फोटोग्राफर राजीव यूपी पुलिस का नया शिकार

बदायूं से खबर है कि हिंदुस्तान अखबार के फोटोग्राफर राजीव कुमार को पुलिस वालों ने इसलिए पीट दिया क्योंकि वे पुलिस द्वारा खुलेआम प्रताड़ित किए जा रहे एक युवक की तस्वीर ले रहे थे. तस्वीर खींचते देख पुलिस वालों ने आपा खो दिया और राजीव को पीटना शुरू कर दिया. उत्तर प्रदेश में बेलगाम हो चुकी पुलिस आए दिन मीडिया वालों व उनके परिजनों पर हमले कर रहे हैं और उनके साथ अमानवीय व्यवहार कर प्रताड़ित कर रहे हैं.

भड़ास4मीडिया को फोन कर राजीव ने सूचित किया कि उन पर पुलिस इंस्पेक्टर यशवीर ने हमला किया और बाद में उनके अधीनस्थ सिपाहियों ने पीटा. राजीव के मुताबिक उनका कुसूर सिर्फ इतना था कि वे बदायूं के सुभाष चौक पर चार-पांच पुलिस वालों के हाथों पिट रहे एक युवक की फोटो खीच रहे थे. इसी कारण इंस्पेक्टर यशवीर ने उन पर हमला किया और अन्य सिपाहियों से भी पिटवाया.  सूत्रों का कहना है कि हिंदुस्तान प्रबंधन अपने फोटोग्राफर पर हुए हमले के मामले को गंभीरता से नहीं ले रहा है. खुद बदायूं ब्यूरो के जर्नलिस्ट भी दोषी इंस्पेक्टर को दंड दिलाने की जगह अपने फोटोग्राफर को ही चुप कराने में लग गए हैं.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “फोटोग्राफर राजीव यूपी पुलिस का नया शिकार

  • Rizwan Mustafa says:

    Eant ka jawab pathar se jab taq nahi diya jayega, tab taq maya ki police patrkaro ka jina haram kar dengi, jo Chup Rahengi jubane khanjar Lahu Pukarenga Aasteen Ka, Juto patrkaro, samman K liye aar par karo is se pahle ki ab aur koi shiqar ho, Barraye ki tarah chimat kar kat dalo kutto ko,Jago- Jago

    Reply
  • byro chif aur crime kotwal ki aaye din davat khate hain to bechare photografar ko hi chup karenge…………bainar ki beizzati ki chinta nhi hai…..varna ab tak to kotwal mafi mang leta

    Reply
  • aapkiawaz.com says:

    महोदय, मेरी एक बात समझ नही आ रहा है कि आये दिन पत्रकारो व उनके परिवार के साथ जुल्म-ज्यादती की खबर आती रहती है। फिर भी शायद इन जालिमों का कुछ बिगड़ता नही है, शायद इसी वजह से इनकी हिम्मत बढ़ती जा रही है। क्या पत्रकारो का ऐसा कोई संगठन नही है जो ऐसे केसो को दूर-देर तक देखे और जरूरत पड़नें पर हर संभंव प्रयास करें। ताकि अन्याय करने वालो को सबक़ सिखाया जा सके। संपादक- आपकी आवाज़.कांम।

    Reply
  • narendra teniwal says:

    badayu ke photographar ke upar hue pollice ke atyachar ki ninda homni chahiye or dosi pollice karmi ko dandit kiya jana chahiye
    badayu ke buro ko apne jabaj photographar ka sath dena tha . lekin unhone esa nahi kar media ko sarmshar kiya hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *