पीएसी के समक्ष पेश हुए विनोद मेहता और मनु जोसेफ

टूजी स्पेक्ट्रम आबंटन मामले में सोमवार को लोक लेखा समिति (पीएसी) के समक्ष दो वरिष्ठ पत्रकार मनु जोसेफ और विनोद मेहता पेश हुए. दोनों संपादकों ने टूजी मामले से जुड़े राडिया टेप के अंशों को प्रकाशित किया था. पेशी के बाद पीएसी अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी ने कहा कि समिति के समक्ष ओपेन के संपादक मनु जोसेफ और आउटलुक के संपादक विनोद मेहता पेश हुए.

पीएसी के सामने 14 को पेश होंगे विनोद मेहता और मनु जोसेफ!

2-जी स्पेक्ट्रम आवंटन मामले में जांच कार्य तेज करते हुए संसद की लोक लेखा समिति अगले कुछ हफ्ते में संभवत: प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव टीकेए नायर, कैबिनेट सचिव केएम चंद्रशेखर, केन्द्रीय जांच ब्यूरो के निदेशक एपी सिंह और कापरेरेट लाबीस्ट नीरा राडिया को तलब कर सकती है. भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी की अध्यक्षता वाली समिति (पीएसी)  उन वरिष्ठ पत्रकारों को भी बुलाएगी जिनके नीरा राडिया के साथ बातचीत के टेप सार्वजनिक हुए हैं.

पीएसी के सामने पेश हुए वरिष्‍ठ पत्रकार गोपीकृष्‍णन

2जी स्‍पेक्‍ट्रम आबंटन घोटाले की खबर ब्रेक करने वाले पत्रकार जे गोपीकृष्‍णन मंगलवार को लोक लेखा समिति (पीएसी) के समक्ष पेश हुए. उन्‍होंने पीएसी महत्‍वपूर्ण साक्ष्‍य दिए. संभावना है कि आने वाले कुछ दिनों में पीएसी कारपोरेट लॉबीस्‍ट नीरा राडिया समेत कुछ वरिष्‍ठ पत्रकारों को अपने सामने उपस्थित होने का फरमान सुना सकती है.

राडिया समेत कुछ पत्रकारों को भी बुला सकती है पीएसी

संसद की लोक लेखा समिति (पीएसी) कॉरपोरेट लॉबीइस्‍ट नीरा राडिया और कुछ वरिष्ठ पत्रकारों को अपने समक्ष पेश होने के लिए समन कर सकती है. इन पत्रकारों ने यूपीए दो में मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे और 2जी स्पेक्ट्रम आबंटन को लेकर राडिया से फोन पर बात की थी. हालांकि अभी इन्‍हें बुलाए जाने की तारीख तय नहीं की गई है.