योगी ठाकुर के जीतते ही यादव चैनल मालिक की घेराबंदी, देखें वीडियो

अखिलेश यादव सत्ता में नहीं आए, इसका साइड इफेक्ट मीडिया में भी देखने को मिल रहा है. एक नए चैनल सी टेन न्यूज में ब्राह्मणों ने मिलकर मनीष यादव का तख्तापलट करने की तैयारी उसी रात कर दी जिस रात चुनाव नतीजे आए. यही नहीं, मनीष यादव को फंसाने के लिए सीटेन न्यूज के ठीक उपर खुलने वाले एक नए चैनल का सामान उठवाकर सीटेन के आफिस में रखवा दिया. कोशिश थी कि मनीष पर सामान उठवाने का आरोप लगे और ये जेल जाए.

पर हुआ उलटा. सीसीटीवी कैमरा का जो फेक बटन था, उसे इन लोगों ने आफ किया पर असली जो बटन था, वो आन रहा. इससे सारी करतूत कैमरे में आ गई. मनीष यादव ने थाने में तहरीर दी. एफआईआर दर्ज हो गई. पकड़े गए दो लोगों ने साजिश कर्ता आरोपियों के नाम लिए. विवेक पाठक, नीरज मिश्रा, बृजेश निगम. पकड़े गए आरोपियों द्वारा साजिशकर्ताओं के नाम लेने का वीडियो रिकार्ड हुआ. ये रिकार्डिंग पुलिस ने की.

साजिश रचने के आरोपी विवेक और नीरज ने भड़ास से संपर्क स्थापित किया और एक आडियो व दो वीडियो उपलब्ध कराए. साथ ही अपना लिखित पक्ष भी भेजा. सबको प्रकाशित प्रसारित किया जा रहा है ताकि पूरा सच सामने आए. पहले देखिए पुलिस द्वारा रिकार्ड किया गया वीडियो. उसके बाद विवेक पाठक व नीरज मिश्रा द्वारा मुहैया कराए गए आडियो व वीडियो सुनें देखें. सी टेन चैनल के डायरेक्ट मनीष यादव का कहना है कि पुलिस ने आरोपियों से जो पूछताछ व रिकार्डिंग की है, वो प्रामाणिक है. बाकी ये लोग खुद जो आडियो वीडियो बनाए हैं, ये सब प्लांटेड है.

C10 news Manish Yadav Subhash Sharma Vivad Video

संबंधित खबरें-

C10 न्यूज़ चैनल के मालिकों में झगड़ा शुरू, बात पुलिस तक पहुँच गई

आरोपी विवेक पाठक और नीरज मिश्रा ने भड़ास से पूछा- ‘चोरी की घटना में मेरा नाम भी बताया गया है, आपके पास क्या प्रमाण है?’



भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



One comment on “योगी ठाकुर के जीतते ही यादव चैनल मालिक की घेराबंदी, देखें वीडियो”

  • मनोज says:

    आपने एम्प्लाई की सैलरी नही देने का बहाने हैं की झगड़ा हो रहा हैं 3 महीने हो गया सैलरी नही दी ,आज सब को दिख रही है कि झगड़ा हो गया है 3 महीने से लोगो की सैलरी रोको दी है भड़ास मीडिया को इसकी आवाज़ उठानी चाहिए न की झगड़ा हो ने की ,

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.