एसएमएस भेजने वाले पत्रकार जायेंगे जेल!

: बाराबंकी में डीएम व एसपी ने ली एसएमएस भेजने वाले पत्रकारों की खबर : मोबाइल के द्वारा एसएमएस से खबर भेजने वाले पत्रकारों की खबर बाराबंकी के जिलाधिकारी ने ली। डीआरडीए कक्ष में उन्‍होंने इन पत्रकारों से उनके बायोडाटा सहित छह बिन्दुओं पर उनसे जवाब भी मांगा। जानकारी के अनुसार जनपद में मोबाइल के माध्यम से समाचार भेजने वाले लगभग एक दर्जन पत्रकार सक्रिय है। जिसमे अधिकांश फर्जी श्रेणी में आते है।

जिलाधिकारी विकास गोठलवाल ने जनपद में होने वाली छोटी-बड़ी घटनाओं का एसएमएस के माध्‍यम से संदेश भेजने वाले पत्रकारों को  डीआरडीए कार्यालय में बुलाया था। इन पत्रकारों को जिलाधिकारी ने स्पष्ट रूप से निर्देश दिये कि अभी अत्‍यन्‍त संवेदनशील समय है। आप लोग किसी भी तरह के ऐसे मैसेज न भेजे जिससे समाज में बुरा संदेश जाये या समाज की एकता बिगड़े। अगर इस तरह से खबरें चलायी गईं तो मैं धारा 33 बी के तहत कार्रवाई करने को मजबूर हो जाऊंगा। उन्होंने इन लोगों से बारी-बारी एक-एक करके छह बिन्दुओं पर जानकारी मांगी और यह भी कहा कि अगर इसका रजिस्ट्रेशन नही है तो एसएमएस भेजने का काम बन्द कर दो।

पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह राणा ने यहां तक कहा कि अगर एसएमएस की खबरों से अगर जनपद में कहीं कोई हादसा हुआ तो मैं कड़ी कार्रवाई करूंगा। कुछ एसएमएस भेजने वाले पत्रकारों ने इन अधिकारियों से सवाल-जवाब भी किया, लेकिन उनको इसमें कामयाबी नही मिली। लगभग एक घंटे तक चली इस बैठक में डीएम व एसपी ने सभी पत्रकारों से एक-एक बात की जानकारी भी ली। बैठक में जिला पूर्ति अधिकारी जनपद के उपजिलाधिकारी, क्षेत्राधिकारी सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

अधिकारियों के इस कड़े रूख से जहां फर्जी पत्रकार सकते में आ गये हैं वहीं पत्रकारों ने राहत की सांस ली। चर्चा यह है कि आगामी 24 सितम्बर को राम जन्मभूमि व बाबरी मस्जिद के फैसले पर होने वाले निर्णय और त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को ध्यान में रखकर इन अधिकारियों ने यह कार्रवाई की है। अधिकारियों का यह आदेश कितना यह पत्रकार मानते है ये आने वाला समय बतायेगा।

बाराबंकी से डी के मिश्रा की रिपोर्ट.

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “एसएमएस भेजने वाले पत्रकार जायेंगे जेल!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *