जबसे अखबार लोकार्पित हुआ, तबसे सेलरी नहीं मिली!

: टीवी99 में भी तनख्वाह नहीं, कैसे मनेगी दीवाली :  पिछले दिनों राजस्थान में एक समाचार पत्र के दैनिक संस्करण का लोकार्पण समारोह धूमधाम से आयोजित किया गया था. बहुत बड़ी-बड़ी बातें इस अखबार के लिए कही गयी थी. इस समाचारपत्र को लेकर अनुमान लगाए गए थे कि भविष्य में राजस्थान में इस अखबार के जरिये जाट समाज को प्रचारित किया जायेगा.

रुड़की के चार पत्रकारों के खिलाफ लूट और मारपीट का मुकदमा दर्ज

: पत्रकारों ने भी दर्ज कराया मामला : रुड़की जिले के चार टीवी पत्रकारों के खिलाफ एक व्‍यक्ति ने भगवानपुर थाने में लूट, मारपीट, ब्‍लैकमेलिंग समेत कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है. इन पत्रकारों पर धौंस देकर पैसे वसूलने का आरोप था. पत्रकारों ने भी उक्‍त व्‍यक्ति के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया है. पुलिस मामला दर्ज कर पूरे प्रकरण की जांच कर रही है.

अब जनता से वसूली करेगा टीवी99!

नागौर : राजस्‍थान का प्रथम सेटेलाइट न्‍यूज चैनल टीवी99 ने अब नया कार्ड खेला है. जयपुर मे सभी गरीब पत्रकारों को भुलाकर एक कार्यक्रम आयोजित कर नए पत्रकारों के जरिये अब ग्रमीण जनता से 5000 रूपये आजीवन सदस्‍यता शुल्‍क के रूप में लेने की तैयारी कर रहा है. चैनल के मेट्रो एडीटर ब्रिजेश ने इसी को ध्‍यान में रखकर ग्रामीण क्षेत्रों में आपकी आवाज नाम से कार्यक्रम कर रहे हैं, ताकि पैसे वसूलने की योजना का जाल बिछाया जा सके.

प्रमोद एवं विजय का तबादला, राम निवास की नई पारी

हिन्‍दुस्‍तान, लखनऊ से खबर है कि कई ब्‍यूरोचीफों को इधर-उधर किया जा रहा है. बहराइच से प्रमोद शुक्‍ल को सुल्‍तानपुर भेज दिया गया है. सुल्‍तानपुर से विजय मिश्र को बहराइच भेजा गया है. सूत्रों का कहना है कि अभी कुछ और फेरबदल हो सकते हैं, जिसमें गौरव अवस्‍थी और अखिलेश ठाकुर के नाम भी शामिल हैं.

टीवी99 का गजब खेल, स्ट्रिंगरों की नियुक्ति से बना रहा पैसा

आजकल चैनल लांच करके पैसा बनाने का चलन जोरों पर है. खबर टीवी99 से है. राजस्थान का यह न्यूज चैनल टीवी 99 पत्रकार बनाने के नाम पर भोले भाले और पत्रकारिता का शौक रखने वाले लोगों से 25 हजार रुपये ऐंठ रहा है और गली-गली में ‘लोगो’ बांटकर चैनल ने लाखों रुपयों पर हाथ साफ किया है. अब ये चैनल इससे भी एक कदम आगे बढ़ गया है. जिन कस्बों और गांवों में चैनल ने स्ट्रिंगर बनाने के लिए पहले 25 हजार और फिर बाद में चैनल से न हटाने के नाम पर 10 हजार रुपये अलग से हथियाए थे, अब उन्हीं शहरो में फिर से नए लोगों को चैनल फंसा रहा है और रकम लेकर चैनल ने एक ही कस्बे-गाँव में 2-2 स्ट्रिंगर खड़े कर दिए हैं. पुराने लोगों को हटाया नहीं जा रहा है. अगर चैनल उन्हें हटा दे तो वे अपने 35 हजार रूपये मांग लेंगे.

टीवी99 से दुर्गेश समेत चार एचबीसी पहुंचे

टीवी99, जयपुर से सूचना है कि दुर्गेश नंदन की उछलकूद जारी है. पिछले दिनों वे नंदन ने टीवी99 को छोड़ सहारा ज्वाइन कर लिया था. लेकिन महज 3 दिन में ही वापस टीवी99 लौट आए थे. अब दुर्गेश ने फिर टीवी99 को गुडबाय बोलकर एचबीसी पहुंच गए हैं. दुर्गेश नंदन के साथ रिपोर्टर ऐश्वर्य प्रधान ने भी एचबीसी ज्वाइन किया है.

टीवी99 के बारे में गलत बात छाप दी है

टीवी99 के एक रिपोर्टर ने भड़ास4मीडिया पर प्रकाशित इसी चैनल के एक स्ट्रिंगर की चिट्ठी ‘वीओआई बनने की राह पर चला टीवी99’ पर अपनी प्रतिक्रिया भेजी है. इसमें उन्होंने टीवी99 पर लगे कई आरोपों का खंडन किया है और टीवी99 के बारे में कई नई बातें बताई हैं. उनकी बात को हम यहां पर प्रकाशित कर रहे हैं, बिना कोई संपादन किए. ध्यान दें, बिना कोई संपादन किए. अगर कोई किसी हिंदी न्यूज चैनल में रिपोर्टर है तो उसकी कॉपी का संपादन करना उचित भी नहीं है. उम्मीद करते हैं कि आगे से टीवी99 के ये रिपोर्टर बंधु अपनी हिंदी, वर्तनी, वाक्य आदि को ठीकठाक रखेंगे व भ्रष्ट हिंदी लेखन से बचेंगे. रिपोर्टर बंधु ने जो कुछ प्रेषित किया है, वह चिट्ठी नीचे है, बिना कांटछांट के. -एडिटर

वीओआई बनने की राह पर है टीवी99

प्रिय यशवंत जी, मैं आपको जो लिख के भेज रहा हूं, वो बिलकुल सही है. मैं खुद उसका भुक्तभोगी हूँ. ये मेल मैं आपको तीसरी बार सेंड कर रहा हूं. कहा जाता है कि B4M पत्रकारों का मंच है, तो फिर आप हमारी आवाज को भी उठायें. मैं आपके जरिये सबको ये बता देना चाहता हूँ कि मैं राजस्थान के रीजनल टीवी चैनल टीवी 99  में काम करता हूँ.