नेशनल आरटीआई फोरम के साथ चलें, साथ दें

उद्देश्य : सूचना अधिकार क्षेत्र में कार्य कर रही संस्था है नेशनल आरटीआई फोरम. इसका मुख्य उद्देश्य सूचना का अधिकार के क्षेत्र में कार्य कर रहे समस्त साथियों के लिए साझा  मंच का निर्माण करना है. इस मंच के जरिए वे सभी इस क्षेत्र में हो रही सारी प्रगतियों, समस्यायों, बुनियादी सवालों और मानदंडों के विषय में विस्तार-पूर्वक बहस व विचार-विमर्श कर सकें.

इन्ही के आधार पर एक सर्वमान्य दृष्टिकोण स्थापित करें. इसके साथ ही इस फोरम का उद्देश्य समस्त कार्यकर्ताओं को एक मंच पर लाते हुए इनकी सुरक्षा तथा संरक्षा के गंभीर सवालों पर भी उचित सहयोग प्रदान करने की है.

परिचय : यह एक पब्लिक ट्रस्ट है जिसका पंजीकरण रजिस्ट्रार, लखनऊ के कार्यालय में 12 /07 /2010 को किया गया था. इसके प्रमुख पदाधिकारी हैं-

  1. अमिताभ ठाकुर- यू० पी० के आईपीएस अधिकारी तथा वर्तमान में आई आई एम लखनऊ में अध्ययनरत- ये फोरम के अध्यक्ष हैं

  2. उत्कर्ष कुमार सिन्हा- सामजिक कार्यकर्ता और सीसीएस लखनऊ के निदेशक – ये फोरम के उपाध्यक्ष हैं

  3. नूतन ठाकुर- पीपुल्स फोरम की सम्पादक और आईआरडीएस की सचिव- ये फोरम की कन्वेनर हैं

राज्य इकाइयां : फोरम की कई राज्यों में राज्य इकाईयां स्थापित हैं जहां समर्पित तथा निष्ठावान सहयोगी स्वेच्छिक रूप  से अपना योगदान प्रदान कर रहे हैं. प्रत्येक राज्य में एक जेनेरल सेक्रेटरी,  को- ओरडीनेटर तथा कौंसलर हैं जिनके कर्तव्यों तथा अधिकारों का स्पष्ट रेखांकन किया गया है जिससे फोरम के कार्य सुचारू और निर्विवादित तरीके से हो सकें.   इस विषय में विस्तृत सूचना इस वेब-पेज पर दिखी जा सकती है- http://nationalrtiforum.org/ABOUT.html

प्रमुख कार्य :

  1. आरटीआई सम्बंधित कई सेमीनार जैसे- “आरटीआई और विधायिका के विचार”, “आरटीआई और बैंकिंग सेक्टर”, “आरटीआई- हानि और लाभ” आदि

  2. आरटीआई के क्षेत्र से जुड़े अनेक समस्यायों और मुद्दों पर अनवरत रूप से कैम्पेनिंग और एडवोकेसी करना.

  3. कई महत्वपूर्ण तथा ज्वलंत मुद्दों पर आरटीआई एप्लीकेशन के जरिये सूचना एकत्र करना और उनका उचित उपयोग करना.

  4. आरटीआई फंड की स्थापना जिसका प्रमुख उद्देश्य आर टी आई के क्षेत्र में कार्य कर रहे ऐसे समस्त लोगों को क्षमता-भर सहयोग करना है जिनके आर टी आई विषयक कार्य धनाभाव के कारण रूक जा रहे हैं. साथ ही ऐसे लोगों की मदद के लिए जिन्हें आरटीआई के उनके कार्यों के चलते प्रताड़ित किया जाता है.

  5. सतीश शेट्टी, शशिधर मिश्रा और ललित मेहता जैसे आर टी आई शहीदों की याद में तीन  आरटीआई गैलेंट्री अवार्ड इस वर्ष क्रमशः स्वर्गीय अमित जेठवा, संजीव चतुर्वेदी और बिस्वजीत मोहंती को दिया गया.

  6. आरटीआई के क्षेत्र में प्रताड़ित हो रहे लोगों की सहायता में सतत कार्यरत.

संपर्क-

डॉ नूतन ठाकुर,
कन्वेनर, नेशनल आर टी आई फोरम,
5/426, विराम खंड,
गोमती नगर,
लखनऊ
# 94155-34525

अपील-

  1. १. कृपया आर टी आई फोरम के सदस्य और सहयोगी बन इस संस्था को अपनी ऊर्जा और ताकत प्रदान करें. सदस्यता हेतु कोई प्राथमिक आवश्यकता नहीं है. विस्तृत विवरण के लिए क्लिक करें – http://nationalrtiforum.org/How%20to%20be%20a%20member.हतं

  2. २. कृपया आर टी आई फंड में “नेशनल आर टी आई फोरम”  एकाउंट, पंजाब नेशनल बैंक, गोमती नगर, लखनऊ शाखा में अपना सहयोग देने की कृपा करें. विस्तृत विवरण के लिए क्लिक करें- http://nationalrtiforum.org/RTI%20Fund.htm

नेशनल आरटीआई फोरम की तरफ से जनहित में और प्रचार-प्रसार के उद्देश्य से जारी प्रेस विज्ञप्ति

Comments on “नेशनल आरटीआई फोरम के साथ चलें, साथ दें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *