सुभाष राय होंगे जनसंदेश टाइम्स के एडिटर?

लखनऊ से प्रकाशित होने जा रहे जनसंदेश टाइम्स का संपादक कौन होगा, इसको लेकर कयासों का बाजार गर्म है. तीन नाम जबर्दस्त चर्चा में हैं. प्रमोद जोशी, सुभाष राय और सुनील दुबे. सूत्रों का कहना है कि तीनों ही लोगों को जनसंदेश प्रबंधन से बातचीत हुई है. किसका नाम फाइनल हुआ है, यह पता नहीं चल सका है. कुछ लोगों का कहना है कि सुभाष राय को संपादक पद की जिम्मेदारी देने का फैसला प्रबंधन ले चुका है. उधर, प्रबंधन से जुड़े सूत्र कह रहे हैं कि अभी कई नामों पर विचार चल रहा है, किसी को फाइनल नहीं किया गया है.

बताया जा रहा है कि जनसंदेश टाइम्स उन्हीं लोगों का अखबार होगा, जिनका जनसंदेश न्यूज नाम से रीजनल न्यूज चैनल है. अघोषित तौर पर बसपा से जुड़े कुछ लोग इस ग्रुप को संचालित करते हैं. प्रारंभिक सूचना के मुताबिक जनसंदेश टाइम्स नाम से 25 पेजों का रंगीन अखबार प्रकाशित किया जाएगा जिसके साथ चार पन्नों को सप्लीमेंट अलग से होगा. जनसंदेश टाइम्स का ठीकठाक एयरकंडीशन्ड आफिस लखनऊ में बनकर तैयार है. प्रिंटिंग मशीन लखनऊ के एयरपोर्ट इंडस्ट्रियल एरिया में स्थापित की जा रही है. जनसंदेश प्रबंधन से हिंदी मीडिया के कई दिग्गज लोग इन दिनों संपर्क में हैं.

हिंदुस्तान के मार्केटिंग मैनेजर और प्रोडक्शन इंचार्ज रहे एक वरिष्ठ ने जनसंदेश टाइम्स में ज्वाइन कर अखबार के प्रकाशन को लेकर तैयारियां शुरू कर दी हैं. बताया जा रहा है कि अखबार के संपादक के नाम पर अंतिम मुहर एक दो दिन में लग जाएगी. फिलहाल सभी लोगों में सुभाष राय का पलड़ा भारी पड़ता दिख रहा है क्योंकि जनसंदेश टाइम्स को ऐसा संपादक चाहिए जिसे यूपी की जमीनी समझ होने के साथ-साथ दामन किसी किस्म से दागदार भी न हो.

सुभाष राय इन दिनों डीएलए हिंदी दैनिक में संपादक विचार के पद पर कार्यरत हैं. वे अमर उजाला, आगरा में लंबे समय तक संपादक के रूप में कार्यरत रहे हैं.  सुभाष राय निष्ठावान, मेहनती, गंभीर व विद्वान पत्रकारों में शुमार किए जाते हैं. जनसंदेश टाइम्स के लिए लाइन में लगे प्रमोद जोशी हिंदुस्तान से हटने के बाद अभी तक कहीं सेटल नहीं हो सके हैं. वे कई अखबारों के मैनेजमेंट के संपर्क में रहे पर उनका कहीं फाइनल नहीं हुआ है. सुनील दुबे भी हिंदुस्तान से हटने के बाद छिटपुट कुछ प्रयोगों को छोड़ दें तो लगभग निर्वासन का ही जीवन जी रहे हैं. सुनील दुबे की यूएसपी उनका लखनऊ में लंबे समय से संपादक होना है तो प्रमोद जोशी का प्लस प्वाइंट लखनऊ-दिल्ली में रहकर हिंदुस्तान समेत कई अखबार के संचालन का अनुभव रखना है.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “सुभाष राय होंगे जनसंदेश टाइम्स के एडिटर?

Leave a Reply

Your email address will not be published.