

    ek aur to nitin apne sanssthan ki badai kar rahe he.. aur doosari taraf vo khud tv99 chod jkar chal gae he..aur rahi bat salary ki to ye bilkul sach he reporters ko salary nahi mil rahi he..

    Reply
  • madhup vashisth,bikaner says:

    नितिन भाई..मै मधुप बीकानेर से टी वी. 99 मै काम कर चुका हु और आप मुझसे परिचित भी है..आपसे मेरी कई बार बात चीत भी हुई थी..आप ने जो पक्ष टी.वी.99 का रखा है उस से में संतुष्ट भी हु और नहीं भी…सुभास शर्मा जी और मनोहरन जी सच मै आदरणीय है और मै दिल से उनकी इज्जत करता हु और करता रहूगा..लेकिन उनके बाद जो वरिस्थ यहाँ बैठे है वो संभवतया पूर्णतया पूर्वाग्रहों से अभी तक अपने आप को मुक्त नहीं कर पाए है..जिसका उदाहरण मै स्वयं हु और जितना मेने उनके बारे मै जाना है वो ना तो व्यवस्था संभालने मै सक्षम है और ना ही किसी से काम लेने मै.शायद उस मध्यम स्तर के वीरो को बटेर हाथ लग गयी. मुझे बीकानेर के लिए काम करने मै सदा गर्व रहा की में पहले रीजनल चैनल के लिए काम करता था.लेकिन जो मेट्रो अधिकारी है उनके कुछ जातिगत ध्यान दे की जातिगत कारणों से मै स्नेही नहीं बन पाया और उनके द्वारा जानते हुए की षड्यंत्रकारी रूप दिखा रहे है मैने कभी शिकायत नहीं करने का ही ध्यान रखा.”मुझे स्वयं को आठ महीने से वेतन नहीं दिया गया और मेरे द्वारा कार्य करते हुए भी बिना आधार के एस.एम्.एस. को खबर बना कर गलत रूप मै बिना मुझे और मेरे सहियोगी को बताये टिकर चलाये.आठ महीने का वेतन कम नहीं होता नितिन भाई..नगर निगम चुनावों की साड़ी सूचनाये किसी भी दुसरे चैनल की अपेक्षा मेरे द्वारा सबसे पहले भेजी गई..और जब मै अत्यावश्यक कार्य से बहार गया तो मैने सम्बंधित “मेट्रो” अधिकारी को सूचित भी किया था इस बाबत..काल और एस.एम्.एस के जरिये भी किन्तु उन्होंने इस बात को ना तो अधिकारियों को बताया होगा और ना ही संरक्षित किया होगा.मुझे विस्वास है और इसका प्रमाण “जाग्रति” है जो हर दिन हमसे आज के कार्य के बारे मै पूछती थी.उसे भी मैने बताया था.ये सही है की इसे आपकी वफादारी कहा जाएगा की आपने अपने संस्थान का पक्ष रखा किन्तु यदि मेरे इस पात्र के बारे मै सुभाष जी और मनोहरन जी को भी जानकारी हो जाए तो बहुत अछा है..शुभकामनये

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *