ज्योति नारायण के जिम्मे एक और कंपनी

ज्योति नारायण के बारे में सूचना मिली है कि उन्हें पर्ल इनफ्रास्ट्रक्चर का भी काम सौंप दिया गया है. अभी तक वे पर्ल मीडिया की तीन कंपनियों के अलावा पीएसीएल, टूरिज्म से जुड़ी कंपनियों का काम देख रहे हैं. अब उन्हें पर्ल इनफ्रास्ट्रक्चर का भी जिम्मा दे दिया गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ज्योति नारायण को पिछले दिनों पर्ल निदेशक मंडल की हुई एक बैठक में पर्ल इनफ्रास्ट्रक्चर का काम सौंपा गया. नई जिम्मेदारी के कारण ज्योति नारायण पर्ल मीडिया के प्रतिदिन के रुटीन  वाले काम नहीं देखेंगे. वे पर्ल मीडिया के नीतिगत फैसलों में पहले की तरह सक्रिय रहेंगे.

ज्योति नारायण पर्ल मीडिया की तीनों कंपनियों में बतौर निदेशक शामिल हैं. ज्ञात हो कि ज्योति नारायण के नेतृत्व में पर्ल मीडिया का काम शुरू हुआ और देखते ही देखते मैग्जीन व चैनल स्थापित होते चले गए. पर्ल मीडिया के अलावा पर्ल ग्रुप की कई अन्य कंपनियों के काम देख रहे ज्योति नारायण अब इनफ्रास्ट्रक्चर से जुड़ी पर्ल की कंपनी का भी काम देखेंगे.

भड़ास4मीडिया ने इस बारे में जब ज्योति नारायण से बात की तो उन्होंने पर्ल इनफ्रास्ट्रक्चर की जिम्मेदारी मिलने की बात कुबूल की. साथ ही यह भी कहा कि उनके लिए पर्ल ग्रुप की प्रत्येक कंपनी उतनी ही महत्वपूर्ण है जितनी मीडिया कंपनी. वे पर्ल मीडिया का काम देखने से पहले भी पर्ल ग्रुप के लिए पूरी ऊर्जा से काम करते रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे. उनके लिए प्रत्येक कंपनी का काम उतना ही महत्वपूर्ण है जितना किसी एक कंपनी का हो सकता है. हां, ये हो सकता है कि किसी खास समय के लिए किसी खास कंपनी पर ध्यान ज्यादा हो. कंपनी की जरूरत के हिसाब से प्राथमिकताओं में बदलाव संभव है.

ज्योति के मुताबिक पर्ल ग्रुप की कई कंपनियों का काम हो जाने से प्रत्येक कंपनी के रुटीन के काम में हस्तक्षेप करना संभव नहीं होता है. इस कारण कई बार लोग मनगढंत बातें बनाने लगते हैं. लेकिन काम करने वालों पर नकारात्मक या सकारात्मक, किसी भी प्रकार के प्रचार का असर नहीं पड़ता है, और न पड़ना चाहिए.

Comments on “ज्योति नारायण के जिम्मे एक और कंपनी

  • योगराज शर्मा says:

    जिम्मेदारिया बढना अच्छी बात है.. उन्हें निभाना कठिन होता है.. अच्छे और सच्चे साथियों को साथ रखें.. भगवान भला करेंगे

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *