रामदेव ने किया प्रभात खबर पर 15 लाख क्षतिपूर्ति का मुकदमा

पूर्वी चम्‍पारण के मोतिहारी जिले के रामदेव गिरी ने प्रभात खबर पर 15 लाख रुपये के क्षतिपूर्ति का दावा किया है. गिरी ने आरोप लगाया है कि प्रभात खबर ने साजिशन गलत विज्ञापन प्रकाशित कर उन्‍हें पंचायत चुनाव में पराजित कराने का काम किया है. कोर्ट ने प्रधान संपादक एवं स्‍थानीय संपादक समेत आठ लोगों को सम्‍मन जारी किया है.

रामदेव गिरी ने कोर्ट में दायर किए गए मुकदमे में आरोप लगाया है वे पूर्वी चम्‍पारण के 29 नम्‍बर पीपरा कोठी सीट से जिला परिषद  सदस्‍य पद के उम्‍मीदवार थे. उनका चुनाव चिन्‍ह टेबुल था, उनके विजयी होने की पूरी सम्‍भावना थी परन्‍तु प्रभात खबर ने अपने 8 मई के अंक में एक विज्ञापन प्रकाशित किया, जिसमें टेबुल की जगह स्‍टूल चुनाव चिन्‍ह छपा था. जिसमें लिखा गया था कि क्रम संख्‍या 14 पर रामदेव गिरी को टेबुल पर मत देकर विजयी बनाइए. वहां चित्र स्‍टूल का छपा हुआ था. जिसके चलते उनके वोट स्‍टूल वाले उम्‍मीदवार को पड़ गए जिसके चलते उनको दूसरे स्‍थान पर रहना पड़ा.

कोर्ट ने रामदेव के मामले को संज्ञान में लेते हुए प्रभात खबर के प्रधान संपादक हरिवंश, स्‍थानीय संपादक स्‍वयं प्रकाश, प्रकाश एवं मुद्रक एसएन पाठक, विज्ञापन प्रबंधक एवं स्‍थानीय कार्यालय प्रभारी राकेश समेत कुछ आठ लोगों को सम्‍मन जारी किया है तथा कोर्ट में अपना पक्ष रखने को कहा है.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “रामदेव ने किया प्रभात खबर पर 15 लाख क्षतिपूर्ति का मुकदमा

  • श्रीकांत सौरभ says:

    यह सही है कि अखबार में छपी चीजों का असर पाठकों पर जरूर पड़ता है.और मीडिया को इस तरह की गलतियों से बचना चाहिए.लेकिन मात्र एक गलत चुनाव चिन्ह का एड. छापने से रामदेव गिरी की चुनाव हारने वाली बात पचती नहीं है.वैसे भी रामदेव गिरी पूर्वी चम्पारण जिला अंतगर्त पीपराकोठी जैसे ग्रामीण इलाके से आते हैं.यहां प्रभात खबर का प्रसारण मुश्किल से 100-125 के आस-पास होगा.जबकि किसी भी जिला परिषद निर्वाचन एरिया में न्यून्तम पांच-छह पंचायत व 20000 मतदाता होते हैं.इन जगहों पर प्रत्याशी व उनके एजेंट जन संपर्क,लाउड स्पीकर,पंपलेट,पोस्टर इत्यादी के द्वारा वोटरों के बीच रात-दिन एक कर प्रचार-प्रसार करते हैं.जब इतने से बात नहीं बनी तो अखबार में एक गलत चुनाव चिन्ह छपने से मतदाता गुमराह कैसे हो जाएंगे.वैसे चुनाव खर्च निकालने व सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए रामदेव ने बढ़िया तरीका अपनाया है.इस प्रकरण में प्रभात खबर के मोतिहारी मॅाडम सेंटर को नीचा दिखाने के लिए विरोधी पत्रकार की संलिप्तता से इंकार नहीं किया जा सकता. श्रीकांत सौरभ,मो.9473361087

    Reply
  • prabht khabar ko ese kamon main maharat hasil hia. are wo to chunaw chinh hi galat chap kar rah gaya .yadi unka bas chalta to ramdeo giri ko chunaw se hi bahar bata deta . liken mazbori thi wesa nahi karne ki.

    Reply
  • vijay kumar says:

    Ramdev jee ko bahut-bahut badhai.
    Ramdev jee jaisi himmat aur 10 log kar len, to Harivansh jee kee khal utar jayegi.
    mai janta hun, Prabhat Khabar Ramdev jee jaise kitno ko chunav harwaye hain

    Reply
  • vijay kumar says:

    Ramdev jee ko bahut-bahut badhai.
    Ramdev jee jaisi himmat aur 10 log kar len, to Harivansh jee kee khal utar jayegi.
    mai janta hun, Prabhat Khabar Ramdev jee jaise kitno ko chunav harwaye hain

    Reply
  • Mahesh Sharma says:

    [b]Jis pradhan ko likhna padna nahi aata hai ….Free ke paise se election ladkar ya daaru pilakar kab tak janta ko murkh banaaoge …?[/b]

    Chavanii band Ho gayi ye chavanni chap neta kab band honge …???

    :):):)

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.