तिरंगा पर एनआईटी श्रीनगर के छात्रों को प्रोफेसरों की धमकी!

आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने एनआईटी, श्रीनगर में पढने वाले जम्मू-कश्मीर के बाहर के छात्रों द्वारा उन्हें बताये गए तथ्यों के आधार पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह और मानव संसाधन मंत्री स्मृति ईरानी को पत्र लिख कर मामले की गंभीरता के मद्देनज़र तत्काल समस्त आवश्यक कार्यवाही करने की मांग की है.

इन छात्रों ने अमिताभ से संपर्क कर बताया कि एनआईटी में विवाद का मुख्य कारण वहां पढने वाले तृतीय वर्ष के छात्रों द्वारा कॉलेज गेट पर तिरंगा झंडा फहराना था जिसके बाद स्थानीय लोगों ने वह झंडा हटा कर पाकिस्तान का झंडा लगा दिया जिसपर यह विवाद हुआ.

इन छात्रों ने कहा कि स्थानीय पुलिस ने भी तिरंगा झंडा हटाने वालों का साथ दिया और अब कॉलेज के प्रोफेसरों ने भी उनका अकादमिक कैरियर ख़राब करने की धमकी दी है. अमिताभ ने इस बातचीत से इन दोनों मंत्रियों को अवगत कराते हुए इस पर तत्काल व्यक्तिगत ध्यान देने की बात कही है.

संलग्न- एनआईटी के छात्रों से हुई बातचीत के प्रमुख अंश…

एनआईटी के छात्रों से वहां तिरंगा झंडा फहराने को हुए विवाद के सम्बन्ध में हुई बातचीत के प्रमुख अंश—

अमिताभ- हाँ, बताओ क्या बात है?

छात्र- परसों बहुत पटाखे फोड़े जब इंडिया हार गया. कल सुबह कॉलेज के मेन गेट पर पाकिस्तान का फ्लैग लगा दिया. थर्ड इयर सीनियर ने फ्लैग हटाया और इंडिया का फ्लैग लगा दिया वहां पर. यहाँ 15 अगस्त और 26 जनवरी को भी ये लोग इंडिया का फ्लैग नहीं लगाते. 24 साल में पहली बार ऐसा हुआ कि इंडिया का फ्लैग लगाया गया. रोड के सामने की तरफ बस्ती है, वहां से लोकल लोग आये और झगडा शुरू कर दिया और यहाँ थर्ड इयर के लड़कों ने भी झगडा किया. तो फिर यहाँ पुलिस आ गयी. इंडिया का फ्लैग तो थर्ड इयर वालों ने अपने हाथ में ले लिया, उन्होंने वापस पाकिस्तान का फ्लैग लगा दिया, लोकल लड़कों ने और पुलिस ने उनको नहीं रोका, पुलिस ने टियर गैस हम पर छोड़े, एयरफायर हम कर किये, वे लोग आराम से खड़े रहे उस तरफ, फाउंटेन के आस-पास सारे लोकल लडके, और हमें भागना पड़ा और हम लोगों को होस्टल में बंद कर दिया और कल रात को, शाम को ही हमें मेसेज दिया कि सारे हॉस्टल 48 ऑवर में वैकेट कर दो और पुलिस ने पूरी तरह उनका साथ दिया. मीडिया ने, लोकल मीडिया ने यहाँ पर यह खबर फैलाई है कि हम लोगों ने उनको मारा. यहाँ की पूरी फैकल्टी, एक डीन को छोड़ कर लोकल हैं, उन लोगों ने कहा कि हमारे पूरे बैच की सप्लीमेंटरी लगेगी- मैथ्स में, फिजिक्स में, हमें रोक के दिखा दो, तुम्हारी डिग्री आठ साल में मिलेगी और ये लोग बड़ा थ्रेटेन कर रहे हैं.

NIT Srinagar students threatened by faculty for hoisting tricolour

IPS Officer Amitabh Thakur today wrote a letter to Home Minister Rajnath Singh and Human Resource Minister Smriti Irani presenting facts stated to him by the students of NIT Srinagar belonging to outside Jammu and Kashmir, requesting them to take all necessary measures in consonance with the seriousness of the matter. These students contacted Amitabh saying that the true reason for NIT clash was hoisting of National flag at the College gate by the Third year students, after which the local persons removed the tricolor hoisting the Pakistani flag, leading to altercation. The students said even the local police took sides with those removing the tricolor and now the College faculty members are threatening these students of ruining their academic career. Intimating the ministers of this conversation, Amitabh has requested them to give their personal attention to the issue.

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं
  • भड़ास तक कोई भी खबर पहुंचाने के लिए इस मेल का इस्तेमाल करें- bhadas4media@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *