हिंदुस्तान बरेली में इस्तीफों का क्रम जारी, संजय को प्रमोशन

हिंदुस्तान, बरेली से मार्केटिंग एक्‍जीक्‍यूटिव रवींद्र शर्मा ने रिजाइन कर दिया है. उन्‍होंने अपनी नई पारी दैनिक जागरण, मुरादाबाद के साथ शुरू की है. उन्‍होंने सीनियर एक्‍जीक्‍यूटिव के रूप में ज्‍वाइन किया है. यह जागरण के संग उनकी दूसरी पारी है. रवींद्र ने अपने करियर की शुरुआत दैनिक जागरण, मुरादाबाद से की थी तथा इसके बाद हिंदुस्‍तान ज्‍वाइन थे. कुछ दिनों पहले ही हिंदुस्तान, बरेली से इवेंट मैनेजर मुकुल गुप्ता ने इस्तीफा देकर गाजियाबाद में एक मोबाइल कंपनी के साथ जुड़ गए.

 

हिंदुस्तान, बरेली के एकाउंट मैनेजर रवींद्र का इस्तीफा

: शीत युद्ध में भारी पड़े यूनिट हेड सम्राट नायक :  हिंदुस्तान, बरेली से सूचना है कि एकाउंट मैनेजर रवींद्र अग्निहोत्री ने इस्तीफा दे दिया है. सूत्रों के मुताबिक यूनिट हेड सम्राट नायक के साथ चल रहे शीत युद्ध में आखिरकार रवींद्र अग्रवाल को संस्थान छोड़ना पड़ा. नए एकाउंट मैनेजर के रूप में पटना से आए कौशल अग्रवाल ने कार्यभार ग्रहण कर लिया है.

केके और नायक के बीच शीत युद्ध से बुरा हाल

: डेस्क पर स्टाफ कम होने से साप्ताहिक अवकाश पर रोक : रिपोर्टर इतने भर्ती कर लिए गए कि बैठने के लिए जगह नहीं : काम के दबाव से क्षुब्ध दो पेजीनेटरों का इस्तीफा : हिन्दुस्तान, बरेली इस समय स्टाफ की कमी से जूझ रहा है जिसके चलते डेस्क के लोगों के वीकली रेस्ट पर भी रोक लगा दी गई है। वीकली रेस्ट पर रोक लगने से स्टाफ में रोष व्याप्त है। पता चला है कि इसी बात से क्षुब्ध होकर दो पेजीनेटरों ने भी इस्तीफा थमा दिया है।

केके का प्रमोशन, उनियाल डबल सीईओ, सजवानी की नई पारी

शशि शेखर के राज में हिंदुस्तान में उनके खास लोग जमकर फायदा उठा रहे हैं, प्रमोशन-तरक्की पा रहे हैं, वहीं पुराने दौर के लोग नौकरी बचाने और नई नौकरी तलाशने में लग गए हैं. शशि शेखर के साथ अमर उजाला में गोरखपुर व बरेली में संपादकीय प्रभारी रहे केके उपाध्याय अब हिंदुस्तान, बरेली में संपादकीय प्रभारी हैं. उन्हें तरक्की देते हुए अब आरई, बोले तो, स्थानीय संपादक बना दिया गया है.

हिंदुस्तान, बरेली से दो का तबादला

: अपडेट : हिंदुस्तान, बरेली से सूचना है कि सीनियर रिपोर्टर हरी प्रकाश चौहान का तबादला कर दिया गया है. उन्हें उनकी मांग पर गोरखपुर भेजा गया है. हरी गोरखपुर के ही रहने वाले हैं.

4 ग्रामीण पत्रकारों ने हिंदुस्तान, लखीमपुर का साथ छोड़ा

उत्तर प्रदेश में हिंदुस्तान अखबार के लखीमपुर के ब्यूरो चीफ विवेक सेंगर के रवैए से क्षुब्ध होकर चार ग्रामीण पत्रकारों ने हिंदुस्तान छोड़ दिया है. इन लोगों ने अमर उजाला के लिए काम करना शुरू कर दिया है. हिंदुस्तान छोड़ने वाले पत्रकारों के नाम हैं- अब्दुल सलीम खान, मोहम्मद शफीउल्ला, कमलजीत सिंह और अफसर अली.

बरेली में हिंदुस्तान का दाम बढ़ा

बरेली में हिंदुस्तान को जमाने-बसाने के लिए कम दाम पर अखबार बेचने के फैसले को अब बदल दिया गया है. पचास फीसदी छूट पर हिंदुस्तान पढ़ने-पढ़ाने के कंपेन को कल बंद करने की घोषणा कर दी गई. इस बाबत अखबार के पहले पन्ने पर एक सूचना प्रकाशित की गई है. अब नए संशोधित मूल्य के मुताबिक हिंदुस्तान अखबार सोमवार से शुक्रवार तक 2.25 रुपये और शनिवार और रविवार को 2.75 रुपये का होगा.

बवाल खत्म हुआ तो आफर लेटर भी पहुंचे

बरेली में चल रहे बवाल के कारण कई लोगों के आफर लेटर लटक गए थे. अब डाक वाले चलते-फिरते नजर आने लगे हैं तो इन लोगों की अधर में लटकी हुई नौकरियों की नैया भी पार लगने की उम्मीद है.

समारोह में नहीं, ट्रेन में थे वीरेन डंगवाल!

हिंदुस्तान, दिल्ली में प्रथम पेज पर प्रकाशित खबर का अंशसमारोह में शामिल नहीं हुए पर नाम छप गया! यह कारनामा किया है ‘हिंदुस्तान’ ने। इस अखबार के बरेली संस्करण के लोकार्पण के मौके पर आयोजित समारोह में जो-जो लोग शामिल हुए, उनमें कवि वीरेन डंगवाल के नाम का भी उल्लेख हिंदुस्तान अखबार ने किया है। हिंदुस्तान, दिल्ली में प्रथम पेज पर प्रकाशित सिंगल कालम खबर की अंतिम तीन लाइनों में कहा गया है- ‘हिन्दी दैनिक के लोकार्पण के मौके पर सांसद प्रवीण सिंह ऐरन, कवि वीरेन डंगवाल समेत शहर की कई मशहूर हस्तियां मौजूद थीं।’ सूत्रों का कहना है कि वीरेन डंगवाल तो कल बरेली में थे ही नहीं। वे रात करीब दस बजे दिल्ली से शताब्दी के जरिए बरेली लौटे।

पर किसी ने मृणालजी का नाम नहीं लिया

[caption id="attachment_15960" align="alignnone"]बरेली के टापर बच्चों के हाथों हिंदुस्तान अखबार का लोकार्पण कराते प्रधान संपादक शशि शेखर. (तस्वीर साभार : हिंदुस्तान)बरेली के टापर बच्चों के हाथों हिंदुस्तान अखबार का लोकार्पण कराते प्रधान संपादक शशि शेखर. (तस्वीर साभार : हिंदुस्तान)[/caption]

हिंदुस्तान की बरेली यूनिट कई लिहाज से खास है। इसे ऐतिहासिक भी कहा जा सकता है। इस यूनिट ने दो प्रधान संपादक देखे। मृणाल पांडे और शशि शेखर। मृणालजी के जमाने में बरेली यूनिट लांचिंग की तैयारियां शुरू हुई। प्रेस और आफिस का उदघाटन मृणालजी ने अपने हाथों से किया। स्थानीय संपादक रखने से लेकर संपादकीय स्टाफ की नियुक्तियां भी उन्हीं की देखरेख में हुई। पर लांचिंग के वक्त मृणालजी नहीं थीं। उनके पद पर शशि शेखर आ गए। सो, शशि शेखर की देखरेख में बरेली यूनिट की लांचिंग का कार्यक्रम कल संपन्न हुआ। लेकिन दुख की बात तो यह कि लांचिंग समारोह में मृणालजी का कोई नामलेवा तक नहीं था।

बरेली के बाजार में कल से हिंदुस्तान की जयकार

हिंदुस्तान, बरेली कल लांच हो जाएगा। बरेली के एक्जीक्यूटिव क्लब में आज शाम चार बजे लांचिंग पार्टी का आयोजन किया गया है। पार्टी में बरेली शहर के गणमान्य लोगों को बुलाया गया है। प्रधान संपादक शशि शेखर बरेली पहुंच चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक सिर्फ बरेली शहर में ही हिंदुस्तान प्रबंधन ने लांचिंग से पहले तक 50 हजार कापियों की साल भर के लिए एडवांस बुकिंग कर ली है।

बरेली में जागरण और उजाला ने दाम घटाए

मनीष ने ज्वाइन किया : शशि शेखर ने बैठक ली : दैनिक जागरण, लखनऊ के चीफ रिपोर्टर मनीष श्रीवास्तव ने खुद दैनिक जागरण, भागलपुर ट्रांसफर किए जाने के बाद संस्थान को बाय-बाय बोल दिया है। उन्होंने नई पारी हिंदुस्तान, बरेली से शुरू की है। उन्होंने यहां चीफ सब एडिटर के रूप में ज्वाइन किया है। इस बीच, हिंदुस्तान के बरेली में लांच किए जाने की तैयारियों को देखते हुए दैनिक जागरण और अमर उजाला, दोनों अखबारों के प्रबंधन ने बरेली में अखबार के दाम कम कर दिए हैं। ये दोनों अखबार संडे और सैटरडे को चार रुपये में बिकते थे। अब इनका दाम दो रुपये हो गया है।

एचटी ग्रुप आगरा में प्रिंटिंग मशीन लगा रहा

एचटी ग्रुप अब आगरा में भी अपनी मशीन लगाने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए आगरा में दिल्ली हाइवे पर शास्त्रीपुरम को जाने वाले फ्लाई ओवर के पास अत्याधुनिक प्रिंटिंग प्लांट की स्थापना का काम शुरू हो गया है। कुछ ही दिनों में हिंदुस्तान और एचटी लाइव का यहीं से छपने लगेगा। प्रिंटिंग प्लांट की स्थापना के लिए कल भूमि पूजन हुआ। हवन-पूजन मंत्रोच्चार और धार्मिक अनुष्ठान के साथ हए। भूमि पूजन के मौके पर हिंदुस्तान आगरा संस्करण के जनरल मैनेजर नटराज सी और डिप्टी रेजीडेंट एडिटर दिनेश पाठक सहित स्टाफ के कई लोग मौजूद थे।

बरेली से हिंदुस्तान का प्रकाशन अतिशीघ्र

हिंदुस्तान के प्रस्तावित बरेली संस्करण की प्रेस का उदघाटन करतीं हिंदुस्तान की प्रमुख संपादक मृणाल पांडे।प्रेस और आफिस का उदघाटन : दैनिक ‘हिन्दुस्तान’ के बरेली संस्करण का प्रकाशन शीघ्र शुरू होने जा रहा है। ‘हिन्दुस्तान’ की प्रमुख संपादक मृणाल पांडे ने यहा रामपुर रोड स्थित अत्याधुनिक सुविधाओं वाले प्रेस और कार्यालय का उदघाटन किया। इस अवसर पर बरेली की टीम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ‘हिन्दुस्तान’ ने अब तक रचनात्मक पत्रकारिता का जो अध्याय रचा है, बरेली संस्करण उसमें नए पन्ने जोड़ेगा। ‘हिन्दुस्तान’ यूपी में लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, इलाहाबाद, आगरा, मेरठ से प्रकाशित हो रहा है। 

उजाला से पांच, जागरण से चार का इस्तीफा

सभी ने हिंदुस्तान, बरेली के साथ शुरू की नई पारी : दैनिक हिंदुस्तान के नए लांच होने वाले बरेली संस्करण में कई पत्रकारों के ज्वाइन करने की खबर है। ज्यादातर पत्रकार दैनिक जागरण और अमर उजाला से तोड़ कर लाए गए हैं। चीफ कापी एडिटर के रूप में प्रकाश भट्ट ने ज्वाइन किया है। वे फिलहाल अमर उजाला, हल्द्वानी में नंबर दो की हैसियत में काम कर रहे थे। प्रकाश भट्ट अमर उजाला, बरेली में भी काफी समय तक सेवाएं दे चुके हैं। जब हल्द्वानी यूनिट शुरू की गई थी तो उनको वहां भेजा गया था और तबसे वे वहीं पर थे। 

सुयाल हिंदुस्तान बरेली के एनई, उमराव भी जुड़े

दैनिक हिंदुस्तान के बरेली संस्करण की लांचिंग की तैयारियां तेज हो चुकी हैं। अमर उजाला, बरेली में पिछले एक दशक से कार्यरत योगेश्वर दत्त सुयाल ने न्यूज एडिटर के रूप में हिंदुस्तान, बरेली ज्वाइन कर लिया है। स्थानीय संपादक के रूप में अनिल भास्कर पहले ही हिंदुस्तान ज्वाइन कर चुके हैं। न्यूज एडिटर योगेश्वर जेएनयू से पढ़े हैं। वे दैनिक जागरण को भी सेवाएं दे चुके हैं। पिछले कई वर्षों से अमर उजाला, बरेली में जमे हुए थे। वे अमर उजाला के लिए मुरादाबाद में भी काम कर चुके हैं।

अनिल भास्कर ने दैनिक हिंदुस्तान को बनाया ठिकाना

सहारा ग्रुप से पिछले दिनों कार्यमुक्त हुए वरिष्ठ पत्रकार अनिल भास्कर ने ‘अल्प विराम – अल्प आराम’ के बाद एक बार फिर मुख्य धारा की मीडिया में धमाकेदार तरीके से वापसी कर नई पारी शुरू कर दी है। उन्होंने एचटी मीडिया समूह को ज्वाइन किया है। वे इस ग्रुप के हिंदी अखबार दैनिक हिंदुस्तान के लिए काम करेंगे। उनका पद क्या होगा और काम क्या देखेंगे, यह तय होना बाकी है। अनिल भास्कर फिलहाल दैनिक हिंदुस्तान के लखनऊ आफिस में बैठने लगे हैं। एचटी मीडिया से जुड़े सूत्रों का कहना है कि दैनिक हिंदुस्तान में कई वरिष्ठ पदों पर नियुक्तियों के लिए पिछले दिनों अखबार में विज्ञापन निकला था। इसी क्रम में कई लोगों के इंटरव्यू हुए जिनमें अनिल भास्कर भी शामिल हैं।