रीयल इस्टेट की चोर कंपनी ‘आम्रपाली’ के खिलाफ भड़ास संपादक यशवंत ने दर्ज कराई कंप्लेन, जांच कमिश्नर को

Yashwant Singh : आज सुबह मुख्यमंत्री कार्यालय से फोन आया और आम्रपाली द्वारा किए गए मेरे साथ फ्रॉड को लेकर जानकारी ली गयी। सभी विकल्पों पर चर्च की गई। यूपी cm के जनसुनवाई पोर्टल पर कम्प्लेन दर्ज करा दी है। नोएडा चूंकि मेरठ मण्डल में आता है इसलिए जांच ईमानदार ias अधिकारी और मेरठ के कमिश्नर प्रभात कुमार को दी गयी है। अब आम्रपाली के अनिल शर्मा और शिवा प्रिया के खिलाफ एफआईआर की तैयारी है। उसके बाद ”ऑक्युपाई आम्रपाली बिल्डर्स हाउस” अभियान।

ज्ञात हो कि मैंने आम्रपाली वालों से नोएडा वेस्ट के लीजर पार्क प्रोजेक्ट में बहुत पहले एक फ्लैट बुक कराया था। पैसा भी जैसे तैसे भर दिए थे। लेकिन आठ साल बीतने के बाद भी कहीं कुछ नहीं दिख-मिल रहा है। ढेर सारे निवेशक आंदोलन, धरना, प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन शासन-प्रशासन कान में तेल डालकर बैठा है। ऐसा लगता है अनिल शर्मा और उसकी कंपनी आम्रपाली ने सबको खरीद लिया है, चिटफंडियों की तरह। इसी वजह से हर ओर चुप्पी है और निवेशक रो रहे हैं।

भड़ास के संस्थापक और संपादक यशवंत सिंह की एफबी वॉल से.

इसे भी पढ़ें…

आम्रपाली बिल्डर अनिल शर्मा को ‘एड्स’ होने की खबर!

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *