माया के वर्दी वाले गुंडों से नहीं डरूंगा

प्रिय भाई यशवंत जी, उत्‍तर प्रदेश के माया राज में पुलिस वालों की मार झेल रहा हूं, जहां लोगों को आवाज उठाना भारी पड़ता है. मुझे अखबारों में लिखना भारी पड़ गया. माया के इन गुण्‍डों ने मुझे कालेज से लौटते समय पकड़ लिया और पांच दिन तक बिना किसी सबूत व कारण के रिमांड पर रखा, फिर तेरह फर्जी केस लगाकर मुझे एक बड़े गिरोह के साथ जोड़ दिया गया. जिसके चलते मुझे तीन माह सोलह दिन जेल में काटना पड़ा.

मैं चीखता-रोता रहा. जिस समाज की लड़ाई मैं लड़ रहा था, उसमें से कोई मुझे बचाने नहीं आया, जबकि मेरा परिवार एक सम्‍पन्‍न और आदर्शवादी माना जाता है, पर माया राज के आते ही खत्म हो गया. मेरे जैसे जाने कितने लोग हैं जो प्रतिदिन सातये जाते है. व्‍यस्‍त आबादी वाले लोग अपने-अपने में लगे हुए हैं, इनको जगाना ही बस मेरा उद्देश्‍य है. मैं उत्‍तर प्रदेश के बुंदेलखंड के छोटे पिछड़े जिला ललितपुर के एक गांव डोंगर कला का निवासी हूं. पत्रकारिता का छात्र हूं.

आज मुझे पत्रकारिता से जुड़े हुए आठ वर्ष हो गए. इन आठ वर्षो से मैं दर-दर भटक रहा हूं. बुहत से न्यूज़ पेपर, मैग्‍जीन और न्यूज़ चैनल मैं काम किया. मुझे जिस जगह की तलाश थी शायद अब वह मुझे मिल रही है. क्योकि प्रेस में आज इन बेबस बिजनेस मैन और रिश्वत की बुनियाद में दबे हुए लोगो के साथ काम नहीं करना चाहता हूं. खुद की लड़ाई में फंस कर भी ज्‍यादा नहीं उलझना चाहता हूं. मुझे तो चिता है इन सोये हुए लोगों की. ये लोग कब त जातिवाद, क्षेत्रवाद की लड़ाई में फंसे रहेंगे. मेरी बात आप तक पहुंचाने का मकसद ये था कि आप तो मेरे केस की जाँच उच्च स्तर पर नहीं करा सकेंगे, बस लिखने को जगह जरुर देते रहिये.

शैलेन्‍द्र पराशर

Comments on “माया के वर्दी वाले गुंडों से नहीं डरूंगा

  • Lage raho Shailendra Bhai ! Himmati bhi ho aap aur jazbe waale bhi ! Jahan tak policiya zulm ka sawaal hai to aaj har patrakaar ki haalat kharab hai ! Na koi qanoon na koi suraksha ! Kya karoge BOSS ? Bus yun hi ladte rahna hai , jis din thak jaayenge , us din chup-chaap baith lenge ! Par samaaj ke dusare peshe ke log ungli to nahi uthaaenge , kyonki wo to 8 ghante duty karte hain, desh par badi-badi baatein karte hain aur mast rahte hain ! Naitikata ka sara theekra Patrakaaron par phod diya jaata ! Lagta hai ki aam addmi ki koi zimmedaari hi na ho ! Khair ! Shubhkaamna aur himmat se zyaada kya de sakta hun ! Lage raho !

    Reply
  • PREETI RAIKWAR says:

    शैलेन्द्र जी
    आप की इस लड़ाई मैं हम आपके साथ है और आपके एस छेत्र की इस लड़ाई मैं हम सभी आपके साथ है ?
    प्रीती रायकवार
    पूनम जोशी इन्दोर
    मेघा कुमारी
    छात्र – पत्रकार बिभाग
    देवी अहिल्य बाई कालेज इन्दोर

    Reply
  • RAJA NAGAYACH says:

    भाई मुझे
    मैं भी पत्कारिता का छात्र हु आपकी इस भयंकर आपबीती पड़ी दिल रो पड़ा लेकिन मुझे पत्रकार बनने के बाद का इतना बुरा हस्र नहीं सोचा था

    Reply
  • RAJA NAGAYACH says:

    भाई मुझे
    मैं भी पत्कारिता का छात्र हु आपकी इस भयंकर आपबीती पड़ी दिल रो पड़ा लेकिन मुझे पत्रकार बनने के बाद का इतना बुरा हस्र नहीं सोचा था

    Reply
  • Ajay Singh Chauhan says:

    Bahut Hi Badhiya Likhte Hain Aap, Isi Tarah Likhte Rahiye. Patrakarita Jagat Ko Aap Jaise Kabhi Himmat Naa Haarne Waale Patrakaron Ki Hi Zarurat Hai, Abhaar.

    Reply
  • shail sharma says:

    shailendra ji
    ap ko insaf kaya milega bus kahne ko desh azad huwa hai or u.p. ke cas to aishe hai ki hm budde ho jayenge lekian case hmare bachhe jarur ladenge ?

    Reply
  • Dear.
    shailendra ji ap ka jabab nahi hai a bat main manta hu ek salah jarur dunga faltu ke pange main mat pado dileri sav nikal jayegi koi kam main nahi aata achhe achhe bade se bade patrkar par aj u.p. main julm ho rahe hai koi maya raj kuchh nahi bigad pa raha hai esliye apni jindgi santi se jiyo usme fyda h?

    Reply
  • shailendra ji
    koi sath nahi dega baitho bus dilasa denge jav phir kudoge es aag main to es baar kloi nahi bachha payega kuchh samjh main aa raha hai na apki?

    Reply
  • sandhya lalitpur says:

    shailendra ji
    main bhi lalitpur ki hu apka artical dekha bohat dukh huwa jaisa apne likha hai yanha ke raj ke bare main such hai a qki a hadsah mere bhai ke sath bhi ho chuka hai yanha ki police bus a dekhti hai ki kon paise wali party hai use changul main lekar paise athe ja sake ?
    main sath rah kar kaya hoga qki yanha ke aatank ka pata nahi kav khatma hoga ?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *