लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार यशा रिज़वी का इंतकाल

यसा रिजवीइरान रेडियो के लिये काम कर रहे यशा रिज़वी का कल रात में अचानक लखनऊ में निधन हो गया. यशा रिज़वी 50 साल के थे. यशा रिज़वी को आज शोककुल दोस्तों और सगे सम्बन्धियों की मौजूदगी मैं लखनऊ की इतिहासिक कर्बला तालकटोरा में सुपुर्द-ए-खाक किया गया. यशा रिज़वी पत्रकारिता के मैदान मैं एक मझे हुए पत्रकार थे और उन्होंने अपने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत फ्री-लान्सिंग से की.

शिया संगठन अली कांग्रेस ने आपात बैठक में अपने संस्थापक को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए यशा रिज़वी की ना-वक़्त मौत पर एक बयान में कहा है कि उनकी मौत से केवल पत्रकारिता को ही नुकसान नहीं पहुंचा है बल्कि शिया समुदाय को भी नुकसान पहुंचा है. यशा रिज़वी ने अज़ादारी और वक्फ बचाओ आंदोलनों की मंसूबा बंदी की थी. अपनी लेखनी से इन विषयों पर जनता में जाग्रृति की मुहिम छेड़ी थी. उनको हर समय चिंता रहती थी कि किस तरह से वक्फ की सम्पतियों का बचाव किया जाये.

यशा रिज़वी धर्म के ठेकेदारों के सख्त खिलाफ थे और उन्होने विभिन चेहरों पर पड़ी नकाब को भी खींच लिया था. अली कांग्रेस ने अपने बयान में कहा है कि यशा रिज़वी को सही श्रद्धांजलि यही होगी कि अवकाफ की सम्पतियों की सुरक्षा को यकीनी बनाया जाये. यशा रिज़वी की मय्यत की नमाज़ मौलाना हमीदुल हसन ने पढ़ाई जबकि मजलिस को मौलाना सैफ अब्बास ने संबोधित किया. उनकी पांचवे की मजलिस काले इमामबारा में इतवार को सुबह 10 बजे होगी.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार यशा रिज़वी का इंतकाल

  • Akhilesh Singh(Lko), Noida says:

    Khuda se yahi gujarish kru ga enki aatma ko shanti mile, aur unke gharwalo ko khuda vo shaki de ki besamay aaye es dukh ko bardast kar sake.

    Reply
  • sanjogwalter says:

    अलविदा यशा भाई, आज मेरे पास अलफ़ाज़ नहीं है की में अपने ज़ज्बात की तर्जुमानी कर सकूँ, जो गम मिला है उसे बर्दाश्त करने की हिम्मत खुदा हम सब को दे

    Reply
  • Rizwan Chanchal Lucknow says:

    Bhartiya rastriya patrkar mahasangh dwara Yasa rizwi ke nidhan per Red File karyalay Lalbag me sok sabha ka ayojan kiya gaya is awsar per 2 minut ka maun rakhker shri Rizwi ko sangh ke sadasyon ne sradhanjali di . sangh ke rastiya mukhya mahasachiv Rizwan chanchal ne kaha ki patrakarita ke field me yeh apurniya chati hai jiski bharpai namumkin hai.

    Reply
  • woh hameshan hamare dilon men rahenge,woh ek achchhe journalist hone ke alawa ek bahut achchhe insaan they aur bahut sari sifaat ke malik the ,allah unko jannat ata kare,aameen.

    Reply
  • wo hameshan hamare dilon men rahenge,ek achche journalist hone ke alawa woh ek bahut achche insaan they aur bahut sari sifaat ke maalik they, allah unko jannat ata kare.

    Reply

Leave a Reply to sanjogwalter Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *