दैनिक भास्कर के मालिकों पर दुष्कर्म का आरोप

नई दिल्ली। दैनिक भास्कर समाचार पत्र के मालिक सुधीर अग्रवाल समेत भास्कर के कई वरिष्ठ पदाधिकारियों पर दुष्कर्म का आरोप लगा है। आरोप लगाने वाली महिला दैनिक भास्कर के कर्मचारी की पत्नी हैं। महिला का आरोप है कि आरोपियों ने उसकी नाबालिग बेटी के साथ भी दुष्कर्म किया है। भोपाल में रहने वाली एक महिला ने स्थानीय थाने से लेकर मुख्यमंत्री सचिवालय तक अपने साथ हुई घटना की शिकायत की। लेकिन पुलिस ने कार्रवाई करने के बजाए उसे भोपाल के मेंटल हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया।

अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद महिला अपने मायके रायपुर चली गई। महिला ने वहां भी शिकायत की लेकिन कार्यवाही नहीं हुई। अंतत:  उसने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। सुप्रीम कोर्ट ने नवम्बर 2017 को इस मामले में मध्य प्रदेश सरकार और वहां के डीजीपी, छत्तीसगढ़ सरकार और वहां के डीजीपी को नोटिस जारी कर 4 जनवरी 2018 तक जवाब मांगा था। 4 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति आरके अग्रवाल और न्यायमूर्ति अभय मनोहर सप्रे की बेंच में हुई। इस मामले की अगली अगली सुनवाई 2 फरवरी 2018 को नियत की गई है।

महिला का आरोप है कि भास्कर में कार्यरत एक वरिष्ठ कर्मी अपने साथ मालिकों समेत कई लोगों को ले आया। उसने नशीला पदार्थ सुंघा दिया। उसके बाद सभी ने बलात्कार किया। पति ने नौकरी जाने के डर से इसकी शिकायत नहीं करने दी। दूसरी बार आरोपियों ने उसकी बेटी का भी बलात्कार किया। इस मामले में फरियादी ने भोपाल के एक थाने से लेकर सीएसपी, एसपी, महिला थाना, क्राइम ब्रांच, डीजीपी, मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री को शिकायत की लेकिन आज तक आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। सुप्रीम कोर्ट में यह मामला जाने के बाद हर कहीं यह प्रकरण चर्चा का विषय बना हुआ है लेकिन एक बड़े मीडिया घराने के मालिकों का नाम आने से कोई भी मीडिया हाउस इस खबर को प्रकाशित नहीं कर रहा है।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *